वजन घटाने के लिए करें सूखे आलू बुखारे का इस्‍तेमाल

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 23, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सूखा आलू बुखारा पौष्टिकता से भरपूर होता हैं।
  • रोजाना आधा कप सूखा आलू बुखारा खाना चाहिए।
  • इसमें फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है।
  • आलू बुखारे का ज्यादा सेवन भी ठीक नहीं है।

संस्कृत में एक श्‍लोक है जिसका अर्थ है कि कोई भी काम उद्यम से ही सिद्ध होता है, केवल मन की इच्छा से नहीं। ऐसे ही जैसे सोये हुए सिंह के मुख में हिरण स्वयं प्रवेश नहीं करता- वजन घटाने के संदर्भ में भी यह बात सटीक बैठती है। आपका वजन सिर्फ आपके चाहने से ही कम नहीं हो जाएगा, इसके लिए आपको प्रयास करने होंगे। और स्‍वास्‍थ्‍यवर्धक आहार लेना उसी प्रयास का एक हिस्‍सा है।

Prunes in a bowl

 सूखा हुआ आलू बुखारा (प्रून) भी वजन घटाने की आपकी जंग का एक धारदार हथियार है। यह मीठा फल घुलनशील फाइबर का एक अच्छा स्रोत होता है।


फाइबर का उच्‍च स्रोत
वेबसाइट वर्ल्‍डस हेल्थीएस्ट फूड के मुताबिक, करीब 40 ग्राम सूखा आलू बुखारा आपके रोजाना के फाइबर की जरूरत का 10 से 15 फीसदी हिस्सा पूरा कर देता है। यह भोजन को पेट में अधिक देर तक रोक कर रखता है और ग्लूकोज के अवषोशण की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। इससे आप देर तक भूख नहीं लगती। इसके साथ ही इससे आपकी पाचन-क्रिया भी ठीक रहती है जिससे आपको वजन कम करने में मदद मिलती है।

पौष्टिकता से भरपूर
नॉर्थ वेस्टर्न विश्‍वविद्यालय के एक लेख में कहा गया है कि अगर आप आपके द्वारा ली जाने वाले कैलोरी की मात्रा घटाकर 1500 कैलोरी प्रतिदिन तक ले आते हैं, तो आपके वजन कम करने की सम्भावना काफी बढ़ जाती है। यूएसडीए डायटरी गाइडलाइंस के मुताबिक, रोजाना आधा कप सूखा आलू बुखारा खाने से आपकी रोज के फलों की 75 फीसदी जरूरत पूरी हो जाती है।



कैसे करें सूखे आलू बुखारे का इस्तेमाल

आप इस सूखे आलू बुखारे को स्‍नैक्‍स के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप इसे नट्स, किशमिश और साबुत अनाज के साथ खाने से आपको बहुत लाभ होता है। इसमें आपको पर्याप्‍त मात्रा में वसा और फाइबर मिल जाता है। आप इसे दही, दुबला मांस (ऐसा मांस जिसकी ऊपरी परत उतार दी गयी हो) और आधा कप लो-कैलोरी आइसक्रीम के साथ भी खा सकते हैं।

वजन घटाने के लिए जूस

सूखे आलू बुखारे का जूस वजन घटाने में बहुत मददगार हो सकता है। लेकिन, 4 आउंस यानी करीब 120 मिली से ज्‍यादा जूस एक बार में पीने से आपकी सेहत पर विपरीत प्रभाव भी पड़ सकता है। एक बार जब वजन कम हो जाता है, तो शरीर धीमे प्रतिक्रिया करने लगता है। इसके बाद आपका वजन बढ़ भी सकता है क्‍योंकि शरीर अपनी कार्यक्षमता हासिल करने का प्रयास करने लगता है। कई बार यह जूस कॉलन और आंतों के लिए भी परेशानी पैदा कर सकती है।

याद रखें

अगर आप प्रून को अपने भोजन में शामिल कर रहे हैं, तो इस बात का पूरा खयाल रखें कि इसकी मात्रा अधिक न हो। यह आपके लिए तभी कारगर साबित हो सकता है जब इसके साथ आप पर्याप्‍त व्‍यायाम करें और अपने आहार को संतुलित रखें।

 

Read More Articles on Weight Loss in Hindi

 

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES30 Votes 7942 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर