तनाव के स्‍तर को कम करने में मददगार है चुंबन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 19, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • चुंबन करने से बढ़ती है आपकी रोग प्रतिरक्षा प्रणाली।
  • एक मिनट किस करने से कम होती है दो से तीन कैलोरी।
  • किस करने से मजबूत होती हैं चेहरे की मांसपेशियां।
  • कैविटी और एलर्जी की पेरशानी से भी बचाता है चुंबन।

चुंबन या 'किस' प्रेमानुभूति का प्रतीक है। प्रेम सागर में डूबे दो लोग अपनी भावनाओं को किस के जरिए अभिव्‍यक्‍त करते हैं। लेकिन, क्या आपको इस बात का अहसास है कि चुंबन न केवल प्रेमाभिव्‍यक्ति का माध्‍यम है, बल्कि स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी यह बहुत फायदेमंद होता है।

benefits of kissingचुंबन से बढ़ती है रोग प्रतिरक्षा प्रणाली

जर्नल मेडिकल हायपोथेसिस में प्रकाशित एक अध्‍ययन के अनुसार चुंबन से महिलाओं की रोग प्रतिरक्षा प्रणाली में इजाफा होता है, जिससे वे साइटोमेगालोवायरस से बची रह सकती हैं। साइटोमेगालोवायरस मुंह से मुंह के संपर्क में आने से फैलता है। अगर गर्भावस्‍था के दौरान महिला के शरीर में यह वायरस हो तो, नवजात में अंधापन और अन्‍य कई जन्‍मजात रोग हो सकते हैं। वरना, आमतौर पर व्‍यस्‍कों के लिए यह वायरस नुकसानदेह नहीं होता। किसिंग को काफी लंबे समय से बग्‍स को एक दूसरे के शरीर में पहुंचाने का माध्‍यम माना जाता है, जिससे शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली अधिक सक्षम होती है।

किसिंग से कम होती है कैलोरी

अलग-अलग रिपोर्टों के मुताबिक किसिंग कैलोरी कम करने में भी मददगार होती है। एक मिनट तक किस करने से आप दो से छह कैलोरी कम कर सकते हैं। इसमें ट्रेडमिल पर दौड़ने जितनी मेहनत नहीं लगती, लेकिन एक घंटे तक अगर कोई जोड़ा चुंबन का आनंद उठाता है, तो वह काफी कैलोरी खर्च कर सकता है। अब भले ही आपने इस बारे में न सोचा हो, लेकिन किसिंग का यह फायदा तो है ही।

चेहरे की मांसपेशियां होती हैं मजबूत

बेशक, जब बात शरीर को सही आकार में लाने की हो, तो सबसे पहले जांघों और पेट के आसपास जमा अतिरिक्‍त चर्बी को हटाने की कोशिश की जाती है। लेकिन, इस पूरी प्रक्रिया में अपने चेहरे को नहीं भूलना चाहिए। शोधकर्ताओं ने पाया है कि किसिंग और स्‍मूचिंग करते समय आप चेहरे की 30 मांसपेशियों का इस्‍तेमाल करते हैं। इससे आपके गाल सही आकार में रहते हैं।

तनाव मुक्‍त रखती है किसिंग

वैज्ञानिक रिपोर्टों के मुताबिक किसिंग से आपके शरीर में ऑक्सटोसिन नामक हार्मोन का स्राव होता है। यह शरीर को तनाव मुक्‍त रखने में मदद करने वाला प्राकृतिक हार्मोन है। इसके साथ ही किसिंग से एंडोरफिन्‍स का भी स्‍तर बढ़ जाता है। इस हार्मोन से आप अपने बारे में अच्‍छा महसूस करते हैं। साथ ही किसिंग से डोपामाइन का स्‍तर भी शरीर में बढ़ जाता है, जिससे रोमांटिक संबंधों में मजबूती आती है।

कैविटी से बचाए

अगर आप अपने दांतों को स्‍वस्‍थ बनाए रखना चाहते हैं, तो‍ किसिंग इसके लिए कारगर उपाय है। किसिंग से साल्विया का उत्‍पादन अधिक होता है। यह साल्विया दांतों में कैविटी, सड़न और प्‍लार्क पैदा करने वाले बैक्‍टीरिया को दूर करता है।

एलर्जी से बचाए

किसिंग से रक्‍त में एलजीई एंटीबॉडीज का स्‍तर कम होता है। यह एंटीबॉडीज हिस्‍टामाइन का स्राव करते हैं। यह हार्मोन एलर्जी जैसे छींकना और आंखों में पानी आने जैसी समस्‍याओं का कारण होता है। तो, किसिंग आपको इन सब तकलीफों से बचा सकती है।


दिल के लिए फायदेमंद

किसिंग रक्‍तचाप और कोलेस्‍ट्रोल को नियंत्रित रखती है। एक शोध के मुताबिक अपने पार्टनर को नियमित रूप से किस करने वाले लोगों में तनाव कम देखा जाता है। साथ ही वे अपने रिश्‍ते को लेकर अधिक संतुष्‍ट होते हैं, उनके शरीर में कोलेस्‍ट्रोल की मात्रा भी नियंत्रित रहती है। तनाव हृदय रोग के लिए काफी हद तक जिम्‍मेदार होता है। इसलिए किसिंग कई प्रकार से आपके दिल को स्‍वस्‍थ रख आपको कार्डियोवस्‍कुलर बीमारियों से बचाने में मदद करती है।

दर्द निवारक भी है किसिंग

दिनभर काम करने के बाद आप पीठ दर्द की शिकायत से जूझ रहे हैं, तो पेन किलर लेने की बजाय आप अपने साथी के दो चुंबन ले सकते हैं। यह किसी भी पेन किलर से ज्‍यादा फायदेमंद है। और इससे दवाओं के जरिये होने वाले प्रतिगामी प्रभावों को भी नहीं झेलना पड़ता।

 

 

 

 

 

Read More Articles on Relationship in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES188 Votes 4845 Views 1 Comment