महिलाओं को स्‍परमिडिसिस के बारे में पता होनी चाहिए ये बातें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 09, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • स्परमिसिडिस एक तरह की महिला गर्भनिरोधक गोली है।
  • इसका इस्तेमाल महिलाएं संभोग से 10 मिनट पहले करती हैं।
  • ये फोम जैली, फिल्म या अन्य ठोस गोलियों के रुप में आती हैं।
  • एक स्‍परमिडिसिस का प्रयोग एक बार के लिए ही होता है।

कई बार पुरुष संभोग के दौरान कंडोम पहनने से मना कर देते हैं या कतराते हैं। ऐसा भारतीय समाज भी अधिक होता है। अगर आपका भी पार्टनर ऐसा है तो उसे समझाइए। अगर आपके समझाने से भी नहीं समझ रहा है तो चैताली की तरह स्परमिसिडिस का उपयोग करें। स्परमिसिडिस एक तरह का महिला गर्भनिरोधक है। वैसे तो महिलाओं के लिए मार्केट में कई तरह के गर्भनिरोधक मिलते हैं लकिन फिर भी महिलाएं स्परमिसिडिस का अधिक उपयोग करती हैं।

स्परमिसिडिस का इस्तेमाल संभोग से पहले होता है और इसमें गर्भधारण करने की संभावना अन्य गर्भनिरोधक की तुलना में काफी कम होते हैं।

 

महिलाओं के अन्य गर्भनिरोधक

महिलाओं के लिए कई तरह के गर्भनिरोधक हैं। जैसे कि,

  • जनाना कंडोम
  • स्परमिसिडिस
  • मौखिक गोलियां
  • इंजैक्शन द्वारा दिए जाने वाले गर्भ निरोधक
  • इन्टरा युटरीन डिवाइज
  • ट्यूब को बन्द करना (ट्यूबक्टोमी)

 

स्परमिसिडिस


स्परमिसिडिस क्या है?

स्परमिसिडिस एक तरह का गर्भनिरोधक है जो महिलाओं के बीच में अधाकाधिक पसंद किया जाता है। ये एक तरह का रासायनिक पदार्थ है जो संभोग से पहले महिलाओं की योनि में डाला जाता है। ये रासायनिक पदार्थ संभोग के दौरान महिलाओं के शरीर में प्रवेश करने वाले वीर्य के जीवाणुओं को मार देता है। इससे स्पर्म शरीर में जाते ही स्परमिसिडिस के संपर्क में आकर निष्क्रिय हो जाते हैं। जिससे महिलाएं गर्भधारण नहीं कर पाती हैं।

 

कैसे काम करता है?

  • ये क्रीम, फिल्म, फोम जैली और अन्य ठोस व तरल गोलियों के रुप में आते हैं जो योनि के अंदर डालने पर घुल जाते हैं।
  • ये 80-85 % तक प्रभावशाली होते हैं।
  • यदि इन्हें कंडोम या किसी और मेकैनेकिल अवरोधक साधनों के साथ इस्तमाल किए जाएं तो ये ज्यादा प्रभावशाली होते हैं।

 

फायदा-

ये स्पर्म को खत्म कर देते हैं या निष्क्रिय बना देते हैं। जिससे कि महिलाएं फर्टिलाइज नहीं होती। 

 

किस तरह से करें उपयोग

  • स्परमिसिडिस के पैकेट पर लिखे निर्देशों को पहले अच्छी तरह से पढ़ें।
  • सामान्य तौर पर महिलाएं इसे पालथी मारकर या बैठकर इस्तेमाल करती हैं। दरअसल कुछ महिलाएं इसके निर्देशों को बिन पढ़े और समझे बैठकर अपनी योनी में डालने की कोशिश करती हैं।
  • इसके बजाय खड़ें होकर स्परमिसिडिस को हाथों में लेकर योनी में डालें।

 

कब इस्तेमाल करें

  • स्परमिसिडिस को संभोग करने से दस मिनट पहले योनि में डालना चाहिए जिससे कि ये घुल सके।
  • ये शरीर में डाले जाने के एक घंटे बाद तक प्रभावशाली रहती हैं।


नोट- एक बार स्परमिसिडिस डालकर दो-तीन बार संभोग ना करें। ये एक बार के लिए ही उपयोगी होता है। अगर आप एक बार से अधिक बार संभोग करें तो उतनी बार इसे अपनी योनि में डालें। एक बार की स्परमिसिडिस एक बार के संभोग के लिए ही होती है।

 

कुछ रोगों से मिलती है सुरक्षा

  • कई बार स्परमिसिडिस के बारे में ये सवाल भी किया जाता है कि ये सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिज़िज (एसटीडी) और एड्स जैसे रोगों से सुरक्षा प्रदान करते हैं कि नहीं? तो इसका जवाब है हां। स्परमिसिडिस इन रोगों से सुरक्षा प्रदान तो करते हैं लेकिन कुछ हद तक।
  • जबकि कुछ स्परमिसिडिस जैसे कि एनओएनओएक्सवाईएनओएल- 9 का एचआईवी के खतरे वाले गुदा पर कई बार प्रयोग करते हैं तो टिशू उत्तेजित हो जाते हैं सेक्सुअल ट्रांसमिटेड डिजिज के होने के खतरे बढ़ जाते हैं।

 

Read more articles on womens health in hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES18 Votes 4220 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर