गर्भावस्था में कमरदर्द के प्रकार

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 21, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

गर्भावस्था में गर्भवती महिला को कई उतार-चढ़ावों से गुजरना पड़ता है, ऐसे में कई बार कोई परेशानी गर्भावस्था के बाद तक भी रह जाती है। गर्भावस्था़ के दौरान होने वाले बदलावों के कारण और बढ़ते वजन से शरीर में दर्द की शिकायत भी होने लगती हैं। क्या आप जानतें हैं कि गर्भावस्था में कमरदर्द होना बहुत आम है।

back pain during pregnencyकमरदर्द के कारण गर्भावस्था में कई हो सकते हैं, इसीलिए कमरदर्द के प्रकार भी अलग-अलग होते हैं। कई बार गर्भावस्था के दौरान बढ़ता वजन भी कमरदर्द का कारण बन सकता हैं। आइए जानें गर्भावस्था में कमरदर्द के बारे में कुछ और बातें।

 

  • गर्भावस्था के दौरान बढ़ते वजन का असर मांसपेशियों और खासकर कमर की मांसपेशियों और रीढ़ की हड्डी पर पड़ता है।
  • हालांकि गर्भावस्था के दौरान कई बार कमर दर्द की मुख्य वजह शरीर में कैल्शियम, प्रोटीन और तमाम पौष्टिक तत्वों की कमी भी हो सकता है।
  • डॉक्टर गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला को हमेशा ही हेल्दी और पौष्टिक खाना खाने की सलाह देते हैं जिससे उनमें किसी तरह की कैल्शियम और प्रोटीन की कमी ना आएं।
  • गर्भावस्था के दौरान सक्रिय ना होने या फिर हल्के-फुल्के व्यायाम ना करने से भी कमरदर्द हो सकता है। इसीलिए बहुत अधिक वजन बढ़ने यानी गर्भावस्था के दौरान मोटापा बढ़ने पर वजन को नियंत्रि‍त करने के लिए व्यायाम करना बहुत जरूरी है।
  • बहुत सी महिलाएं ऐसी होती हैं जिनका अधिकतर काम झुककर होता है। यदि गर्भावस्था के दौरान भी महिलाएं झुककर अधिक काम करती हैं तो भी उनको कमर में दर्द हो सकता है। इसके लिए उन्हें चाहिए कि झुकने के बजाय सीधे बैठकर काम करें।
  • गर्भवती महिलाओं को चाहिए कि गर्भावस्था के दौरान बहुत लंबे समय तक एक साथ काम ना करें बल्कि बीच-बीच में आराम लें फिर चाहे तो वे आराम भी कर सकती हैं।
  • रात को सोते समय ध्यान रखें कि सूती के ढीले-ढाले कपड़े ही पहनें और यदि कमर में बहुत दर्द होता है तो डॉक्टर की परामर्श पर पतले, छोटे या गोल तकिए से कमर को सहारा देना चाहिए।
  • यदि आपको गर्भावस्था के दौरान कमर में बहुत अधिक दर्द रहता है तो आपको चाहिए कि आप बहुत अधिक देर खड़ी ना रहें या फिर बहुत काम ना करें बल्कि अधिक से अधिक आराम करें।
  • कमर में गर्भावस्था के दौरान अकसर दर्द रहें तो आपको कमर की सिकाई करनी चाहिए, इससे आपको बहुत आराम मिलेगा। आप चाहे तो कमर दर्द से निजात पाने के लिए अपने डॉक्टर से भी कंसल्ट करके कुछ दवाईयां ले सकती हैं या फिर आप कुछ ऐसे आसन सीख सकती हैं जिससे आपको कमरदर्द से निजात मिल सकें।
  • कुछ महिलाओं को गर्भावस्था से पहले भी कमरदर्द की शिकायत रहती है और गर्भावस्था के दौरान ये परेशानी और बढ़ जाती है, ऐसे में इन महिलाओं को चाहिए कि वे समय रहते ही अपने कमर दर्द का इलाज करवा लें या फिर अपने डॉक्टर के संपर्क में रहें।
  • गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को पीठ दर्द से बचाव करने के लिए जरूरी है कि वह अपनी अच्छी तरह से तेल से मालिश करें और पौष्टिक भोजन को प्रा‍थमिकता दें। इसी के साथ यदि वे हल्के -फुल्के व्यायाम करेंगी तो बहुत अच्छा रहेगा।
Write a Review
Is it Helpful Article?YES104 Votes 55842 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर