इन सात प्रमुख दवाओं का सेवन करने से बचें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 23, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • बिना चिकित्‍सक की सलाह के दवाओं का प्रयोग न करें।
  • कई दवाओं का प्रयोग करना आपके लिए है नुकसानदेह।
  • कई देशों ने इन दवाओं को पूरी त‍रह प्रतिबंधित किया है।
  • कैंसर, देखने में समस्‍या आदि हैं इनके साइड-इफेक्‍ट।

दवाओं को उपयोग करने से पहले एक बार चिकित्‍सक की सलाह अवश्‍य लेनी चाहिए, भले ही वे सामान्‍य एंटीबॉयटिक की दवायें ही क्‍यों न हों। क्‍योंकि इनके साइड-इफेक्‍ट बहुत ही खतरनाक हो सकते हैं।

विश्‍व बाजार में कई ऐसी दवायें हैं जिनके निर्माण और वितरण पर पूरी तरह से रोक लग चुकी हैं, लेकिन जानकारी के अभाव में भारतीय बाजार में वे दवायें अभी भी धड़ल्‍ले से बिक रही हैं। इन दवाओं का सेवन करने से कई प्रकार के साइड-इफेक्‍ट हो सकते हैं। इस लेख में उन प्रमुख 7 दवाओं के बारे में जानिये जिनका सेवन कभी नहीं करना चाहिए।

Seven Drugs do Not Use

फ्लूपेंथिक्‍सोल (Flupenthixole)

बाजार में यह डीनजिट, प्‍लेसिडा, फ्रैंक्सिट जैसे ब्रांडों के साथ मौजूद है। तनाव के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। इसे प्रयोग करने के बाद खुजली होती है और कई साइड इफेक्‍ट भी होते हैं जिसके कारण यह दवा डेनमार्क, ब्रिटेन, यूरोपियन देशों, कनाडा, जापान में इस पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा हुआ है।

 

एसीनापीन  (Asenapine)

आल्‍केपीन, डिफिनियम, वेलेनफ जैसे मशबूर ब्रांडों के साथ यह बाजार में उपलब्‍ध है। बाइपोलर डिसऑर्डर जैसी मानसिक स्थिति में इसका प्रयोग किया जाता है। इस दवा के प्रयोग के बाद बहुत ही खतरनाक साइड-इफेक्‍ट होते हैं, इसे खाने के बाद इस दवा को पचाना मुश्किल है, इस कारण से ही इस पर प्रतिबंध लगा है।

 

केटोसोनाजोल (Ketoconazole)

फंगल इंफेक्‍शन के लिए प्रयोग की जाने वाली यह दवा बाजार में फुंगीसाइड, फूनाजोल, नाइज्रल, फाइटोरल जैसे मशहूर ब्रांडों के साथ बाजार में मौजूद है। इस दवा के मात्र एक महीने तक उपयोग के बाद सिरोसिस जैसी खतरनाक लीवर की बीमारी हो सकती है।

Top Seven Drugs do Not Use

 

पायोग्लिटाजोन (Pioglitazone)

डायविस्‍टा, पायग्‍लार, पायोग्लिट, पायोज, पियोजोन जैसे मशहूर ब्रांडों के साथ बाजार में उपलब्‍ध यह दवा मधुमेह के इलाज के दौरान प्रयोग की जाती है। लेकिन यह बहुत ही खतरनाक है, क्‍योंकि इसके कारण ब्‍लैडर कैंसर हो सकता है, इसके अलावा दिल की विफलता का कारण भी बन सकती है। फ्रांस और जर्मनी में यह दवा प्रतिबंधित है।

 

कैल्सिटोनिन (Calcitonin)

ऑस्टियोपोरोसिस के लिए प्रयोग की जाने वाली यह दवा मायाकाल्सिक, जीकाल्सिट, काल्किनार, बोन्‍सपार जैसे मशहूर ब्रांडों के साथ बाजार में उपलब्‍ध है। यूरोपियन देशों और कनाडा में यह दवा प्रतिबंधित है क्‍योंकि इसके कारण कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी हो सकती है।

 

बुक्लिजीन (Buclizine)

लांगीफीन जैसे ब्रांड के साथ बाजार में उपलब्‍ध यह दवा बच्‍चों में भूख बढ़ाने के लिए प्रयोग की जाती है। बेल्जियम जैसे देश में प्रतिबंधित इस दवा के प्रयोग से आंखों की समस्‍या, पेशाब करने में परेशानी के अलाव मतिभ्रम की स्थिति आ सकती है।

 

ऑर्सीप्रीनालॉइन (Orciprenaline)

एलूपेंट नामक मशहूर ब्रांड के साथ बाजार में मौजूद यह दवा अस्‍थमा, सीओपीडी जैसी बीमारियों के उपचार के लिए प्रयोग की जाती है। ब्रिटेन में प्रतिबंधित इस दवा के प्रयोग से दिल की बीमारियों के होने की संभावना अधिक होती है।

 

Read More Articles on Alternative Treatment in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES51 Votes 4583 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर