बच्चों को जंक फूड्स से रखना है दूर तो इन बातों का रखें ख्याल

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 15, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • जंक फूड से ग्रोथ के लिए जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल पाते
  • जंक फूड की आदत बच्चों को बीमार बना रही है
  • रोज के खाने में वैरायटी रखना जरूरी है

स्वस्थ जीवन के लिए अच्छा और पौष्टिक खाना जरूरी होता है। लेकिन युवाओं की लाइफ स्टाइल में तेजी से बदलाव की वजह से जंक फूड का चलन बढ़ गया है। आजकल छोटे बच्चे भी जंक फूड के आदी हो रहे हैं। जंक फूड न सिर्फ बच्चों की सेहत के लिए बुरा है बल्कि इसकी वजह से बच्चे कम उम्र में ही कई गंभीर बीमारियों का शिकार बन रहे हैं। बच्चे अक्सर खाने-पीने में आनाकानी करते हैं। ऐसे में कई बार तो स्वयं माता-पिता ही बच्चों की आदत बिगाड़ देते हैं। लेकिन उन्हें समझना चाहिए कि ये बच्चों का ग्रोथ पीरियड होता है इसलिए उनके शरीर को कई पोषक तत्वों की जरूरत होती है। ये पोषण जंक फूड से उन्हें नहीं मिल पाता। बच्चों से जंक फूड्स की आदत छुड़ाने के लिए इन बातों का रखें ध्यान-

ब्रेकफास्ट हेल्दी और हैवी हो

बच्चे अगर सुबह ही भूखे रह जाते हैं तो थोड़ा-थोड़ा करके दिन भर में जरूरत से ज्यादा खा लेते हैं। इसलिए दिन की शुरुआत में ही उन्हें पेटभर हेल्दी नाश्ता दे दें, जिससे उन्हे बार-बार भूख न लगे। इसके लिए उन्हें नाश्ते में पोहा, पराठा, स्प्राउट्स, नट्स, ऑमलेट और जूस दे सकते हैं।

जंक फूड्स किचन में न रखें

कई बार हम बाजार में उपलब्ध जंक फूड्स को लाकर किचन में या फ्रीज में रख लेते हैं। वयस्क को तो ये समझ होती है कि उसे कब और कितना खाना चाहिए, जबकि बच्चों को इस बात की समझ नहीं होती। अगर जंक फूड उनकी नजर में रहेगा तो वो इसे बार-बार मांगेंगे और फिर आपके लिए उन्हें समझाना मुश्किल होगा।

बाजार की बजाय घर पर ही बनाएं

अगर आप हल्के-फुल्के नाश्ते के लिए बाजार से रेडी टू ईट फूड्स लाने के बजाय घर पर हेल्दी फूड आइटम बनाकर रख लेंगे, तो अच्छा रहेगा। भूख लगने पर इन्हें ही बच्चों को दें।

सजावट का रखें ध्यान

बच्चे अक्सर वही चीज मांगते हैं जो उन्हे देखने में आकर्षक और टेस्टी लगती है। बाजार के फूड प्रोडक्ट्स में काफी सजावट होती है इसलिए बच्चों के मन में तुरंत उस चीज को खाने का विचार आता है। अगर आप घर पर ही बने खाने और नाश्ते को अच्छे से सजाकर उनके सामने पेश करेंगे, तो बच्चे उन्हें भी आसानी से और बिना आनाकानी के खाएंगे। 

रोज के खानों में वैरायटी रखें

बच्चे एक ही चीज जल्दी-जल्दी खाते हैं तो बोर हो जाते हैं। इसलिए इस बात का ध्यान रखें कि आप किसी खाने को जल्दी-जल्दी रिपीट न करें। अगर आप कुछ नया नहीं बना सकते तो उन्हीं खानों में थोड़ा फेरबदल करके उन्हे नया टेस्ट और लुक दे सकते हैं। इससे बच्चों में खाने के प्रति रूचि बनी रहेगी। 

पूरे परिवार के साथ ही खाना खाएं

बच्चे अक्सर वही काम करते हैं जो वो बड़ों को करता देखते हैं। इसलिए अगर पूरा परिवार साथ में खाना खाता है, तो बच्चे भी बड़ों को देखकर खाने में दिलचस्पी लेते हैं। जबकि अकेले खाते समय खाने के बजाय बच्चों का दिमाग कई और कामों में लगा रहता है। इसलिए वो खानों का स्वाद लेने और पूरा खाने के बजाय थोड़ा बहुत खाकर ही बोर हो जाते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Parenting

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES881 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर