अपने वर्कआउट का ज्यादा से ज्यादा फायदा लेने के तरीके

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 28, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • जरूरी है कि आपको आपके वर्कआउट का पूरा फायदा मिले।
  • एक्सरसाइज से पहले एक हल्की डाइट लेनी जरूरी होता है।  
  • डाइट में 75 से 100 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट होना जरूरी है।
  • गर्भावस्था में महिलाओं को बहुत सेहतमंद डाइट की जरूरत होती है।

जब हम कोई कसरत करते हैं तो उसके पीछे हमारे शरीर की अलग-अलग जरूरतें होती हैं। कोई वजन घटाने के लिए वर्कआउट करता है तो कोई शरीर को मजबूत बनाने के लिए, किसी के वर्कआउट की वजह बीमारियों और मोटापे से खुद का बचाव करना होता है। लेकिन इसके लिये जरूरी है कि आपको आपके वर्कआउट का पूरा फायदा मिले। तो चलिये जानें कि एक्सरसाइज का पूरा फायदा कैसे लें। वर्कआउट तभी पूरा फायदा पहुंचाते हैं जब उसके 30 से 45 मिनट के भीतर कुछ बढ़िया डाइट ली जाए। लेकिन जिस तरह से अलग-अलग जरूरतों के लिए अलग-अलग वर्कआउट हैं, उसी तरह इनके साथ ली जाने वाली डाइट भी अलग-अलग होती है। डाइट का निर्धारण वर्कआउट के दौरान शरीर की जरूरतों को ध्यान में रखकर किया जाता है।

 

Workout in Hindi

 

कार्डियो एक्सरसाइज के साथ

जब हम सैर या जॉगिंग जैसी कार्डियो एक्सरसाइज करते तो उसके पहले एक हल्की डाइट लेनी जरूरी है जिससे शरीर का शुगर लेवेल संतुलित रहे। इस डाइट में 75 से 100 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट होना जरूरी है। बेहतर होगा वर्कआउट से पहले फलों का जूस पीएं। वर्कआउट के बाद केला, सेब, संतरा, गाजर, किवी जैसे फल या कोई एनर्जी ड्रिंक जरूर लें। दही, चॉकलेट मिल्क, उबले अंडे, मीट जैसी प्रोटीन से भरपूर डाइट आप वर्कआउट से थोड़ी देर पहले ले लें। वर्कआउट के बाद कार्बोहाइड्रेट की जरूरत शरीर को ज्यादा होती है इसलिए अंडे के सफेद भाग के साथ आलू या ओट्स के साथ चॉकलेट मिल्क का सेवन करें।

 

स्ट्रेंथ ट्रेनिंग एक्सरसाइज के साथ

अगर आप वर्कआउट के बेहद शौकीन हैं और फिटनेस बरकरार रखने के लिए हेवी एक्सरसाइज यानी स्ट्रेंथ ट्रेनिंग एक्सरसाइज करते हैं तो आपकी डाइट बहुत अलग होगी। ऐसे में आपकी डाइट में 75 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट और 25 प्रतिशत तक प्रोटीन होना बहुत जरूरी है। हेवी वेट लिफ्टिंग के तीस मिनट के भीतर कुछ खाना बहुत जरूरी है क्योंकि कार्बोहाइड्रेट मांसपेशियों में हुई ग्लाइकोजन की कमी को पूरा करता है। हां, यह जरूर ध्यान रखें कि आपकी कार्बोहाइड्रेट युक्त डाइट बहुत अधिक फैटी न हो। वर्कआउट के पहले केले, उबले अंडे का सफेद भाग, सोया, बेरी, चिकन सलाद, फलों का रस, नट्स, ऑलिव्स आदि ले सकते हैं जबकि वर्कआउट के बाद कार्बोहाइड्रेट की अधिकता वाली डाइट ले सकते हैं, मसलन चावल के साथ चिकन, अंडे का सफेद भाग, मछली या सफेद ब्रेड आदि।

 

Workout in Hindi

 

बच्चों के लिए वर्कआउट के लिये

वर्कआउट के बाद डाइट का निर्धारण इस तरह करें कि उसमें 45 से 65 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट हो, 10 से 20 प्रतिशत प्रोटीन और 20 से 30 प्रतिशत फैट्स। वर्कआउट से पहले बच्चों को मीट, मछली, फुल क्रीम दूध, फाइबर युक्त दाल व अंकुरित अनाज, टोफू, आलू, शकरकंद, अरबी आदि दे सकते हैं। बच्चों को सैच्युरेटेड फैट वाला भोजन या बहुत नमक वाला भोजन न दें।

प्रेगनेंट का वर्कआउट

गर्भावस्था में महिलाओं को बहुत सेहतमंद डाइट की जरूरत होती है। अगर इस दौरान वे वर्कआउट करती हैं तो उनकी डाइट पर ध्यान देना और भी जरूरी है। उनकी डाइट में हरी और पत्तेदार सब्जियां सबसे जरूरी हैं जैसे बंदगोभी, टिंडा, साग आदि। राजमा, मटर और चना रात में न लें। गुड़, घी, मक्खन के अलावा केला, आम, मेवे आदि का सेवन उनके लिए फायदेमंद है। भोजन में जरूरी है कि वे खिचड़ी, दलिया, पराठे, ढोकले आदि का सेवन करें। इस दौरान फ्रोजन फूड, पॉश्च्युराइज्ड फू़ड आदि से बचें।

 


Read More Articles On Exercise & Fitness in Hindi.

जब हम कोई कसरत करते हैं तो उसके पीछे हमारे शरीर की अलग-अलग जरूरतें होती हैं। कोई वजन घटाने के लिए वर्कआउट करता है तो कोई शरीर को

मजबूत बनाने के लिए, किसी के वर्कआउट की वजह बीमारियों और मोटापे से खुद का बचाव करना होता है। लेकिन इसके लिये जरूरी है कि आपको आपके

वर्कआउट का पूरा फायदा मिले। तो चलिये जानें कि एक्सरसाइज का पूरा फायदा कैसे लें।  


वर्कआउट तभी पूरा फायदा पहुंचाते हैं जब उसके 30 से 45 मिनट के भीतर कुछ बढ़िया डाइट ली जाए। लेकिन जिस तरह से अलग-अलग जरूरतों के लिए

अलग-अलग वर्कआउट हैं, उसी तरह इनके साथ ली जाने वाली डाइट भी अलग-अलग होती है। डाइट का निर्धारण वर्कआउट के दौरान शरीर की जरूरतों को

ध्यान में रखकर किया जाता है।


कार्डियो एक्सरसाइज के साथ
जब हम सैर या जॉगिंग जैसी कार्डियो एक्सरसाइज करते तो उसके पहले एक हल्की डाइट लेनी जरूरी है जिससे शरीर का शुगर लेवेल संतुलित रहे। इस

डाइट में 75 से 100 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट होना जरूरी है। बेहतर होगा वर्कआउट से पहले फलों का जूस पीएं। वर्कआउट के बाद केला, सेब, संतरा,

गाजर, किवी जैसे फल या कोई एनर्जी ड्रिंक जरूर लें। दही, चॉकलेट मिल्क, उबले अंडे, मीट जैसी प्रोटीन से भरपूर डाइट आप वर्कआउट से थोड़ी देर पहले

ले लें। वर्कआउट के बाद कार्बोहाइड्रेट की जरूरत शरीर को ज्यादा होती है इसलिए अंडे के सफेद भाग के साथ आलू या ओट्स के साथ चॉकलेट मिल्क का

सेवन करें।

स्ट्रेंथ ट्रेनिंग एक्सरसाइज के साथ
अगर आप वर्कआउट के बेहद शौकीन हैं और फिटनेस बरकरार रखने के लिए हेवी एक्सरसाइज यानी स्ट्रेंथ ट्रेनिंग एक्सरसाइज करते हैं तो आपकी डाइट

बहुत अलग होगी। ऐसे में आपकी डाइट में 75 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट और 25 प्रतिशत तक प्रोटीन होना बहुत जरूरी है। हेवी वेट लिफ्टिंग के तीस

मिनट के भीतर कुछ खाना बहुत जरूरी है क्योंकि कार्बोहाइड्रेट मांसपेशियों में हुई ग्लाइकोजन की कमी को पूरा करता है। हां, यह जरूर ध्यान रखें कि

आपकी कार्बोहाइड्रेट युक्त डाइट बहुत अधिक फैटी न हो। वर्कआउट के पहले केले, उबले अंडे का सफेद भाग, सोया, बेरी, चिकन सलाद, फलों का रस, नट्स,

ऑलिव्स आदि ले सकते हैं जबकि वर्कआउट के बाद कार्बोहाइड्रेट की अधिकता वाली डाइट ले सकते हैं, मसलन चावल के साथ चिकन, अंडे का सफेद भाग,

मछली या सफेद ब्रेड आदि।


बच्चों के लिए वर्कआउट के लिये
वर्कआउट के बाद डाइट का निर्धारण इस तरह करें कि उसमें 45 से 65 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट हो, 10 से 20 प्रतिशत प्रोटीन और 20 से 30 प्रतिशत

फैट्स। वर्कआउट से पहले बच्चों को मीट, मछली, फुल क्रीम दूध, फाइबर युक्त दाल व अंकुरित अनाज, टोफू, आलू, शकरकंद, अरबी आदि दे सकते हैं।

बच्चों को सैच्युरेटेड फैट वाला भोजन या बहुत नमक वाला भोजन न दें।


प्रेगनेंट का वर्कआउट
गर्भावस्था में महिलाओं को बहुत सेहतमंद डाइट की जरूरत होती है। अगर इस दौरान वे वर्कआउट करती हैं तो उनकी डाइट पर ध्यान देना और भी जरूरी

है। उनकी डाइट में हरी और पत्तेदार सब्जियां सबसे जरूरी हैं जैसे बंदगोभी, टिंडा, साग आदि। राजमा, मटर और चना रात में न लें। गुड़, घी, मक्खन के

अलावा केला, आम, मेवे आदि का सेवन उनके लिए फायदेमंद है। भोजन में जरूरी है कि वे खिचड़ी, दलिया, पराठे, ढोकले आदि का सेवन करें। इस दौरान

फ्रोजन फूड, पॉश्च्युराइज्ड फू़ड आदि से बचें।


Read More Articles On Exercise & Fitness in Hindi.
Write a Review
Is it Helpful Article?YES3 Votes 2398 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर