40 की उम्र में भी है व्यायाम बेहद ज़रूरी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 15, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • चलास साल की उम्र में फिट रहना बहुत जरुरी है।
  • यूनिवर्सिटी ऑफ रेनेस की रिसर्च ने किया समर्धन।
  • 40 ही नहीं 60 की उम्र में भी व्यायाम लाभदायक।
  • व्यायाम करने का अर्थ सिर्फ भारी करसरत ही नहीं।

क्‍या आप 40 की उम्र पार करने वाले हैं और इस बात से परेशान हैं कि आपकी फिटनेस दिन पर दिन खराब होती जा रही है? अक्सर लोग चालीस की उम्र आते-आते खुद को बुढ़ा मानना शुरू कर देते हैं और व्यायम नहीं करते। यह एक ऐसी उम्र होती है जिसमें शरीर ढलना शुरू होता है और खूबसूरती भी जाती रहती है। लेकिन 40 की उम्र में फिट रहना बहुत जरुरी है क्‍योंकि उम्र के इस पड़ाव में शरीर पर मोटापा बढने लगता है और पाचन तंत्र भी कमजोर हो जाता है। यह उम्र का वो पड़ाव है जिसमें आपको अपने शरीर पर सबसे ज्‍यादा ध्‍यान देने की ज़रूरत होती है। रोज समय पर ब्रेकफास्‍ट करना, नियमित एक्‍सरसाइज करना, खुद को सकारात्मक रखने जैसी आदतें आपको 40 की उम्र के बाद भी स्वस्थ और सुंदर बनाए रखती हैं। तो चलिए जानते हैं कि 40 की उम्र में एक्सरसाइज का क्या महत्व है।

 

Exercising At The Age Of Fourty

जब आप 40 साल की होने लगें तो एक्‍सरसाइज करना शुरु करना आपके लिए बहुत जरुरी है। इससे आप हमेशा फिट रहेंगे और आपको कोई बीमारी भी नहीं होंगी।

 

 

क्या कहता है शोध

यदि आप इस वजह से जिम की शुरुआत नहीं कर पा रहे हैं कि आपकी उम्र चालीस पार कर गई है, तो आप गलत हैं। हाल में हुए एक शोध से पता चला है कि चालीस की उम्र हो जाना जिम की शुरुआत करने के लिहाज से बहुत ज्यादा नहीं है और ज़रूरी भी है।

 

फ्रांस स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ रेनेस की रिसर्च यूनिट 'इंसर्म 1099' के डेविड मेटलोट ने बताया कि बहुत से व्यायाम का प्रभाव हृदय स्वास्थ्य पर होता है और यह इस बात पर कतई निर्भर नहीं करता है कि जिम की शुरुआत किस उम्र में की गई है। इस अध्ययन में 55 से 70 साल की उम्र के बीच के चालीस स्वस्थ लोगों को शामिल किया गया था। इस अध्ययन में उनके व्यायाम के प्रकार और तीव्रता के साथ-साथ इस बात का भी अध्ययन किया गया कि उन्होंने किस उम्र में जिम करना शुरु किया था। अध्ययनकर्ताओं ने उनके दिल की धड़कन, ग्राह्य ऑक्सीजन की मात्रा जैसे ज़रूरी स्वास्थ्य मानकों पर सभी प्रतिभागियों को परखा।

 

अध्ययन में पाया गया कि वे सभी लोग जो नियमित रूप से व्यायाम कर रहे थे, उनका स्वास्थ्य व्यायाम ना करने वाले प्रतिभागियों कि तुलना में बेहतर था। और यह भी पता चला कि उन पर व्यायाम शुरू करने की उम्र से कोई प्रभाव नहीं पड़ा। प्रतिभागियों में से कुछ ने 30 की उम्र से पहले जिम की शुरुआत की थी, जबकि कुछ ने 40 की उम्र के बाद जिम जाना शुरू किया था।

 

Exercising At The Age Of Fourty

 

 

बढ़ती उम्र में व्यायाम पर अन्य शोध

कुछ शोधकर्ताओं का मानना है कि 40 ही नहीं 60 की उम्र में भी व्यायाम शुरू करना ख़राब सेहत और डिमेंशिया से आपको बचा सकता है। ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार अध्ययनकर्ताओं ने 3,500 ऐसे स्वस्थ लोगों का सर्वेक्षण किया था जो या तो सेवानिवृत्त हो चुके थे या होने वाले थे। अध्ययन के अनुसार जिन लोगों ने व्यायाम शुरू किया, वे अपनी उम्र के दूसरे लोगों की अपेक्षा आठ वर्ष अधिक स्वस्थ बने रहे।

 

जिन लोगों ने 60 साल की आयु में व्यायाम शुरू किया, उन्हें रोज़ामर्रा के काम जैसे कपड़े धोने आदि में कम परेशानी हुई। 8 वर्षों तक इन लगों पर नज़र रखकर पता चला कि सर्वे में शामिल प्रतिभागियों में बास प्रतिशत लोगों को कोई बड़ी मानसिक या शारीरिक बीमारी नहीं थी। प्रतिभागियों के इस समूह में अधिकतर ऐसे लोग थे, जो हमेशा से व्यायाम करते रहे थे। इनके अलावा वे लोग भी थे, जिन्होंने इसकी शुरुआत बाद में की थी। इसमें ऐसे लोग भी थे शामिल थे, जिन्होंने कभी व्यायाम किया ही नहीं था।



शोधकर्ताओं का मानना है कि ताउम्र व्यायाम करना एक आदर्श स्थिति है, पर यदि आप देर से भी शुरू करते हैं, तो भी यह स्वास्थ्य के लिए फ़ायदेमंद ही होता है। व्यायाम करने का अर्थ सिर्फ जिम में भारी-भारी जम्बल उठआना ही नहीं होता, शारीरिक रूप से क्रियाशील रहना और हल्का-फुल्का व्यायम व जॉगिंग आदि भी आदर्श व्यायाम की श्रेणीं में ही आते हैं।



Read More Articles on Exercise & Fitness In Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES5 Votes 2225 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर