जानें टमी टक से जुड़ी कुछ बातें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 07, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पेट की बढ़ी चर्बी को कम करने के लिए कराते हैं टमी टक सर्जरी।
  • टमी टक एक तरह की सर्जरी है जिसे एब्डोमिनोप्लास्टी भी कहते हैं।
  • इस सर्जरी के दौरान एनिस्थिसिया देकर किया जाता है ऑपरेशन।
  • सर्जरी के बाद इससे कुछ नुकसान भी हैं, इसकी जानकारी भी कर लें।

जब हेल्दी डाइट और रेग्युलर एक्सरसाइज के बाद भी फ्लैट टमी लोगों नहीं मिलती है तो लोग एब्डोमिनोप्लास्टी की मदद लेते हैं। इसे आम भाषा में टमी टक कहते हैं। टमी टक में एकस्ट्रा रीस्टोर की हुई एब्डोमिनल मशल्स को सर्जरी के द्वारा निकाल दिया जाता है।
 
सिम्पल भाषा में कहें तो इसमें पेट के नीचे के हिस्से बेली में एक्स्ट्रा जमे फैट को कम सर्जरी के द्वारा हटा दिया जाता है। एब्डोमिनोप्लास्टी सर्जरी के बाद पेट बिल्कुल फ्लैट हो जाता है और खूबसूरत नजर आता है।

बेली

 

दिया जाता है एनीथीसिया

इस सर्जरी के दौरान इंसान को एनीथीसिया दिया जाता है। एनीथीसिया में इंसान बेहोश नहीं होता बल्कि उसे पेट में कोई प्रतिक्रिया महसूस नहीं होती जिससे ऑपरेशन के दौरान उसे दर्द नहीं देता।

 

सर्जरी है जरूरी

अगर आपको स्लिम-ट्रिम दिखने की चाहत है और आप क्रॉप टॉप पहनना चाहती हैं या सिक्स पैक एब्स दिखाने की इच्छा रखते हैं तो सर्जरी आपकी इस इच्छा को पूरा करने की चाबी है। इससे आपकी फ्लैट बेली का सपना पूरा होगा।

 

सर्जरी के दिन

  • सर्जरी के बाद कुछ दिनों तक कई चीजों से परहेज की जाती है। साथ ही कुछ दिनों तक खुद की देखभाल करने की जरूरत होती है। ऐसे में सर्जरी कराने से पहले जरूरी है कि आप इन बातों को जान लें।
  • सर्जरी के बाद सर्जन ने जो डाइट बताई है उसको स्ट्रक्टली फॉलो करें।
  • सर्जरी के दिन ढीले कपड़े पहने।

 

सर्जरी के बाद

  • सर्जरी के बाद कुछ दिनों तक पेट में काफी तेज दर्द रहता है। ऐसे में अधिक से अधिक बेड रेस्ट लेने की सलाह दी जाती है।
  • कई बार इंटरनल ऑर्गन को भी नुकसान पहुंच जाता है।
  • पेट पर दाग पड़ जाते हैं जो समय के साथ कम तो हो जाते हैं। लेकिन कई हार ऐसा नहीं होता।
  • कई बार नर्व भी डैमेज हो जाती है जिससे पेट में दर्द के साथ नाभि का नीचे वाला हिस्सा सुन्न हो जाता है।
  • स्रजरी से रिकवर होने में काफी वक्त लग जाता है।

 


रिजल्ट

वैसे तो अधिकतर लोग इस सर्जरी के बाद खुश होते हैं। लेकिन फिर भी पूरी तरह से रिस्क को जानकर ही सर्जरी कराएं। सर्जन से पहले पूरी जानकारी लें फिर इसके बारे में सोचें।

 

Read more articles on Weight loss in hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES27 Votes 8356 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर