सोशल नेटवर्किंग की लत कर सकती है अपनों से दूर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 19, 2017
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सोशल नेटवर्किंग की लत रिश्तों पर पड़ सकती है भारी।
  • देर रात तक फोन और लैपटॉप डालते हैं बुरा असर।
  • परिवार के साथ बाहर घूमने जाते वक्त डेटा पैक बंद रखें।  

नया ज़माना है, किताबें, न्योंतों के पत्र और चिठ्ठियां स्मार्ट फोन्स और लैपटॉप में सिमट गईं हैं। सरा जहां जैसे अब आपकी अंगुलियों के नीचे बसता है।  सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर ढेर सारे दोस्त हैं, दुनिंया की दूरियां घट सी गई हैं। लेकिन हर अच्छी चीज की एक कीमत होती है और वह है इसकी लत। कई अध्ययन बताते हैं कि लोग आज सोशल नेटवर्किंग की लत की शिकार हो रहे हैं और उनको पता भी नहीं चलता। दिन की शुरुआत फेसबुक से होती है और देर रात तक आने वाले अपडेशन जगाए रखते हैं। लेकिन सावधान हो जाइये, इस लत की कीमत आपके रिश्तों को न चुकानी पड़े। जी हां, फोन और लैपटॉप आदि की लत आपके रिश्तों पर भारी पड़ सकती है। चलिये जानें कैसे -  

इसे भी पढ़ें : क्यों आपके पार्टनर का अकेले पोर्न देखना है खतरे की घंटी?


Move You Away From Loved Ones in Hindi

image source - substance.com

देर रात तक फोन और लैपटॉप

देर रात तक फोन और लैपटॉप आदि का इस्तेमाल आपकी नींद छीन सकता है और इससे आपके शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य को नुकसान होता है। यही नहीं, नींद पूरीन होने से आप दिन भर छके से रहते हैं और लोगों से उत्साह व रुची के साथ बात नहीं कर पाते हैं। इससे बचने के लिये अपने लैपटॉप और फोन को सोने के कमरे से अलग रखें। अगर आपको किसी कारम से लॉगइन करना भी पड़े तो जल्द से जल्द से काम करें और लॉग-आउट कर दें, ताकि आपकी नींद में इससे खलल न पड़े।


सुबह उठते ही फोन चेक करना

सुबह उठते ही सबसे पहले लोग फोन उठाते हैं देखते हैं कि सोते समय कुछ मिस तो नहीं कर दिया। यह चिंता जल्द ही आपको परेशान करने लगती है और आउट ऑफ फोकस करती जाती है। ऐसे में आप हर समय फोन इस्तेमाल किए बिना नहीं रह पाते। और अपनों से ज्यादा अपना फोन जरूरी होता जाजा है। इससे बचने के लिये अपने मोबाइल को कभी सिरहाने रखकर न सोएं। इसके अवाला सुबह उठने के फोन इस्तेमाल करने के बजाए टहलनें जाएं योग, ध्यान व व्यायाम करें और टहलने जाएं। प्रकृति का साथ आपके दिमाग को शांत और स्वस्थ रखेगा और आप अपने आपको ऊर्जा से भरपूर पाएंगें।

 

Move You Away From Loved Ones in Hindi


घूमने जाते वक्त डेटा पैक बंद रखें

हर वक्त आने वाले अपडेशन आपको विचलित और अशांत रखते हैं और आप दोस्तों और अपनों से साथ होते हुए भी उन्हें तवज्जो नहीं दे पाते हैं। हमेशा याद रखें, काम और परिवार में संतुलन बेहद जरूरी होता है। आपका खुद का बिजनेस है तो फिर यह संतुलन बनाए रखना और भी जरूरी हो जाता है, साथ ही छुट्टियों या आउटिंग के वक्त आधा-एक घंटे से ज्यादा सोशल साइट्स पर न रहें।


हर चीज़ को लेकर पोस्ट करना आगे चलकर आपको अविश्वास की भावना से भर सकता है। लोगों से हर वक्त जुड़े रहने की भावना बताती है कि आप भीतर ही भीतर असुरक्षित महसूस करती हैं। इससे बचने के लिये उन लोगों से सार्थक दोस्ती रखें, जो आपकी जिंदगी में वाकई महत्व रखते हैं। सोशल साइट्स पर पोस्ट अपडेट्स करने में समय व्यर्थ करने के बजाए अच्छे दोस्तों से मिलें और बात करें। जब भी वक्त मिले, फोन उठाएं और पारिवारिक दोस्तों से बात करें।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Living IN Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES3 Votes 2153 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर