इशारे जो बतायें कि आप साइनस से हैं पीडि़त

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 17, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • धूल और प्रदूषण से होती है साइनस की समस्‍या।
  • दर्द की शुरुआत सुस्त दबाव के साथ होती है।
  • नाक से हल्‍के हरे-पीले रंग की बलगम निकलती है।
  • साइनस खांसी विशेष रूप से उत्‍तेजक होती है।

नाक, मस्तिष्क व आंखों के अंदरूनी भाग में बची थोड़ी खोखली जगह को साइनस कहते हैं। साइनस के मार्ग के रुकने पर बलगम निकलने में परेशानी होती है, इसे 'साइनोसाइटिस' कहते हैं। आमतौर पर साइनस की समस्या का मुख्य कारण धूल और प्रदूषण होता हैं। लेकिन बदलते मौसम से भी साइनस की समस्‍या काफी बढ़ जाती है। जरूरी सावधानियों को अपनाकर आप इस समस्‍या से बच सकते हैं। इसके लिए आपको साइनस के लक्षणों की जानकारी होनी चाहिए।

sinus in hindi

थोड़े समय तक रहने वाले साइनस को गंभीर (एक्‍यूट) साइनस कहते है। गंभीर साइनस आमतौर पर सर्दी या एलर्जी के कारण होता है। लेकिन साइनस के लक्षण आठ सप्‍ताह या इससे अधिक तक रहने पर क्रोनिक साइनस होता है। साइनस के कई लक्षण एक्‍यूट और क्रोनिक दोनों में आम होते हैं। संक्रमण के सही कारणों का पता लगाने के लिए और सही इलाज के लिए आपको अपने डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए।


साइनस के लक्षण

दर्द

साइनस के सबसे सामान्‍य लक्षणों में अक्‍सर होने वाला दर्द शामिल है। आपकी आंखों के ऊपर और नीचे और कान के पीछे कई प्रकार के साइनस होते हैं। साइनस संक्रमण होने पर इनमें से किसी में भी दर्द उत्‍पन्‍न हो सकता हैं। सूजन और जलन में दर्द की शुरुआत सुस्त दबाव के साथ होती है। इसमें दर्द का अनुभव ऊपरी जबड़े और दांत, आंखों के बीच, नाक के दोनों तरफ और माथे में भी हो सकता है।

साइनस डिस्चार्ज

साइनस की समस्‍या होने पर अक्‍सर नाक से हल्‍के हरे-पीले रंग की बलगम निकलती है। यह बलगम संक्रमित साइनस से निकलकर नाक मार्ग से बाहर आती है। यह बलगम नाक से निकलने के अलावा गले में भी प्रवाहित भी होती है। और इससे आप गले में गुदगुदी और खुजली जैसा महसूस कर सकते हैं। इसे पोस्‍टनेसल ड्रिप भी कहते है।

sinus headache in hindi

सिरदर्द

साइनस में बहुत अधिक दबाव और सूजन के कारण आपका सिरदर्द की समस्‍या भी हो सकती है। सिरदर्द के अलावा आपके दांत, कान, जबड़े ओर गालों में भी दर्द का अनुभव हो सकता है। बलगम के रात भर ए‍कत्रित होने के कारण, साइनस में होने वाला सिरदर्द सुबह के समय अक्‍सर बहुत अधिक बढ़ जाता है। इसके साथ ही मौसम के कारण तापमान में आने वाले परिवर्तन से भी सिरदर्द की समस्‍या बहुत बढ़ जाती है।

गले में खराश

पोस्‍टनेसल ड्रिप में जलन गले में खराश का कारण बनती है। हालांकि इसकी शुरूआत कष्‍टप्रद गुदगुदी से शुरू होती है, लेकिन यह बदतर भी हो सकती है। संक्रमण के कुछ सप्‍ताह या उससे अधिक रहने पर बलगम में जलन और गले में दर्दनाक खराश के कारण गले में दर्द होने लगता है।

कन्‍जेशन

साइनस में सूजन आने के कारण नाक के माध्‍यम से सांस लेने में परेशानी होती है। संक्रमण साइनस के साथ नासिका मार्ग में सूजन का कारण भी बनता है। नाक में कन्‍जेशन के कारण आपकी गंध और स्‍वाद लेने की भावना का अनुभव भी बहुत कम हो जाता है।    

cough

खांसी

लंबे समय तक रहने वाली साइनस की समस्‍या में निकलने वाला बलगम, गले के नीचे जाकर जलन पैदा करने लगता है। इसके कारण आपको लगातार और कष्‍टप्रद खांसी होने लगती है। साइनस खांसी विशेष रूप से उत्‍तेजक होती है, और रात में तो और भी बदतर हो जाती है जिससे सोना भी मुश्किल हो जाता है। थोड़ा सीधा होकर सोना खांसी की आवृत्ति और तीव्रता को कम करने में मदद करता है।

इन सब लक्षणों को जानकर आप साइनस जैसी समस्‍या का आसानी से निदान कर उपचार कर सकते हैं।

Image Courtesy : Getty Images

Read More Articles on Sports and Fitness in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES6 Votes 2097 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर