सोने से पहले इसे लें एक चम्मच, रहेंगें हमेशा तरोताजा!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 27, 2017
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • तनाव और अस्वस्थ दिनचर्या के कारण अधूरी रहती है नींद।
  • रात में सोने से पहले शहद और सेंधा नमक का मिश्रण लें।
  • इसमें शरीर के जरूरी सभी पौष्टिक तत्व होते हैं।
  • इससे नींद अच्छी आती है और तनाव भी नहीं होता है।

सुबह उठने के बाद तरोताजा एहसास न हो तो पूरा दिन थकान और आलस में ही बीत जाता है। ऐसे में किसी भी काम में मन न लगना आम बात है। आलस भरे दिन की शुरूआत के पीछे सबसे बड़ा कारण अधूरी नींद है। अनियमित दिनचर्या और अस्वस्थ खानपान के कारण भी नींद अच्छे से नहीं आती और आपके दिन की शुरूआत खराब हो जाती है। लेकिन क्या आप जानते हैं एक छोटा सा नुस्खा ऐसा है जिसे आजमाने से आपकी दिन की शुरूआत स्फूर्तिमय होगी। इस लेख में इस तरीके के बारे में हम आपको बता रहे हैं।

 

बड़े काम का है ये तरीका

सुकून भरी नींद के लिए शरीर को शांति की जररत होती है, शरीर के सभी अंगों को आराम मिलता है तभी अच्छी नींद भी आती है। अगर आपकी दिनचर्या अनियमित है और आप रोजाना व्यायाम नहीं करते हैं तब आपके लिए चैन की नींद लेना थोड़ा मुश्किल हो सकता है। लेकिन सोने से पहले यह तरीका आजमाने से आपको न केवल चैन की नींद आयेगी बल्कि आप पूरे दिन एनर्जेटिक भी बने रहेंगे।

जरूरी सामगी

  • 5 चम्मच जैविक कच्चा शहद (बाजार का मिलावटी शहद प्रयोग न करें)
  • 1 चम्मच सेंधा नमक
  • इन दोनों तत्वों को अच्छे से मिलाकर एक कांच के जार में रख दीजिए। आप चाहें तो अधिक मात्रा में भी इन सा‍मग्रियों को ले सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे इनका अनुपात 5:1 का ही होना चाहिए।

 

कैसे करें प्रयोग

आपने जो मिश्रण बनाया है उसका एक चम्मच रात में सोने से पहले सेवन करें। इसे अपनी जीभ के नीचे रखें और इसे धीरे-धीरे अपने आप मुंह में घुलने दें। सेंधा नमक में 84 से अधिक मिनरल (मैग्नीशियम सहित) होते हैं, जिससे शरीर को आराम मिलता है और यह तनाव भी दूर करता है।


कच्चे शहद में ग्लूकोज होता है जो शरीर के कोशिकाओं के जरिये शरीर के संपूर्ण अंगों की मरम्मत करता है। सोने से पहले शहद के सेवन से लीवर में ग्लाइकोजेन की आपूर्ति होती है जिससे यह शरीर के विषाक्त पदार्थों को आसानी से बाहर निकालता है। इसके अलावा ग्लाइकोजेन तनाव के लिए जिम्मेदार हार्मोन को बनने से रोकता है और इसके जरिये आपको चैन की नींद आती है।


इन दोनों के मिश्रण का प्रयोग एक साथ करने से शरीर के लिए जरूरी लगभग सभी पौष्टिक तत्व मिल जाते हैं। इनके कारण ही लीवर के साथ शरीर के दूसरे अंग सही तरीके से कार्य करते हैं।


इनके अलावा अच्छी और सुकून भरी नींद के लिए जरूरी है कि आप तनाव से दूर रहें, स्वस्थ दिनचर्या का पालन करें और नियमित रूप से व्यायाम करें।

 

Read more articles on Diet and nutritions in hindi.

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES65 Votes 5439 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।