जानें क्या हैं फेफड़ो के कैंसर के लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 07, 2015
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • महिलाएं ज्यादा होती है फेफेड़े के कैंसर की शिकार।
  • सांस मे तकलीफ, घुटन आदि हो सकते है लक्षण।
  • फेफड़े का कैंसर से प्रभावित है शरीर के अन्य अंग।
  • धूम्रपान के कारण फेफड़े के रोग से ग्रस्त होते हैं।

फेफड़ों का  कैंसर एक प्रकार का ऐसा कैंसर हैं जिससे हर साल कई स्त्री पुरुष मौत के मुंह में जाते हैं।आपको  यह जानकार हैरानी होगी की कई देशों में फेफड़ों के कैंसर से मरने वाली महिलाओं की संख्या स्तन कैंसर से मरने वाली महिलाओं से बहुत ज्यादा है।अगर किसी व्यक्ति को अक्सर खांसी रहती है जो लाख घरेलू उपचारों से ठीक होने का नाम हीं नहीं ले रही हो या साधारण डॉक्टर की दवाइयां भी जिसपर  बेअसर हों तो उस व्यक्ति को किसी विशेषज्ञ से दिखलाना चाहिए क्योकि यह किसी गंभीर बीमारी या कैंसर होने  का लक्षण हो सकता है।

Lung Cancer in Hindi


सीने में दर्द या पीड़ा या घुटन

सीने में दर्द या पीड़ा होने की शिकायत कई बार फेफड़ों के कैसर के शिकार व्यक्ति में कैंसर के लक्षण के रूप में देखी गई है। इस प्रकार का दर्द काफी देर या दिनों तक रहता है एवं पीड़ादायक रहता है।फेफड़ों में जब ट्यूमर फैल जाते हैं तब सांस लेने में तकलीफ होने लगती है और घुटन होने लगती है। घुटन जैसा महसूस होना फेफड़ों का कैंसर होने का लक्षण हो सकता है। और भी कई कारणों से सांस लेने में तकलीफ हो सकती है जैसे फेफड़े के काफी हिस्से में यदि हवा का प्रवेश रुक जाये (सूजन या किसी तरह के अवरोध की वजह से ) जो फेफड़ों के कैंसे एवं ट्यूमर की वजह से हो सकते हैं या फेफड़ों के आस-पास द्रव्य (फुस्फुस बहाव) का संग्रह हो जाये तो इनसे घुटन सी महसूस होती है जो फेफड़ों का कैंसर होने का संकेत देता है।


Lung Cancer in Hindi

गले में घरघराहट या गला बैठना

गले में अक्सर खराश रहना, घरघराहट या गला बैठना भी कैंसर होने के  संकेत देते हैं। हालाँकि ये लक्षण तब भी हो सकते हैं जब आपके फेफड़ों में किसी प्रकार की सूजन हो।अगर किसी व्यक्ति को खांसते वक्त खांसी के साथ खून निकलता है तो उस व्यक्ति के लिए यह चिंता का विषय हो सकता है क्योंकि कई मामलों में ये फेफड़ों का कैंसर का लक्षण दर्शाता है।अगर आपकी श्वशन प्रणाली में अक्सर संक्रमण रहता हो जैसे ब्रोंकाइटिस या न्यूमोनिया का होना तो ये भी फेफड़ों के कैंसर होने का संकेत देते हैं।

Lung Cancer in Hindi

फेफड़ों का कैंसर कहाँ कहाँ फैलता है

जिगर को अपनी आगोश में या अपनी चपेट में लेने वाला मेटास्टेटिक फेफड़ों का कैंसर ज्यादातर मामलों में कोई लक्षण नहीं दर्शाता जब तक किसी कारण से डॉक्टर को उसका पता न चले। मेटास्टेटिक  फेफड़ों का कैंसर अधिवृक्क ग्रंथियों को अपनी चपेट में लेने पर भी कोई लक्षण प्रकट नहीं होने देता।कई बार फेफड़ों का कैंसर मेटास्टेटिक होकर हड्डियों के कैंसर कारण बनता है। इस हाल में हड्डियों के कैंसर के लक्षण के रूप में हड्डियों में पीड़ा देखने को मिलती  है। ये दर्द या पीड़ा आम तौर पर (कशेरुक) रीढ़ की हड्डी, जांघों की हड्डियों में और पसलियों में ज्यादातर देखने को मिलती  है।

कुछ मामलों में त्वचा पर चकत्ते भी उभाने लगते हैं।मांसपेशियों में कमजोरी और मस्तिष्क का ठीक से काम न करना भी फेफड़ों के कैंसर के लक्षण होते हैं।

 

ImageCourtesy@gettyimages

Read more Article on Lung Cancer in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES113 Votes 36031 Views 5 Comments
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर