शकरकंद खाए बिना ही ऐसे घटाएं वजन!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 13, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • शकरकंद बिना खाए भी वज़न को कम करने में बेहद मददगार होता है।
  • बिना शकरकंद खाए भी आप इसके पोषक तत्वों को ग्रहण कर सकते हैं।
  • जर्नल हेलियों में प्रकाशित एक शोध से सामने आए यह कमाल के परिणाम।

शकरकंद के सेवन से होने वाले असंख्य स्वास्थ्य लाभों के बारे में हम अकसर सुनते आए हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि शकरकंद का सेवन ही नहीं बल्कि इसे बिना खाए भी ये आपके अतिरिक्त वज़न को कम करने में बेहद मददगार है। आज हम आपको एक ऐसे शोध के बारे में बता रहे हैं, जिससे यह पता चला है कि बिना खाए भी शकरकंद हमारे वज़न को कम करने और पोषण देने में मददगार साबित हो सकता है।

शकरकंद में बड़ी मात्रा में डायटरी फाइबर और विटामिन पाए जाते हैं, कैलरी कम मात्रा में होती है और प्रचुर मात्रा में पानी होता है। ये चीजों आपको वजन कम करने में मदद करती है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बिना शकरकंद को खाए भी आप इसके पोषक तत्वों को ग्रहण कर सकते हैं और अपने अतिरक्त वजन को घटा सकते हैं...

इसे भी पढ़ें : जिम करने के बाद जरूर खाएं ये 5 चीजें

potato

आइए जानें, क्या कहता है शोध

जर्नल हेलियों में प्रकाशित एक शोध में पाया गया कि चूहों पर किया गए शोध में पाया गया कि शकरकंद को उबालने पर इसके स्टार्च अपशिष्ट जल में बहुत मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है, जिसका सेवन करने से चूहों में वसा का स्तर और वजन  दोनों कम हुए। शोध के अनुसार, शोधकर्ताओं ने मूल रूप से शकरकंद के पानी का उपयोग करने के लिए एक नया तरीका खोजने की कोशिश की, अतः उन्होंने शकरकंद को उबालने में उपयोग पानी के सेवन के बाद चूहों के पाचन में हुए परिवर्तन की जांच की।

इसे भी पढ़ें : इन 3 कारणों से रात में भी करें वर्कआउट

आलू पेप्टाइड (एसपीपी), जोकि पानी में प्रोटीन को पचाने वाले एंजाइमों द्वारा निर्मित होता है। तो चूहों के एक समूह ने इसकी उच्च मात्रा को प्राप्त किया, दूसरे ने कम मात्रा को प्राप्त किया, जबकी तीसरे समूह को आलू पेप्टाइड मिला ही नहीं। 28 दिनों के बाद शोधकर्ताओं ने इन चूहों के वजन के साथ साथ इनके लीवर मास व वसा ऊतकों को मापा। साथ ही उन्होंने इन चूहों के कोलेस्ट्रॉल, ट्राइग्लिसराइड, लेप्टिन, और वसा के स्तरों की भी जांच की।

परिणामों से पता चला कि जिन चूहों को आलू पेप्टाइड (एसपीपी) मिला था, उनका लीवर फैट और वज़न दोनों ही काफी कम था। साथ ही इनमें कम कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स, और लेप्टिन और एडिपोनेक्टिन (adiponectin) का उच्च स्तर था। इससे यह पता चलता है कि उच्च वसा वाले आहार का सेवन करने वाले चूहों में एसपीपी एपेटाइट को सक्रिय करने और लिपिड चयापचय को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण ढ़ंग से काम करता है।

नेशनल एग्रीकल्चर एंड फूड रिसर्च आर्गेनाइजेशन, जापान के डॉ कोजी शिगुरो के अनुसार, 'हम शकरकंद को उबालने में उपयोग किया प्रोटीन से भरा पानी यूं ही फैंक देते हैं। जबकि इस शोध में हमने पाया कि यह पानी शरीर के वजन, वसा ऊतक और अन्य कारकों में सकारकात्मक रूप से महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।'

Image Source : Getty

Read More Articales on Weight Loss In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES4743 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर