स्वाद भी सेहत भी बनाये आइसक्रीम

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 08, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

swad bhi sehat bhi banaye icecream

अगर आपको आइसक्रीम का स्वाद अच्छा लगता है और यह आपकी आदत में शुमार है तो आपके लिए अच्छी खबर है। आइसक्रीम सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। आइसक्रीम कई प्रकार के फ्लेवर में आती है जिसका स्वाद लजीज होता है। आइसक्रीम डेयरी उत्पाद से ही बनता है जिसमें पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो कि शरीर को स्वस्थ बनाते हैं। आइसक्रीम में विटामिन और प्रोटीन भरपूर मात्रा में मौजूद होता है।


आइसक्रीम में मौजूद तत्व व उनके स्वास्‍थ्‍य लाभ –

कैल्शियम– दूध के उत्पादों में ज्यादा मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। कैल्शियम खाने से हड्डियां मजबूत होती हैं। शरीर को अच्छे से काम करने के लिए हर रोज कैल्शियम की आवश्यकता होती है। शरीर में मौजूद 99 प्रतिशत कैल्शियम हड्डियों में पाया जाता है। डेयरी उत्पा‍द खाने से शरीर को कैल्शियम पर्याप्त मात्रा में मिलता है। हर रोज आइसक्रीम जैसे दूध के उत्पाद खाने से ऑस्टियोपोरोसिस (इस बीमारी में हड्डियां पतली और कमजोर हो जाती हैं) का खतरा कम होता है। कैल्शियम केवल हड्डियों के लिए नहीं होता है बल्कि यह वजन भी घटाता है।

प्रोटीन – दूध के अन्य उत्पादों की तरह, आइसक्रीम प्रोटीन का अच्छा स्रोत होता है। प्रोटीन शरीर के हिस्सों – हड्डियां, मांपेशियां, खून और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है। प्रोटीन खाने से ऊतक और मांसपेशियां मजबूत होती हैं। शरीर के कुछ हिस्से जैसे – नाखून, बाल प्रोटीन से ही बने होते हैं। आइसक्रीम खाने से शरीर को प्रोटीन मिलता है। व्यायाम और योगा के बाद आइसक्रीम खाया जा सकता है।

विटामिन – आइसक्रीम में विटामिन ए, बी-2 और बी-12 पाया जाता है। विटामिन ए, त्वचा, हड्डियों और रोग-प्रतिरोधक क्षमता के लिए अच्छा होता है। विटामिन ए आंखों की रोशनी बढाता है। विटामिन बी-2 और बी-12 मेटाबॉलिज्म को संतुलित रखते हैं और बी-12 वजन घटाने में भी सहायक होता है। अगर आपको दूध पीने में दिक्कत होती है तो आइसक्रीम खाकर विटामिन की कमी को पूरा किया जा सकता है।

 

आइसक्रीम को कई तरह से प्रयोग करें –

  • आइसक्रीम के कई फ्लेवर होते हैं। हर बार नए फ्लेवर का प्रयोग किया जा सकता है जिससे नया स्वाद मिले।
  • फ्रूट आइसक्रीम में कई प्रकार के सूखे मेवे डाले जाते हैं, जिनमें पोषक तत्व भरपूर मात्रा में मौजूद होता है।
  • लंच और डिनर के साथ आइसक्रीम को डेजर्ट के रूप में लिया जा सकता है।
  • योगा और व्यायाम करते समय आइसक्रीम खाया जा सकता है। इससे शरीर को एनर्जी मिलती है।
  • आइसक्रीम को जूस में डालकर भी खाया जा सकता है। मैंगो शेक और बनाना शेक में आइसक्रीम का प्रयोग होता है।

 

आइसक्रीम खाने के नुकसान भी –

आइसक्रीम खाना सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है। आइसक्रीम में शुगर होता है और अधिक मात्रा में कैलोरी पायी जाती है। इसके अलावा कुछ आइसक्रीम जिनमें बटर और चॉकोलेट होता है, शरीर के लिए नुकसानदायक होते हैं। इस प्रकार के आइसक्रीम खाने से डायबिटीज, मोटापे की समस्या हो सकती है।


ज्यादा आइसक्रीम खाने से नुकसान भी हो सकता है। खराब क्वालिटी की आइसक्रीम खाने से कई बी‍मारियां हो सकती हैं। इसके अलावा सिरदर्द, फूड प्वाइजनिंग जैसी समस्याएं भी हो सकती हैं। इसलिए आइसक्रीम खाने से पहले उसके गुणवत्ता की जांच कर लेना चाहिए।

Write a Review
Is it Helpful Article?YES5 Votes 13005 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर