गलत तरीके से ब्रश करना हो सकता है नुकसानदेह

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 28, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सही तरीके से बश न करने से कैविटी, पायरिया जैसी समस्‍या होती है।
  • ब्रश का चुनाव करते वक्‍त सावधानी बरतें, ब्रश का आकार मध्‍यम हो।
  • एक दिन में दो बार से कम या उससे अधिक बार ब्रश प्रयोग न करें।  
  • ब्रश को हाइजीन मुक्‍त रखें और हर तीन महीने पर उसे जरूर बदलें।

सही तरीके से ब्रश न करने और ब्रश का चुनाव करते वक्‍त गलती के कारण भी दांतों से संबंधित समस्‍यायें हो सकती हैं। अगर सही तरीके से ब्रश न किया जाये तो दांतों में कैविटी, पायरिया, आदि की समस्‍या हो सकती है।

इसलिए ब्रश करते वक्‍त सावधानी बरतें और इसमें जल्‍दबाजी बिलकुल भी न करें। डेंटिस्‍ट भी यही सुझाव देते हैं कि सही तरीके से ब्रश करके ही दांतों की समस्‍या से बचाव किया जा सकता है। तो सही तरीके से ब्रश करने की आदत डालें और अपने दांतों को बीमारियों से बचायें।

Brushing Mistakes in Hindi

सही ब्रश का प्रयोग

ब्रश का चुनाव करते वक्‍त हमेशा सावधानी बरतनी चाहिए। ब्रश का आकार बड़ा और छोटा नहीं होना चाहिए, ब्रश मध्‍यम आकार का प्रयोग कीजिए। बड़ा ब्रश अंदर तक पहुंच नहीं पायेगा और छोटा ब्रश सफाई के लिए बहुत समय लेगा। इसके अलावा ब्रश पकड़ने में भी सही होना चाहिए, उसकी पकड़ भी अच्‍छी हो। ब्रिटिश के सेंट्रल हेल्‍थ फाउंडेशन मुलायम ब्रश का प्रयोग करने की सलाह देता है।

 

ब्रश की गलत आदतें

ए‍क दिन में दो बार ब्रश करने की सलाह चिकित्‍सक भी देते हैं। लेकिन अगर आप अपने दांतों और मसूड़ों को स्‍वस्‍थ रखना चाहते हैं तो किसी भी मीठे पेय पदार्थ का सेवन करने के बाद मुंह जरूर साफ करें। इसके अलावा दिन में 3 या 4 बार भी ब्रश करने से बचें। सुबह उठने के बाद और सोने से पहले ब्रश करना ही दांतों को स्‍वस्‍थ रखने के लिए पर्याप्‍त है। आराम से 2 या 3 मिनट ब्रश करना ही काफी है।

 

दांतों की अंदर तक सफाई

कुछ लोग ब्रश करते वक्‍त केवल बाहरी दांतों की सफाई ही करते हैं। प्‍लेक जैसी समस्‍यायें दांतों के अंदर की सतह से शुरू होती हैं। इसलिए दांतों की सफाई करते वक्‍त अंदर तक साफ करें।

 

ब्रश को हाइजीन मुक्‍त रखें

अगर आप ब्रश को बॉथरूम में रखते हैं तब उस जगह पर नमी होने के कारण उसमें कीटाणु पनपने लगते हैं, इसलिए जरूरी है कि ब्रश को सूखी जगह पर रखें। अगर ब्रश का कवर हो तो उसे जरूर लगायें। ब्रश करने से पहले और ब्रश करने के बाद ब्रश को जरूर साफ करें।

Brushing Mistakes Harming Teeth in Hindi

ब्रश न बदलना

अमेरिकन डेंटल एसोसिएशन यह सुझाव देता है कि अपने ब्रश को हमेशा 3 महीने के अंतराल पर बदलते रहना चाहिए। क्‍योंकि 3 महीने के बाद ब्रश के ब्रिस्‍टल्‍स टूटने लगते हैं। इसलिए समय पर ब्रश को बदल देना चाहिए।

दांतों को बीमारियों से बचाने के लिए जरूरी है कि आप ब्रश करने के सही तरीके के साथ-साथ सही ब्रश के प्रयोग के बारे में जानें। ऐसा करके आप अपने दांतों को स्‍वस्‍थ और मजबूत रखने में मदद कर सकते हैं।

 

Read More Articles on Dental Health in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES7 Votes 2799 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर