स्‍वास्‍थ्‍य के लिए तम्बाकू से ज्यादा नुकसानदेह है शक्कर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 20, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • शक्कर अधिक खाने की लत हो सकती है जानलेवा।
  • यह तंबाकू के सेवन से भी है अधिक खतरनाक।   
  • इसमें है साइकोएक्टिव और एडिक्टिव ड्रग होते हैं।
  • रोजाना ली जाने वाली कैलोरी में 10% हो शुगर।

आपको ये जानकर हैरानी होगी कि शराब व तंबाकू की तरह चीनी भी एक लत है। तीनों पदार्थों में साइकोएक्टिव और एडिक्टिव ड्रग पाया जाता है चीनी व कोकीन दोनों में ही सफेद रिफाइंड और सफेद क्रिस्टल पाउडर होते हैं। इन दोनों में फर्क नाइट्रोजन अणु का होता है। दोनों शक्तिशाली रासायनिक तत्व हैं, जिनसे मजबूत शारीरिक व भावनात्मक प्रभाव उत्पन्न होता है। शरीर में शुगर लेवल बढ़ने पर पैनक्रियाज की बीटा कोशिकायें शुगर को कोशिकाओं के अंदर भेज देती हैं या फैट और ग्लाइकोजिन में बदल देती हैं।

क्या होतें है नुकसान

शरीर के सुचारू रूप से काम करने के लिए शर्करा ज़रूरी है। इसीलिए हमारे शरीर में ही वो तकनीक मौजूद है, जो भोजन में मौजूद चर्बी, जटिल काबरेहाइड्रेट और प्रोटीन तक से शर्करा निकाल लेती है। कृत्रिम शर्करा न सिर्फ़ आपके शरीर पर बाहर से मोटापा चढ़ाती है, बल्कि इसमें मौजूद फ्रुक्टोज़ लीवर के भीतर भी चर्बी जमाने लगता है। जब ये लीवर के बूते से भी बाहर चली जाती है, तो शरीर की धमनियों में चर्बी जमने लगती है, जिससे दिल की बीमारी का ख़तरा बढ़ता चला जाता है। वहीं शरीर में इंसुलिन का स्तर बढ़ता है और मधुमेह दस्तक दे देती है।
Sugar

क्या कहती है शोध

पिछले पचास वर्षों में पूरी दुनिया में शक्कर के सेवन में तीन गुना से अधिक की वृद्धि हुई है ,शुगर से बने खाद्य एवं पेय पदार्थ का अधिक सेवन मोटापे, हृदय रोग, कैंसर एवं लीवर संबंधी विकारों से पूरी दुनिया में 35 मिलीयन रोगियों की मृत्यु का कारण बनता है। यह मौत शराब एवं तम्बाकू से होने वाले मौतों की तुलना में कतई कम नहीं मानी जा सकती। प्रमुख शोधकर्ता प्रोफेसर राबर्ट लुस्टिग की मानें तो दुनिया की सरकारों को शक्कर से सबंधित अपनी नीतियों में परिवर्तन किए जाने की आवश्यकता है।

Sugar

कितनी लें शक्कर

डब्ल्यूएचओ की नई गाइडलाइंस के अनुसार रोजाना ली जाने वाली कैलोरी का 10 फीसदी शुगर होना चाहिए। कैलोरी की यह मात्रा आपके कामकाज पर निर्भर करती है, जैसे यदि आपका वजन 50 किलोग्राम है और आपकी दिनचर्या सामान्य है, तो आपको 1500 कैलोरी प्रति किलोग्राम रोजाना चाहिए।
अगर आप सारा दिन बैठे रहते हैं, तो 20 कैलोरी प्रति किलोग्राम और शारीरिक कामकाज ज्यादा है तो 35 कैलोरी प्रति किलोग्राम रोजाना लें। शक्कर के कई नाम हैं। फ्रक्टोज, मल्‍टोज, लैक्टोज, सूक्रोज और डेक्सट्रोज, इन सभी का अर्थ चीनी होता है।

शुगर का अधिक सेवन करने से बचना चाहिए, क्‍योंकि यह मोटापा बढ़ाने के साथ दिल की बीमारियों का कारण बनता है।

 

ImageCourtesy@GettyImages

Read more Article on Diabetes In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES16 Votes 1549 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर