जानें, वजन घटाने के लिए कितना जिम्‍मेदार है आपका जीन

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 09, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • वेट लॉस प्रोग्राम में भाग लेने वाले कुछ लोग जल्द काफी किलो कम कर लेते हैं।
  • वहीं कुछ दूसरे लोगों में लंबे समय के बाद भी कोई परिवर्तन दिखाई नहीं देता है।
  • शोध बताते हैं कि वेट लॉस प्रोग्राम की सफलता लोगों के जीन्स पर निर्भर करती है।
  • शोध में शोधकर्ताओं ने 46 ऐसे प्रतिभागियों का विश्लेषण कर परिणाम प्राप्त किए।

जब लोग वेट लॉस प्रोग्राम में भाग लेते हैं तो कुछ लोग तो काफी किलो कम कर लेते हैं, लेकिन वहीं कुछ दूसरे लोगों में लंबे समय के बाद भी कोई परिवर्तन दिखाई नहीं देता है। शोध बताते हैं कि यह लोगों के जीन्स पर निर्भर करता है कि वेट लॉस प्रोग्राम से उनका वजन कम होगा या नहीं। आसान शब्दों में कहा जाए तो शोध बताता है कि वेट लॉस प्रोग्राम की सफलता व्यक्ति के जीन्स पर निर्भर करती है। चलिए विस्तार से जानें कि वेट लॉस प्रोग्राम की सफलता और जीन्स के बीच भला क्या संबंध है।

 

इसे भी पढ़ें, तेजी से वजन घटाने के लिए आसान टिप्स

Weight Loss Depend on Your Genes in Hindi


शोध के माध्यम से सामने आए परिणाम

शोध में शोधकर्ताओं ने 46 ऐसे प्रतिभागियों का विश्लेषण किया जिन्होंने 8 हफ्ते के वेट लॉस प्रोग्राम जिसमें डाइट संबंधी बदलाव, एक्सरसाइज व व्यवहारिक बदलाव आदि शामिल थे, में हिस्सा लिया था। प्रतिभागियों ने अपने डीएनए के नमूने भी पाथ-वे नामक जांच के लिए दिए। इस जांच के द्वारा 75  अनुवांशिक मार्करों का विश्लेषण किया जाता है। साथ ही यह कई प्रकार की स्वास्थ्य स्थितियों तथा शरीर की डाइट व एक्सरसाज के प्रति प्रतिक्रिया से भी जुड़े होता है।

 

इसे भी पढ़ें,तेजी से वजन घटाने के आसान और सुरक्षित उपाय

इसके बाद शोधकर्ताओं ने देखा कि क्या अनुवांशिक मार्कर यह सही सही पता करने में कमयाब रहे कि किन प्रतिभागियों ने प्रोग्राम के अंत तक अपने शारीरिक भार का 5 प्रतिशत या इससे अधिक कम किया और किन प्रतिभागियों ने 1 प्रतिशत कम किया। परिणामों के आधार पर उन्होंने पाया कि 5 अनुवांशिक मार्कर का संबंध वेट लॉस से होता है तथा फिर उन्होंने इन मार्करों को इस्तेमाल कर एक गणितीय मॉडल तैयार किया ताकि वे प्रतिभागियों के वेट लॉस प्रोग्राम में कम होने वाले वज़न का पूर्वानुमान लगा सकें। जब उन्होंने इस मॉडल के ज़रिए वेट लॉस का पूर्वानुमान लगाया तो परिणाम 75 प्रतिशत तक सही थे। 

अभी और शोध की है जरूरत

सेन डियागो, यूनिवर्सिटी ऑफ केलिफोर्निया में मेडिकल स्टूडेंट व शोध की प्रमुख लेखक सिसीलिया के अनुसार बिहेवियरल मॉडिफिकेशन थेरेपी लोगों के वेट लॉस प्रोग्राम में अहम भूमिका निभाती है। हालांकि सिसीलिया कहती हैं कि यह अध्ययन बहुत छोटे स्तर पर हुआ था, भविष्य में इस मॉडल को अअधिक लोगों के साथ अध्ययन किए जाने की जरूरत है।  


यह अध्ययन मार्ग जीनोमिक्स कंपनी द्वारा वित्त रूप से समर्थित किया गया और इस यह लेख मूल रूप से लाइव साइंस पर प्रकाशित हुआ।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Source - Getty

Read More Articles On Weight Loss in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES14 Votes 3576 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर