दौड़ना शुरू कर रहे हैं तो इन टिप्स का रखें ध्यान!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jun 28, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • नियमित दौड़ने से शरीर की हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत होती हैं।
  • लेकिन यदि आपने दौड़ना शुरू किया है तो सातों दिन लगातार मत दौड़िये।
  • दौड़ते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपका पॉश्चर सही हो।

यदि आपने फिट रहने के लिए दौड़ने की तैयारी कर रहे हैं तो बेशक ही यह बहुत अच्‍छा निर्णय है। लेकिन केवल दौड़ने मात्र से ही इसका फायदा नही मिलता, इसके लिए सही प्रोग्राम बनाना बहुत जरूरी है। नियमित दौड़ने से वजन कम होता है साथ ही आप फिट और तंदरुस्‍त भी रहते हैं। रनिंग बहुत ही अच्‍छी एरोबिक एक्‍सरसाइज है। इसमें पूरे शरीर का व्‍यायाम हो जाता है। रोज दौड़ने से शरीर की हड्डियां और मांसपेशियां मजबूत होती हैं। दौड़ना शुरू करने से पहले आप इसके बारे में पूरी जानकारी इकट्ठा कीजिए। दौड़ने के दौरान एनर्जी लेवेल कम न हो इसके लिए अपने डायट चार्ट में काबोहाइड्रेटयुक्‍त खाद्य-पदार्थों को शामिल कीजिए। आइए इसमें हम आपकी कुछ मदद करते हैं।

तेज दौड़ना है तो ऐसे लीजिए सांस

Running in Hindi

 

शुरूआत छोटी हो

यदि आप पहली बार दौड़ना शुरू कर रहे हैं तो शुरूआत छोटे दायरे से कीजिए। शुरुआत के एक सप्ताह में 20 से 30 मिनट तक हल्की चहलकदमी कीजिए। इस दौरान ज्‍यादा तेज और ज्‍यादा दूर तक मत दौडि़ये, 100 से 200 मीटर के दायरे में अपनी एक्सरसाइज समेटिए।

थकान लगने पर

इस बात का ध्यान रखें कि इस दौरान आपको ज्यादा थकान तो नहीं महसूस हो रही है। अगर आपको लगे कि आपकी सांस जरूरत से ज्यादा फूल रही है तो इसका मतलब है कि अपका एनर्जी लेवेल कम है, ऐसे में दौड़ने का समय और दूरी कम कर दीजिए। लेकिन यदि आपको लगे कि आप सामान्य और सहज हैं तो इसे बढ़ा भी सकते हैं।

शरीर का हाव-भाव

दौड़ते समय इस बात का ध्यान रखें कि आपका पॉश्चर एकदम सही हो। अगर आपका पॉश्चर सही नहीं है तो आपकी मांसपेशियों को नुकसान भी पहुंच सकता है। दौड़ते समय आपकी पीठ एकदम सीधी होनी चाहिए। ज्यादातर लोगों के हाथ सामने की ओर हवा में होते हैं। इस बात का खयाल रखें कि हाथ सीने से ऊपर न उठे हों और न ही खुले हों साथ ही उंगलियों की मुट्ठी बंधी होनी चाहिए। आपकी कोहनी 90 डिग्री के कोण पर मुड़ी हो। पैरों का भी पूरा खयाल रखें। पैर उठाने और रखने में उछाल नहीं होना चाहिए, बल्कि सहजता होनी चाहिए।

रोज दौड़ लगाइए, अच्छी सेहत पाइए

Running in Hindi

 

अचानक से न रुकें कदम

न तो एकदम से दौड़ना शुरू कीजिए और न ही दौड़ते-दौड़ते अचानक से रुकिये। दौड़ने से पहले हमेशा पांच से दस मिनट की हल्की चहलकदमी कीजिए। हाथ और पैरों का हल्का-फुल्का व्यायाम बहुत जरूरी है।

ब्रेक भी जरूरी

यदि आपने दौड़ना शुरू किया है तो सातों दिन लगातार न दौड़िये, बल्कि शरीर को पूरा आराम भी दीजिए। हफ्ते में तीन से चार दिन आप दौड़ सकते हैं। कई लोग हफ्ते में एक बार लंबी दौड़ लगाते हैं, फिर थकने के कारण पूरे हफ्ते आराम करते हैं। ऐसा करने से बचें। कुछ लोग लगातार एक हफ्ते तक दौड़ लगाते हैं और अगले पूरे हफ्ते आराम करते हैं। आप ऐसा करने से बचें।

खान-पान

शारीरिक गतिविधि के दौरान आपके शरीर को ज्‍यादा कैलोरी की जरूरत होती है। इसे पूरा करने के लिए प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट, मिनरल्‍स, विटामिन्‍स और कैल्शियम लीजिए। खाने में सेब, अंडा, केला, दालें, स्‍प्राउट्स, हरी सब्जियां, चना, सोया, मांस, मछली शामिल कर सकते हैं।

दौड़ने के दौरान यदि आपको शारीरिक समस्‍या हो रही हो, सांस लेने में दिक्‍कत हो रही हो तो एक बार चिकित्‍सक की सलाह अवश्‍य लीजिए।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image source- getty

Read More Articles on Sports and Fitness in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES231 Votes 21287 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर