घर से ऑफिस के लंबे सफर से बिगड़ता है आपका स्‍वभाव

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 24, 2014
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

commute to officeक्‍या आपका ऑफिस घर से दूर है। क्‍या काम पर जाने और घर लौटने के लिए आपको घंटों भीड़ के धक्‍के खाने पड़़ते हैं। अगर हां, तो संभल जाएं। लंबे सफर में समय और पैसा तो बर्बाद होता ही ळ, मानिसक स्‍वास्‍थ्‍य पर भी बुरा असर पड़ता है।


कामकाजी लोगों पर किए गए एक अध्‍ययन में ब्रिटिश शोधकर्ताओं ने यह चेतावनी दी है। शेफील्‍ड यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं के मुताबिक घर से ऑफिस के बीच की लंबी दूरी तय करने में व्यक्ति तनावग्रस्‍त महसूस करने लगता है। उसे बस और मेट्रो में धक्‍के खाने, घंटों ट्रैफिक जाम में फंसे रहने और खराब सड़कों से गुजरने पर सबसे ज्‍यादा चिढ़ होती है। मुख्‍य शोधकर्ता प्रोफेसर जेनी रॉबर्ट और उनकी टीम ने नौकरीपेशा लोगों के मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पर लंबे सफर का असर आंका।


इसके लिए उन्‍होंने लगातार 13 साल तक 14 हजार महिला-पुरुषों की जीवनशैली का अध्‍ययन किया। वे लोग रोजाना औसतन 54 मिनट ऑफिस आने जाने में बर्बाद करते थे। रॉबर्ट ने पाया कि घर से ऑफिस की दूरी इतनी अधिक होने पर कोई भी कर्मचारी खुश नहीं था।


उन्‍हें लगता था कि जिंदगी का बड़ा हिस्‍सा सफर में बर्बाद हो रहा है। रॉबर्ट की मानें तो सफर के तनाव का असर कर्मचारियों के बर्ताव में भी नजर आने लगता है। वे दूसरों से बेहद रूखे अंदाज में पेश आते हैं और बात-बात पर चिड़चिड़ाने लगते हैं।


उन्‍होंने बताया कि ऑफिस आने-जाने के लिए आधे घंटे का सफर परेशान नहीं करता। लेकिन एक घंटे से ज्‍यादा समय लगते ही लोगों का पारा चढ़ने लगता है। उनमें उच्‍च रक्‍तचाप, डायबिटीज, दिल, किडनी और सांस की बीमारी तथा पीठ, कंधे व गर्दन के दर्द का खतरा बढ़ जाता है।

 

Source BBC News

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 1649 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर