जानें पुरुषों के लिए एंटीपर्सपिरेंट और डियोड्रेंट इस्‍तेमाल करने के स्‍मार्ट तरीके

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 05, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पसीना आना पूरी तरह प्राकृतिक हैं।
  • डियोड्रेंट से केवल बदबू रूकती है।
  • एंटीपर्सपिरेंट नमी से मुकाबला करता है
  • एंटीपर्सपिरेंट में एल्‍यूमिनियम सॉल्‍ट होता है।

गर्मियों की उमस और तपन भरे दिनों में पसीने से बचना मुश्किल होता है। हालांकि पसीना आना पूरी तरह प्राकृतिक हैं, लेकिन कभी-कभी काफी आपकी भीगी बगल पर पड़े दाग शर्मिदगी का कारण बनते हैं। तो ऐसे में एक पुरुष क्‍या करें? इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए पुरुष तरह-तरह के उपाय अपनाते हैं। कुछ बार-बार नहाते हैं, तो कुछ अपनी डाइट में बदलाव करते हैं, जबकि कुछ लोग डियोड्रेंट अथवा एंटी-पर्सपिरेंट का इस्तेमाल करते हैं। डियोड्रेंट से केवल बदबू रूकती है (ये बदबू आपके पसीनों से नहीं बल्कि उससे पनपे वाले बैक्टीरिया से आती है)। एंटीपर्सपिरेंट नमी से मुकाबला करता है, लेकिन किसी भी कारगर एंटीपर्सपिरेंट में एल्‍यूमिनियम सॉल्‍ट होता है। और इस केमिकल के कारण आपकी हल्‍के रंग की शर्ट पर गंदे और पीले रंग के दाग दिखाई देने लगते हैं।    

deodrant in hindi

क्या आप जानते हैं डियोड्रेंट या एंटी-पर्सपिरेंट में अलग–अलग संयोजन होता है, और इनका इस्तेमाल भी अलग–अलग होता है? एंटीपर्सपिरेंट ऐसे डियोड्रेंट होते है, जो पसीने को रोकने के लिए पसीने की ग्रंथियों पर काम करते हुए अंडरआर्म की दुर्गध को रोकते हैं क्योंकि इनमें खुशबू होती है और त्वचा पर दुर्गध पैदा करने वाले बैक्टीरिया को पनपने से रोकने वाले एंटीबैक्टीरियल तत्व होते हैं। इसलिए किसी भी प्रकार की खुशबू का इस्तेमाल करने से पहले यह बात जान लें कि आपको एंटीपर्सपिरेंट की जरूरत है अथवा डिओडरेंट की, क्योंकि यह बात आपके शरीर की जरूरत पर निर्भर करती है। अगर आपको अत्यधिक मात्रा में पसीना नहीं आता है लेकिन आप पसीने की दुर्गंध से परेशान है तो आपके लिए डिओडरेंट का चुनाव सही हो सकता है। दूसरी ओर अगर आपको अधिक पसीने के साथ दुर्गध की समस्या भी है तो आपके लिए एंटीपर्सपिरेंट ही सही चुनाव है। आइए इस आर्टिकल के माध्‍यम से पुरुषों के लिए एंटीपर्सपिरेंट और डियोड्रेंट इस्‍तेमाल करने के दो स्‍मार्ट तरीकों के बारे में जानें।


सोने से पहले डियोड्रेंट का इस्तेमाल करें

कुछ पुरुषों सोचते हैं कि एंटीपर्सपिरेंट सुबह इस्‍तेमाल करने के कारण देर तक काम नहीं करता, सुबह आपको रात से ज्‍यादा पसीना आता है इसी वजह से सुबह काम करने से पहले ही एंटीपरर्सपिरेंट पूरी तरह से साफ हो जाता है। लेकिन जब हम इसे पहले इस्‍तेमाल किया जाता है तो इसमें मौजूद एक्टिव तत्‍व और एल्‍यूमिनियम क्‍लोराइड को काम करने का करने का काफी समय मिलता है और ये आपकी त्‍वचा के अंदर जाकर आपकी पसीनें की नलिकाओं पर सीधा असर करता है। जब आप समय पर उठते हैं तो त्‍वचा इसे पूरी तरह से सोख लेती है और बचा हुआ नहाते समय साफ हो जाता है जिससे आपकी शर्ट साफ और बगल सूखी रहती है। क्‍योंकि आप इसे डियोड्रेंट की तरह इस्‍तेमाल नहीं करते, इसलिए आप इसकी वैराइटी को देख सकते हैं।


सुबह के समय स्टैन्डर्ड डियोड्रेंट का इस्तेमाल करें

क्‍योंकि आपके अंडरआर्म अपेक्षाकृत ड्राई रहते हैं तो आपको स्‍ट्रांग डियोड्रेंट की जरूरत नहीं होती, लेकिन फिर भी हम कहेंगे कि आपको घर से निकलने से पहले कुछ ना कुछ जरूर लगाना चाहिए, इससे आपकी बगल काफी फ्रेश और साफ रहेगी। साथ ही आपको अपने डियोड्रेंट का ब्रांड समय-समय पर बदलना चाहिए। शैम्पू की तरह डियोड्रेंट बदलने से आपका शरीर कई प्रकार के केमिकल का आदि हो जाता है, इस तरह समय साथ ये कम प्रभावी हो जाते हैं। अपनी स्टैण्डर्ड चॉइस को नए नुस्‍खों के साथ बदलते रहिए। फिर कुछ महीने बाद अपने पुराने डियोड्रेंट का इस्तेमाल करना शुरू करें, इससे ये पुराना डीयो और बेहतर काम करेगा।

इस लेख से संबंधित किसी प्रकार के सवाल या सुझाव के लिए आप यहां पोस्‍ट/कमेंट कर सकते है।

Image Source : Getty

Read More Articles on Mens Health in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES3055 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर