गुनगुनी धूप में ना फरमाएं आराम, हो सकता है स्किन को नुकसान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 15, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • लोगों को त्वचा संबंधी कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है।
  • धूप से होने वाले नुकसान से अपनी त्वचा को सुरक्षित रखें।
  • कितना भी प्रेशर क्यों न हो, चेहरा साफ कर के ही सोएं।

आजकल जिस तरह मौसम चल रहा है यानि कि न ज्यादा ठंड और ना ही पूरी तरह गर्मी ये स्किन के लिहाज से ज्यादा सही नहीं रहता है। इस मौसम में त्वचा संबंधी कई समस्याओं के होने का डर बना रहता है। चाहे लड़का हो या लड़की, हर कोई चाहता है कि चाहे मौसम कोई भी हो लेकिन उसकी त्वचा हमेशा चमकती और दमकती रहें। ऐसे में उसकी कोमलता बनाए रखने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। क्या आप भी हमेशा सोचते हैं कि सर्दियों में कैसे करें त्वचा की उचित देखभाल? सर्दियों में गुनगुनी धूप अच्छी लगने लगती है लेकिन यह त्वचा के लिए नुकसानदेह साबित हो सकती है। सूरज की तीखी किरणों के प्रभाव से हमारी त्वचा रूखी और बेजान नज़र आने लगती है। आज हम आपको बता रहे हैं कि इस मौसम में शुष्क हवाओं और धूप से होने वाले नुकसान से अपनी त्वचा को कैसे सुरक्षित रखें।

क्लीजिंग

क्या करें

  • सुबह और रात को सोने से पहले अपने चेहरे को रोज़ाना दो बार धोएं। इससे आपकी स्किन साफ और ग्लोइंग रहती है। दिन भर की भागदौड़ में जो धूल आपके चेहरे पर चिपक जाती है वह साफ हो जाती है।
  • तैलीय त्वचा के लिए ऑयल-फ्री क्लींज़र और रूखी त्वचा के लिए सूदिंग क्लींज़र का इस्तेमाल करें। सेंसिटिव स्किन के लिए एक्ने-फाइटिंग क्लींज़र का इस्तेमाल करें।

क्या न करें

  • चेहरे को 8-10 बार साफ न करें। ज्यादा साफ करने से त्वचा का नैचरल ऑयल व नमी खोने लगती है।
  • काम का कितना भी प्रेशर क्यों न हो, चेहरा साफ किए बिना कभी न सोएं। इससे त्वचा के रोम छिद्र बंद हो जाते हैं और एक्ने की समस्या होने लगती है।

मॉयस्चराइजिंग

क्या करें

  • त्वचा को हाइड्रेटेड और संतुलित बनाए रखने के लिए रोज़ाना दो बार मॉयस्चराइज़र ज़रूर लगाएं।
  • अगर आपकी त्वचा तैलीय और संवेदनशील है तो इस पर लाइट मॉयस्चराइज़र क्रीम लगाएं। रूखी त्वचा के लिए इंटेंसिव मॉयस्चराइज़र क्रीम का ही इस्तेमाल करना सही रहता है।
  • अगर आपकी त्वचा अधिक तैलीय है तो जेल-क्रीम या लोशन फॉम्र्युले का इस्तेमाल करें। मिश्रित त्वचा के लिए अलग-अलग मॉयस्चराइज़र लगाएं। जैसे टी-ज़ोन के लिए लाइट फॉम्र्युले और चीक्स पर रिचर फॉम्र्युले का ही इस्तेमाल करना ज़रूरी है।

क्या न करें

  • ध्यान रखें, ज़रूरत से जयादा मॉयस्चराइज़र लगाने से भी त्वचा चिपचिपी नज़र आने लगती है, साथ ही स्किन के पोर्स भी बंद हो सकते हैं।
  • वॉटर बेस्ड मॉयस्चराइज़र या सनस्क्रीन लगाने से बचें। इस तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स में प्रयोग होने वाला पानी आपके चेहरे को फ्रीज़ कर सकता है। अगर आपको किसी प्रकार की जलन या रैशेज़ हो जाते हैं तो इसका साफ मतलब है कि वॉटर बेस्ड मॉयस्चराइज़र लगाने से ऐसा हो रहा है। ऐसी स्थिति में आप तुरंत अपना मॉयस्चराइज़र बदल डालें।

एक्सफोलिएशन

क्या करें

हफ्ते में कम से कम एक बार त्वचा को एक्सफोलिएट करने से मृत कोशिकाएं यानी डेड सेल्स हट जाते हैं और त्वचा निखरी व साफ-सुथरी नज़र आने लगती है।

क्या न करें

एक्सफोलिएशन बहुत बार न करें, क्योंकि इससे त्वचा पर रैशेज़ पड़ सकते हैं। कई बार इससे एलर्जी जैसी गंभीर समस्या भी हो सकती हैं। इसे सिर्फ एक सीमित मात्रा में ही करें।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Beauty In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES568 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर