कही आप गलत राह पर तो नहीं जा रहे ?

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 01, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • अधिकतर बुरी आदतें आरामदायक बिस्तर की तरह होती हैं।
  • कुछ बुरी आदतें आउट ऑफ ट्रेक लाइफ का संकेत होती हैं।   
  • हर समय किसी-न-किसी बात का डर लगा रहना भी है संकेत।
  • कुछ अच्छी आदतें कर सकती हैं वापस लाइफ को ऑन ट्रेक।

क्या आप खुद को असहज और बंधा-बंधा सा महसूस करते हैं? या कही आपको ऐसा तो नहीं लगता कि आप अपने रास्ते से भटक रहे हैं, या फिर आप जिस रास्ते पर चल रहे हैं वो ठीक नहीं है। इस बारे में ठीक से कह पाना थोड़ा मुश्किल है, लेकिन हां एक सवाल बहुत महत्वपूर्ण है कि क्या हम जीवन में लगातार नए रास्तों का निर्माण कर रहे हैं, या फिर हमने पहले से ही एक अच्छी तरह बनाई पक्की सड़क पर चलने का निर्णय कर रखा था। जीवन में कई बार हम आउट ऑफ ट्रेक हो जाते हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं, जो अलग-अलग व्यक्ति में भिन्न होते हैं। लेकिन कुछ ऐसे संकेत होते हैं जो हमको इस बात का अहसास कराते हैं कि हमारी जीवन की गाड़ी आउट ऑफ ट्रेक चल रही है। तो चलिए जानते हैं कौंन से हैं तो संकेत।

 

 

बुरी आदतें आरामदायक बिस्तर की तरह होती हैं जिसमें जाना तो आसान होता है, पर उससे निकलना मुश्किल होता। कई बार इन आदतों का पता नहीं चलता लेकिन आगे चलकर ये स्स्या का कारण बन जाती हैं। मनोविदों के अनुसार इस तरह की आदत एक दिन में नहीं पैदा होती। ये धीरे-धीरे बढ़ती हैं। किसी काम को करने पर बार-बार असफल होने पर भी इस तरह की आदत बन जाती है। ऐसे इंसान लगातार इस भ्रम में रहता है कि सब कुछ ठीक चल रहा है। अपनी कमियां सामने दिखने के बावजूद उन कमियों की अनदेखी करना और उन कमियों से होने वाले नुकसानों से सबक न लेना, इन आदतों के बुरे परिणाम होते हैं।

 

 

 

Off Track

 

 

 

 

मैं जो भी करता हूं वो सही है

अहम की भावना हमेशा नुकसानदायक होती है। हर बात में तर्क करना व हमेशा अपने को ही सर्वश्रेष्ठ बताना एक बुरी आदत ही नहीं बल्कि समस्या का संकेत भी है। किसी की सुनने की बजाय अपनी ही राय का फतवा जारी करना इनके स्वभाव के तौर पर होता है, जिससे हर व्यक्ति ऐसे इंसान से परेशान रहता है। इसलिए एक बार विचार मंथन करें और ये समझें कि आप हमेशा सही नहीं हो सकते।

 

 


खुद का नुकसान करने वाला व्यवहार

ज्यादा खाना, अधिक खरीदारी करना, अधिक पीने या कुछ भी तदात से ज्यादा करना, खुद का नुकसान करने वाला व्यवहार होता है। जी हां, शायद जरूरत से अधिक मेडिटेशन भी इसका ही लक्षण है। हम सभी के जीवन में कुछ न कुछ परेशानियां होती ही हैं लेकिन उपरोक्त लक्षण दर्शाते हैं कि अपके जीवन में चीजें संतुलन से बाहर हैं।


 

 

अत्‍यधिक काम और सब कुछ तितर-बितर

ज्‍यादा काम करने से आपकी सेहत तो खराब होती ही है, साथ ही ये समस्या का संकेत भी हो सकता है। अगर आपकी काम करने वाली टेबल पर और कमरे में सब कुछ तितर बितर पड़ा है तो होशियार हो जाएं। लम्बे समय तक ऐसा चलते रहने पर ये एक साफ संकेत होता है कि जीवन में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है।


 

 

Off Track in Hindi

 

 

 

हर समय डर लगना

अत्यधिक चिंता, बेचैनी, भविष्य का डर आदि इसका प्रमुख कारण हैं जो इस ओर इशारा करते हैं कि आपकी लाइफ ट्रेक से हट चुकी है। इससे शारीरिक और मनोवैज्ञानिक दोनों ही स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसमें थकान, सिरदर्द और अनिद्रा रहती है। हो सकता है कि ये आगे चलकर एंजाइटी का रूप ले, जोकि एक मानसिक रोग है। हमारे देश में मानसिक रोग के प्रति जागरूकता का अभाव है। लगभग 90 प्रतिशत रोगी तो उपचार के लिए कभी हॉस्पिटल भी नहीं जाते। कई मामलों में अगर रोग का पता चल भी जाए तब भी मरीज और उसके परिवार के लोग खामोश ही रहते हैं। सहायता कहां से प्राप्त की जाए, उन्हें यह भी नहीं मालूम होता। अगर मरीज को सही समय पर उचित इलाज उपलब्ध कराया जाए तो कई मानसिक रोगों का पूरी तरह इलाज संभव है।



 

 

सिजोफ्रेनिया

यह एक मानसिक रोग होता है। इसमें रोगी अपनी कल्पनाओं में जीने लगता है। इस रोग में रोगी के लिए वास्तविक और अवास्तविक चीजों में अंतर करना मुश्किल हो जाता है। कई मरीजों को तो अजीब तरह की आवाजें भी सुनाई देने लगती हैं। वह अनेक प्रकार के भ्रमों में जीने लगता है। इसका मुख्य कारण एकाकीपन, बेरोजगारी, गरीबी, नशीली दवाओं का सेवन है। चपन में बच्चे की अधिक पिटाई भी आगे चलकर इस रोग का कारण बन सकती है।




संतुलित भोजन खानें, भरपूर नींद लेने, शारीरिक रूप से फिट रहने व मस्तिष्क का उपयोग करने, तनाव से दूर रहने व डॉक्टरी मदद से इन उपरोक्त समस्याओं से सामना किया जा सकता है और अपनी ऑफ ट्रेक लाइफ को ऑन ट्रेक किया जा सकता है।  


 

 

Read More Articles On Mental Health In Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES4 Votes 1369 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर