सुबह के समय थकान और दर्द हैं रयूमेटायड अर्थराइटिस के लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 14, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • रयूमेटाइड अर्थराइटिस पूरे शरीर में फैलने वाली बीमारी है।
  • इसके कारण मसल्‍स और हड्डियां ज्‍यादा प्रभावित होती हैं।
  • सुबह और दोपहर के समय थकान, दर्द और अकड़न होता है।
  • भूख न लगना, बुखार, पसीना, थकान आदि हैं इसके लक्षण।

रयूमेटाइड आर्थराइटिस शरीर के जोड़ों की बीमारी है, यह पूरे शरीर को प्रभावित करती है। इस बीमारी में दर्द, अकड़न, गर्मी तथा जोड़ों में सूजन की समस्‍या दिखाई देती है। यह भी अर्थराइटिस यानी गठिया का एक प्रकार है जिसमें समय के साथ जोड़ों का आकार बदल जाता है। कई बार वे टेढ़े हो जाते हैं तथा उनकी क्षति भी हो सकती है।

 Symptoms of Rheumatoid Arthritisरयूमेटाइड अर्थराइटिस में जोड़ों के ऊतक मोटे हो जाते हैं और अपने आसपास के मांसपेशियों, हड्डियों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। यदि कोई इस बीमारी का शिकार हो जाये तो यह उस व्‍यक्ति के पूरे शरीर में फैल जाती है। यदि समस्‍या एक हाथ में है तो यह दूसरे हिस्‍से को भी प्रभावित करती है। यदि यह घुटने में है तो दूसरा घुटना भी इसकी चपेट में आयेगा। आइए हम आपको इसके लक्षणों की जानकारी दे रहे हैं। हैं।

 

रयूमेटाइड अर्थराइटिस के लक्षण

  • अर्थराइटिस से संबंधित इस बीमारी में सुबह और दोपहर के समय थकान, दर्द, अकड़न और घाव की समस्‍या हो सकती है।
  • हाथ, कुहनी, कलाई, कंधे, कुल्हे, घुटने, टखने और गर्दन आदि शरीर के हिस्‍से इस बीमारी की चपेट में आते हैं।
  • यह बीमारी होने पर त्वचा के नीचे रयूमेटाइड नाड्यूल या ढेले बनने लगते हैं, यह ट्यूमर की तरह होते हैं, लेकिन इनमें दर्द नहीं होता है।
  • यदि आपका वजन निरंतर घटने लगे तो यह बीमारी रयूमेटायड अर्थरा‍इटिस का लक्षण है। इस बीमारी से ग्रस्‍त आदमी का वजन निरंतर घटने लगता है।
  • रयूमेटाइड अर्थराइटिस होने पर व्‍यक्ति को सोने में सबसे ज्‍यादा परेशानी होती है, रात में सोने के दौरान व्‍यक्ति को सोने में समस्‍या होती है। इसकी वजह से व्‍यक्ति अनिद्रा का शिकार भी हो सकता है।
  • रयूमेटाइड आर्थराइटिस का दर्द मन्दा होता है, जैसे सिर दर्द या दांत का दर्द होता रहता निरंतर होता रहता है।
  • डिप्रेशन का कारण भी यह बीमारी हो सकती है, इसके कारण आदमी को लगातार तनाव और डिप्रेशन बना रहता है।
  • यह बीमारी धीरे-धीरे शरीर को कमजोर बना देती है तथा इसके कारण शरीर ज्‍यादा गतिशील भी नहीं रहता है। खासकर जोड़ों को हिलाने में परेशानी होती है।
  • भूख न लगना, हल्‍का बुखार, पसीना आदि भी इस बीमारी के लक्षण हैं।



हालांकि इस बीमारी के लक्षण अलग-अलग लोगों में और एक ही व्यक्ति में समय-समय पर बदलते रहते हैं। वे लोग जिनमें यह बिमारी कम गंभीर रूप में रहती है वे ज्यादातर दर्द और अकड़न से परेशान रहते हैं और उनके जोड़ों में ज्‍यादा नुकसान नहीं होता है। यदि आपको भी कुछ ऐसे लक्षण दिखें तो चिकित्‍सक से संपर्क कीजिए।

 

 

Read More Articles On Rheumatoid Arthritis In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES11 Votes 13254 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर