संबंध खराब होने के लक्षणों को समझें

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 21, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कई कारणों से खराब हो सकता है दो लोगों का रिश्ता।
  • तनाव, स्वार्थ, अंह, धोखा देना हो सकते है मुख्य कारण।
  • तलाक की स्थिति तक पंहुच भी जाते है अस्वस्थ‍ रिश्ते‍।
  • मिलकर ही ढ़ूढ़ा जा सकता है समस्याओं का समाधान।

रिश्तों में दीमक लगाना शुरू कर देता है। जिससे पति-पत्नी या प्रेमी-प्रेमिका का मनमुटाव आसानी से कोई भी समझ जाता है। यही सबसे बड़ा अस्वस्थ संबंध का लक्षण है। आपस में सौहार्दपूर्ण सामंजस्यपूर्ण  संबंध न होने पर अस्वस्थ रिश्ते को स्वीकारना भी कई बार मुश्किल हो जाता है। आइए जानें अस्वस्थ‍ संबंध के लक्षण।

 

Relationship in Hindi

बिगड़ते संबंधों के संकेत

अस्व‍स्थ‍ रिश्तों के दौरान साथी आपस में एक-दूसरे से इतना अलग बर्ताव करते हैं कि उनमें संबंध बनना भी नामु‍मकिन सा दिखाई पड़ने लगता है।  कुछ अस्वस्थ अवस्थाएं भी रिश्तों के बिगाड़ने में महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाती है। जैसे दोनों में से किसी एक का जिद्दी होना, एकाधिकार दिखाना, अधिक गुस्सैल होना अपने को एक साथी का सर्वोपरि समझना, हर समय तनाव का माहौल इत्यादि। पति-पत्नी के रिश्तों में खटास से दोनों के बीच अहम आड़े आने लगता है जिससे कोई अपने आगे किसी को कुछ नहीं समझता। दोनों में से कोई भी अपनी बातें, अपनी समस्याएं एक-दूसरे से नहीं बांट रहा तो समझो कि उनका रिश्ता अभी स्वस्थ मोड़ पर नहीं है।कई बार तो अस्वस्थ‍ रिश्ते‍ के कारण तलाक तक की स्थिति पैदा हो जाती है।
दोनो साथियों में से कोई भी किसी अन्य के सामने एक-दूसरे का अपमान करने से नहीं चूकते और रोमांटिक बातों को अपने बीच कोई जगह नहीं देते।
यदि दोनों एक-दूसरे को किसी कारणवश धोखा देने लगे तो ये बिगड़ते संबंध का ही लक्षण है।

Relationship in Hindi

कैसे बचाए बिगड़ते संबंध

रिश्‍ते में दोनों पार्टनर के बीच एक दूसरे के प्रति प्‍यार, सम्‍मान, लगाव, भावनात्मक जुड़ाव, विश्‍वास और समर्पण का होना बहुत जरूरी हैं।यह सब भावनाएं किसी भी रिश्‍ते को बनाए रखने के लिए बहुत जरूरी हैं। आपके रिश्‍ते की शुरूआत कैसे भी हुई हो पर रिश्‍ते को बनाए रखने के लिए और सुरक्षित रखने के लिए आपको सतत रूप से इन सब भावनाओं को एक दूसरे को ऑफर करनी होती हैं। एक रिश्‍ते को बनाए रखने की जिम्‍मेदारी दोनों पार्टनर की है। दोनों का ही रिश्‍ते में बराबर का सहयोग होता हैं। परन्‍तु अगर रिश्‍ते में किसी भी प्रकार का मतभेद हो रहा है तो मिलकर उस समस्‍या का समाधान ढूढ़नें की कोशिश करनी चाहिए।और अगर फिर भी समस्‍या का समाधान न निकलें तो अपनी समस्‍या के हल के लिए किसी साइकोलोजिस्ट से मिलें।

एक खराब रिलेशनशिप भी आपके स्वास्थ्य के लिए संभावित खतरा हो सकता है। खराब रिलेशनशिप आपके अंदर के माहौल को विषैला करने लगता है जिससे आपको तनाव, अवसाद, चिंता और कई सारी मेडिकल समस्याएं हो सकती हैं।

 

Images Courtesy@gettyimages

Read More Articles on Dating Tips in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES11 Votes 44662 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर