क्या महिलाओं को वेट से एक्सरसाइज करनी चाहिये

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 10, 2015
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • वेट ट्रेनिंग करने की जरूरत केवल पुरुषों को ही नहीं होती है।
  • बशर्ते आपके डॉक्टर से आपको इसके लिए मना न किया हो।  
  • सही तरीके के वर्कआउट का चयन करें तो कोई समस्या नहीं होती है।
  • वेट ट्रेनिंग करने से कंधे व पीठ मजबूत बनते हैं और शेप में आते हैं।

वेट ट्रेनिंग से जुड़ा ये एक आम मिथ है कि महिलाएं को वेट एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिये। अमूमन महिलाएं भी यही सोचती हैं कि वेट ट्रेनिंग की जरूरत केवल पुरुषों को ही होती है, क्योंकि उन्हें मसल्स से भरा शरीर चाहिए होता है और यदि महिलाएं वेट ट्रेनिंग करेंगी तो उनकी मसल्स भी पुरुषों जैसी ही बन जाएंगी। और इस ही धारणा के चलते सामान्यतः वे वर्कआऊट के दौरान वेट ट्रेनिंग को सिरे से नकार देती हैं, जबकि ये केवल एक मिथ है। सामान्य वेट ट्रेनिंग केवल मसल्स को मजबूत बनाती है। बॉडी बिल्डर्स जैसा भारी शरीर तो बहुत ज्यादा मसल्स ट्रेनिंग व खानपान में बदलाव के बाद बनता है और इसके लिए कई अलग उपाय भी काम में लाए जाते हैं।

 

Women Use Weight for Fitness in Hindi

 

सच तो यह कि प्राकृतिक तौर पर ही महिलाओं का शरीर उस प्रकार मसल्स को डेवलप नहीं करता, जिस प्रकार से पुरुषों का शरीर हो सकता है। जो महिलाएं बॉडी बिल्डिंग के क्षेत्र में जाती हैं, उन्हें भी हैवी मसल्स बनाने के लिए कड़ी मेहनत करनी होती है। इसलिए साधारण वेट ट्रेनिंग महिलाओं के लिये कतई गलत नहीं है। बशर्ते आपके डॉक्टर से आपको इसके लिए मना न किया हो। तो चलिये जानें महिलाओं के लिये वेट ट्रेनिंग से जुड़े मिथ और उनकी वास्तविकता क्या है।

वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज से महिलाओं की मसल्स पुरुषों जैसे बनने लगते हैं।

यह मिथ बेहद आम तो है लेकिन है बिल्कुल निराधार। पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन नाम का हार्मोन तेजी से बनता है जबकि महिलाओं में यह उतनी मात्रा में और तेजी से नहीं बनता है। महिलाएं तो केवल तभी मस्कुलर दिख व बन सकती हैं जब उन्हें सिंथेटिक टेस्टोस्टेरोन अलग से दिया जाए।

वेटलिफ्टिंग करने से स्‍तनों का आकार बढ़ जाता है

वेट ट्रेनिंग करने से कंधे व पीठ मजबूत बनते हैं और शेप में आते हैं ना कि छाती। तो यदि आपके स्‍तनों का आकार बढ़ रहा है तो ऐसा स्तनों में मौजूद चर्बी की वजह से हो रहा है न कि वेटलिफ्टिंग करने के कारण।

वेटलिफ्टिंग बंद करने पर मासपेशियां चर्बी में परिवर्तित हो जाती हैं

अक्सर लोग सोचते हैं कि वेट ट्रेनिंग एक्सरसाइज छोड़ने के बाद महिलाएं ज्यादा मोटी हो जाती हैं। जबकि असलियत में ऐसा नहीं होता है। एक बात साफ-साफ जान लें कि मासपेशियां कभी भी चर्बी में परिवर्तित नहीं हो सकती। जिम करना छोड़ देने के बाद मोटापा ना बढ़े इसके लिये आपको अपनी खाने-पीने की आदतों में बदलावा लाना होगा व अच्छी जीवनशैली का पालन करना होगा।  

 

Women Use Weight for Fitness in Hindi

 

वेट लिफ्टिंग एक्सरसाइज करने से महिलाओं को ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है।

जब आप वजन उठाते हैं तो ब्लड प्रशर थोड़ा बढ़ जाता है और जब वजन रखते हैं तो वापस सामान्य भी हो जाता है। ऐसे में महिलाओं का ब्लड प्रेशर इससे बढ़ेगा यह मानना निराधार है। बल्कि वास्ताव में तो एक्सरसाइज से ब्लड प्रेशर और अन्य कार्डियोवास्कुलर समस्याओं की आशंका काफी कम हो जाती है।


ध्यान रहे कि यदि वेट लिफ्टिंग व हेवी एक्सरसाइज किसी प्रशिक्षक के निर्देशन में हो तो पुरुषों की ही तरह यह महिलाओं के लिए भी बेहद लाभदायक होती है। बस अगर कोई जरूरत है तो वह है अपनी शरीर की आवश्यकताओं को देखते हुए सही तरीके के वर्कआउट का चयन करने की।



Read More Articles On Exercise & Fitness In Hindi.

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 1394 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर