शूज को कैसे बनाएं वाटरप्रूफ

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 09, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Shoes ko kaise banayen waterproof

मानसून आ चुका है। बरसात के मौसम में आप अपनी सेहत का तो खयाल रखते हैं। लेकिन, कभी आपने अपने जूतों की सेहत के बारे में सोचा है। आखिर वही तो बारिश के मौसम की सबसे ज्‍यादा मार झेलते हैं।  

बरसात के मौसम में जूते अक्‍सर गीले हो जाते हैं। इससे उनके खराब होने का तो खतरा रहता है। साथ ही पैरों को भी नुकसान पहुंचता है। लेकिन, जूतों को अगर वाटरपूफ्र बना लिया जाए तो इस समस्‍या से बचा जा सकता है। स्‍पोटर्स शूज आमतौर पर गीले होने पर खराब नहीं होते। लेकिन, बात अगर चमड़े के जूतों की जाए तो बरसात में इनके खराब होने का खतरा सबसे ज्‍यादा होता है। तो आइए कैसे जूतों को पानी से बचाने लायक बनाया जाए ताकि वे खराब न हों और लंबे समय तक आपका साथ निभाएं। 

चमड़े के जूतों को वाटरप्रूफ बनाने के लिए सबसे पहले उसकी क्‍वालिटी के बारे में पता लगाना जरूरी है। पतले चमड़े के जूतों को खास तरह के देखभाल की जरूरत होती है। वहीं मोटे चमड़े के जूतों की वाटरप्रूफिंग करनी ज्‍यादा आसान होती है। 

बाजार में जूतों की वाटरप्रूफिंग करने के लिए कई तरह के उत्‍पाद मौजूद हैं। इनमें कई तरह की क्रीम और तेल मौजूद हैं। ये न सिर्फ आपके जूतों को बरसात के पानी से बचाते हैं बल्कि उन्‍हें साफ, नरम और सूखा भी रखते हैं। बस एक साफ और सूखे कपड़े से इन्‍हें अपने जूते पर लगाकर आप बरसात के इफेक्‍ट को लौटा सकते हैं। इसके साथ ही कुछ स्‍प्रे भी बाजार में मौजूद हैं। इनका भी इस्‍तेमाल किया जा सकता है। हालांकि, इनकी क्‍वालिटी को लेकर सवाल उठाए जाते रहे हैं, इसलिए इन्‍हें खरीदने से पहले अच्‍छी तरह से पड़ताल करनी जरूरी है। 

अच्‍छा तो यही रहेगा कि जब जूते नए हों, तभी उनकी वाटरप्रूफिंग कर ली जाए। लेकिन, आप पुराने जूतों पर भी ऐसा कर सकते हैं। लेकिन, इससे पहले जूतों की जरूरी मरम्‍मत कराना अच्‍छा रहेगा। जूतों की वाटरप्रूफिंग हमेशा साफ जूतों पर ही करनी चाहिए। 


Read More Articles on Monsoon In Hindi 
Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 12474 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर