अब आपको काट नहीं सकेंगे मच्छर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 16, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • अमेरिकी शोधकर्ताओं ने बनाया मच्छरों से बचने का रसायन।
  • इस रसायन को लगाने के बाद मानव अंगों की मौजूदगी नहीं जान पाएंगे मच्छर। 
  • 'डीट' नाम के इस मच्छर रोधी रसायन का विकल्प ढूंढ़ रहे हैं शोधकर्ता। 
  • इस रसायन से कई घातक बीमारियों को फैलाने से रोकने में मदद मिल सकेगी।

कई बीमारियों की वजह है। मच्‍छरों के कारण ही डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया जैसी खतरनाक बीमारियां होती हैं। वैज्ञानिक अभी तक मच्‍छरों से निपटने का पूरी तरह कारगर उपाय नहीं तलाश पाए हैं। लेकिन, लगता है कि अब इस समस्‍या से निजात मिल सकती है।

Mosquitoes and Chemical

अमेरिकी शोधकर्ताओं ने मानव त्वचा में प्राकृतिक रूप से पाये जाने वाला एक रसायन की खोज करने का दावा किया है जो मच्‍छरों को आपसे दूर रख सकता है।

 

अमेरिकन केमकिल सोसायटी की बैठक के दौरान शोधकर्ताओं ने ऐसे पदार्थों के बारे में बताया जिनसे मच्छरों की अपने शिकार को सूंघने की क्षमता खतम हो जाती है।

 

अमेरिकी कृषि विभाग के डॉक्टर अलरिच बर्नियर ने बताया कि "जब आप मच्छरों से भरे एक पिंजरे में हाथ डालें जिसमें हमने कुछ रसायनों का छिड़काव किया है तो सभी मच्छर दीवारों पर ही बैठे रहते हैं और उन्हें देखकर यह समझा जा सकता है कि उन्हें वहां हाथ होने का पता भी नहीं है। हम इसे इनोस्मिया या हाइपोस्मिया कहते हैं, गंध सूंघने की अक्षमता या गंध सूंघने में कमजोरी।"

 

 

शोधकर्ताओं का मानना है कि इस रसायन को लगाने से इंसान कीड़ों के लिए लगभग अदृश्य हो जाता है। जब इन रसायनों को लगाकर एक हाथ को मच्छरों से भरी जगह में रखा गया तो मच्छरों ने उसे पूरी तरह अनदेखा कर दिया।

 

 

शोधकर्ताओं की टीम ने बताया कि उनके इस शोध से कई घातक बीमारियों को फैलाने से रोकने में मदद मिल सकेगी। मच्छर बीमारी फैलाने वाले सबसे ख़तरनाक प्राणियों में से एक हैं ये मलेरिया, डेंगू जैसी खतरनाक बीमारियां फैलाते हैं।

 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुमान के मुताबिक मलेरिया से वर्ष 2010 में 6 लाख 60 हज़ार लोगों की मौत हुई थी।

 

इस शोध को प्रस्तुत करने वाले अलरिच बर्नियर ने कहा कि उनकी टीम 'डीट' नाम के मच्छर रोधी रसायन का विकल्प ढूंढ़ रही है। क्योंकि कई लोग इस रसायन को लगाना पसंद नहीं करते।

 

 

 

Read More Health News in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES1585 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर