जानें क्‍या है गर्भधारण की सही उम्र

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 02, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • स्वस्थ गर्भावस्था के लिए जरूरी है सही समय।
  • 18 वर्ष से पहले गर्भावस्था धारण करना गलत।
  • पहला गर्भ 30 से पहले धारण करना फायदेमंद।
  • शारीरिक क्षमताओं पर निर्भर करती है गर्भावस्था। 

आज के बदलते समय में लड़कियां शादी से पहले कैरियर को प्राथमिकता देने लगी हैं। नतीजन, उनकी शादी की उम्र भी बढ़ने लगी है। अब लड़कियों के लिए 30 के बाद शादी करना कोई बहुत बड़ी बात नहीं है। इसी के साथ ही देर से शादी का कारण देर से गर्भधारण करना भी बन रहा है। लेकिन इन सबसे बीच यह सवाल उठना लाजमी है कि गर्भधारण की सही उम्र क्या होनी चाहिए। किस उम्र के बाद गर्भधारण करना खतरनाक हो सकता है। गर्भधारण कब होना चाहिए, गर्भधारण के लिए सही उम्र क्या हो, आइए जानें इन तमाम सवालों के जवाब को।

 

  • यह तो सभी जानते हैं कि आमतौर पर लड़कियां शरीरिक तौर पर लड़कों से समय से पहले तैयार हो जाती हैं यानी लड़कियों में हार्मोंस 12-13 साल की उम्र में बदलने लगते हैं। अगर कहें कि लड़कियां 12-13 साल की उम्र के बाद यौन संबंधों के लिए तैयार हो चुकी होती हैं तो गलत ना होगा। लेकिन इसके साथ ही यह भी कहना गलत न होगा कि लड़कियां 12-13 साल की उम्र में गर्भधारण के लिए तैयार नहीं होती।

 

  • कहने का अर्थ है कि लड़कियों की गर्भधारण के लिए उम्र कम से कम 17-18 साल होनी चाहिए। गौरतलब है कि कानूनी तौर पर लड़कियों की शादी की उम्र भी कम से कम 18 साल होनी जरूरी है और यह इसीलिए किया गया है ताकि लड़कियों को गर्भधारण के समय शारीरिक समस्याओं का कम से कम सामना करना पड़े।
  • शोधों में भी ये बात साबित हो चुकी है कि लड़कियों की गर्भधारण की सही उम्र 18 साल से लेकर 35 तक है। इससे कम उम्र होने या अधिक होने पर महिलाओं को कई शारीरिक समस्यारओं से गुजरना पड़ सकता है।

 

  • डॉक्टरों के मुताबिक, जो महिलाएं 35 साल के बाद गर्भधारण करती है उन्हें डिलीवरी के समय कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है, इतना ही नहीं इन महिलाओं के बच्चों का विकास भी ठीक तरह से नहीं हो पाता।

  •  जो महिलाएं 35 के बाद या 18 साल की उम्र से पहले गर्भधारण करती हैं उनके बच्चे मानसिक रूप से कमजोर होते हैं । साथ ही ऐसे बच्चे  सामान्य पैदा हुए बच्चों के मुकाबले शारीरिक और मानसिक तौर पर कमजोर होते हैं।

 

  • जो महिलाएं 35 वर्ष के बाद गर्भधारण करती है , उनमें गर्भपात का खतरा भी बढ़ जाता है। इतना ही नहीं ऐसी महिलाओं को प्रसव के बाद भी कई तरह की बीमारियां या फिर शारीरिक समस्याओं को झेलना पड़ सकता है।

 

  • यह तो सभी जानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान और गर्भधारण दोनों के लिए ही सही उम्र बहुत महत्वपूर्ण होती है। 40 पार चुकी महिलाओं को गर्भधारण का रिस्क नहीं लेना चाहिए, क्योंकि 40 के बाद वैसे भी उम्र के कारण कई नई बीमारियां होने लगती हैं जो कि होने वाले बच्चे के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए खतरनाक हो सकती हैं।

 

 

अगर ये कहा जाए कि जो काम जिस उम्र में होना चाहिए, अगर वो समय पर कर लिया जाए तो कोई समस्या नहीं होती। इसके विपरीत यदि किसी काम को समय से पहले या बाद में किया जाए तो उसके दुष्प्रभाव भी साफ दिखाई देंगे।

 

 

Image Source- Getty

Read More Article on Pregnancy in Hindi.

 

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES60 Votes 57604 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Krishna29 Sep 2012

    I have always wanted to know. Thanks:)

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर