तनाव और फैट को हमेशा के लिए कहें अलविदा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 19, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • अनियमित लाइफस्‍टाइल के कारण होता है तनाव।
  • योगासन के जरिये आसानी से कम कीजिए तनाव।
  • ताड़ासन, उत्‍तानासन, अधोमुख शवासन कीजिए।
  • सुबह के वक्‍त इनका अभ्‍यास करना है फायदेमंद।

जिंदगी की भागदौड़ और अस्‍वस्‍थ खानपान की आदतों के कारण शरीर का वजन सामान्‍य से अधिक तो होता ही है साथ ही यह तनाव का भी कारण बनता है। व्‍यस्‍त दिनचर्या और देर रात तक काम और पार्टी के कारण सुबह हम थोड़ा सा वक्‍त व्‍यायाम के लिए नहीं निकाल पाते जिसके कारण हमारा शरीर बीमारियों का घर बन जाता है।

इसलिए शरीर को स्‍वस्‍थ रखने और शरीर की आंतरिक ऊर्जा को जगाने के लिए थोड़ा सा वक्‍त व्‍यायाम और योग के लिए जरूर निकालिये। योग के कई आसन हैं जिनका अभ्‍यास आप आसानी से अपने घर पर कर सकते हैं और इससे आंतरिक ऊर्जा जगाकर शरीर को तनाव मुक्‍त तो बना ही सकते हैं साथ ही शरीर की अतिरिक्‍त चर्बी को भी हमेशा के लिए समाप्‍त कर सकते हैं।
Release Stress in Hindi

ताड़ासन

इसे माउंटेन पोज भी कहते हैं, इस आसन को खड़ा होकर किया जाता है। इसका अभ्‍यास करने से तनाव दूर होता है और शरीर फिट रहता है। इसे करने के लिए दोनों पैरों को आपस में मिलाकर सीधे खड़े हो जायें और दोनों हथेलियों को अपने बगल में रखें। दोनों हथेलियों की अंगुलियों को मिलाकर सिर के ऊपर ले जाइये, हाथों को सीधा रखते हुए सांस भरते हुए हाथों को ऊपर की ओर खींचिए, जिससे आपके कंधों और छाती में खिंचाव आएगा। इसके साथ ही पैरों की एड़ी को ऊपर उठाएं और पैरों की अंगुलियों पर शरीर का संतुलन बनाए रखिए, इस स्थिति में कुछ देर रहें। फिर सांस छोड़ते हुए हाथों को वापस सिर के ऊपर ले आएं। इस आसन को रोज 10-12 बार दोहरायें।

उत्‍तानासन

यह आसन पीठ दर्द और तनाव को दूर कर दिमाग को शांत रखता है। इसे करने के लए दोनों पैर मिलाकर खड़े हो जाएं, दोनों हाथों को सामने की ओर कलाई से क्रास कर लीजिये, अब सांस भरते हुए दोनों हाथों को एक साथ सिर के ऊपर लाएं। गर्दन को पीछे की तरफ मोड़कर हथेलियों की ओर देखें। फिर सांस छोड़ते हुए दोनों बाजुओं को कंधों की सीध में लाएं, सांस भरते हुए हाथों को फिर से सिर के ऊपर लेकर आएं। यह अभ्‍यास रोज 10-12 बार करें।

अधोमुख शवासन

यह आसन रक्त संचार की प्रक्रिया को सुचारू करता है, इससे साइनस, मानसिक थकावट, अवसाद और अनिद्रा की शिकायत से छुटकारा मिलता है। इस आसन को करने के लिए पेट के बल लेट जाएं। अपने सिर को जमीन से लगाकर रखें और दोनों पैरों के बीच करीब एक फुट का अंतर रखिये। पैरों की उंगलियां ऊपर की ओर होनी चाहिएं। अपनी हथेलियों को छाती के बगल में रखें। अब सांस छोड़िए और अपने कूल्‍हों को ऊपर की ओर उठाइए। अपने सिर को अपनी बाहों के बीच झूलता न छोड़ें, उसे बांहों से दबाकर रखें। इस आसन को 5 से 6 मिनट के लिए रोजाना कीजिए।
Discard Fat Forever in Hindi

शवासन

यह आसन दिमाग को शांत करता है और शरीर को फिट रखने में मददगा है। इस आसन को करना बहुत ही आसान है। इसके लिए आप चटाई बिछाकर उपर पीठ के बल लेट जाएं और हाथ-पांव को थोड़ा बाहर की तरफ सीधा रखें। अपने शरीर के हर अंगों को आराम करने दें। इस आसन को आप किसी भी समय कर सकते हैं। नियमित इसे 5-6 मिनट कीजिए।

अगर आप अपनी व्‍यस्‍त दिनचर्या से थोड़ा सा वक्‍त योग और व्‍यायाम के लिए देंगे तो इसके कारण आपका शरीर स्‍वस्‍थ रहेगा और आप बीमार भी नहीं पड़ेंगे।

 

Read More Articles on Weight Management in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES28 Votes 3950 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर