इन कारणों से लड़कों को भी करनी चाहिये पैरों की शेविंग

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 05, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पहले पुरुषों के बालों को मर्दानगी की निशानी माना जाता था।
  • अब क्लीन शेव त्वचा वाले पुरुषों को ज्यादा पसंद किया जाता है।
  • खुद को अच्‍छी तरह से ग्रूम रखने में विश्वास रखते हैं पुरुष।

ज़माना तेज़ी से बदल रहा है, अब त्वचा की देखभाल व साज-संवार केवल महिलाएं ही नहीं बल्कि पुरुष भी करते हैं। ये एक अच्छी बात भी है, अपनी सेहत और सूरत को बेहतर बनाना हर मायने में अच्छा होता है। पहले जहां पुरुषों के बदन के बालों को मर्दानगी की निशानी माना जाता था, आज क्लीन शेव त्वचा वाले पुरुषों को ज्यादा पसंद किया जाता है। पैरों के मामले में भी यही बात लागू होती है। चलिये आज जाने कि किन कारणों से लड़को को भी करनी चाहिये पैरों की शेविंग -

 hair wax

बदल रहा है चलन

जिमिंग, स्विमिंग व बाकी की फिटनेस एक्टिविटी को लेकर लोगों में काफी जागरूकत आई है और महिलाएं हों या पुरुष सभी इन फटनेस एक्टिविटी में बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते हैं। अगर बात पुरुषों के पैरों की शेविंग की करें तो ये शायद कई लोगों को सुनने में थोड़ा अटपटा लगे, लेकिन ऐसे बहुत से पुरुष हैं जो खुद को अच्‍छी तरह से ग्रूम रखने में विश्वास रखते हैं। और इसके पीछे कई वाजिब कारण भी हैं। दरअसल रनिंग, साइकिलिंग व स्विमिंग आदि फिटनेस वाली गतिविधियों में शोर्ट और फिटिंग वाले नाइलोन व पोसिस्टर वाले स्पोर्ट वीयर पहनने पड़ते हैं, ताकि शरीर के तापमान को सही रखा जाए और सही तरीके से एक्सरसाइज हो पाए। ऐसे में पैरों के बड़े बाल काफी समस्या पैदा करते हैं। इनके कारण अधिक पसीना आता है और इसके कारण बलतोड़ होने का खतरा भी होता है। साथ ही पैरों पर भरे हुए अनावश्यक बाल देखने में भी अच्छे नहीं लगते हैं।

इसे भी पढ़ें- पुरुषों को भी होती है ब्यूटी ट्रीटमेंट की जरूरत



इसके अलावा इंग्रोन हेयर को भी हटा देना चाहिये। इंग्रोन हेयर दरअसल वे बाल होते हैं जो त्‍वचा से ठीक प्रकार से निकल नहीं पाते और त्वचा के भीतर ही रह जाते हैं। देखने में ये त्‍वचा पर दाने के निकलने जैसे प्रतीत होते हैं। अगर इनग्रोन हेयर को जल्‍द ट्रीट न किया जाए तो संक्रमण होने की आशंका भी रहती है।


आप चाहें तो पैरों की शेविंग कर सकते हैं या इन्हें वैक्स भी कर सकते हैं। शेविंग करने में समय अधिक लगता है, लेकिन इसे करना बेहद आसान होता है। लेकिन यदि आप पैरों की शेविंग कर रहे हैं तो इसके बाद पैरों पर लोशन लगाना ना भूलें। ऐसा इसलिये क्‍योंकि शेविंग से पैरों की त्वचा रूखी हो सकती है। वैक्‍सिंग का असर पैरों पर ज्‍यादा देर तक रहता है। लेकिन इससे पैर काफी मुलायम और स्मूथ बन जाते हैं, साथ ही इससे इनग्रोन हेयर से भी छुटकारा मिलता है।



Image Source - Getty

Read More Articles On Beauty & Personal Care in Hindi.

Write a Review
Is it Helpful Article?YES9 Votes 3296 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर