पूजा और नमाज से बढ़ती है उम्र, घटता है तनाव!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 02, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • धार्मिक स्थानों पर प्रार्थना करना तनावमुक्‍त रखता है।
  • प्रार्थना करने वालों में तनाव का स्‍तर कम होता है।
  • तनाव न करने वाले लोग हमेशा खुश रहते हैं।

एक नए रिसर्च में वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि पूजा, नमाज या प्रेयर करने से मानसिक तनाव कम होता है और व्‍यक्ति की आयु बढ़ती है। अमेरिका की वैन्डरबिल्ट यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों ने पाया कि मंदिर, मस्जिद, चर्च, गुरूद्वारा व अन्‍य धार्मिक स्थानों पर जो लोग नियमित रूप से प्रार्थना करने जाते हैं उनमें न जानें वालों के मुकाबले तनाव का स्‍तर कम होता है। तनाव न करने वाले लोग हमेशा खुश रहते हैं जिससे वह लंबा जीवन जीते हैं। यह अध्ययन ‘प्लॉस वन’ जर्नल में प्रकाशित हुआ है।

अगर कोई पीठ पीछे करे बुराई तो उसे ऐसे दें जवाब!

वैज्ञानिकों ने इस नतीजे तक पहुंचने के लिए 40 साल से 65 साल तक के वयस्कों पर अध्‍ययन किया। पूजा-पाठ करने से इनके मौत के जोखिम में लगभग 55 फीसदी की कमी आई। शोधकर्ताओं के अनुसार, इन निष्कर्षों ने इस धारणा की पुष्टि की, कि धार्मिकता या आस्तिकता तनाव घटाने में मददगार होती है।

चुटकियों में जोड़ों का दर्द दूर करने के लिए इस्तेमाल करें नींबू का छिलका

वैज्ञानिकों ने पाया कि जो लोग पूजा-पाठ नहीं करते थे उनमें शारीरिक क्षरण का स्तर अपेक्षाकृत ज्‍यादा था। जबकि कि धार्मिक स्‍थल पर जाकर पूजा-पाठ करने वाले प्रतिभागियों में शारीरिक क्षरण का स्तर काफी कम था। शोधकर्ताओं ने कहा, पूजा-पाठ का सकारात्मक प्रभाव शिक्षा, गरीबी, स्वास्थ्य बीमा और सामाजिक समर्थन जैसे अन्य मानकों में अंतर के बावजूद प्रभावी पाया गया।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप
Read More Articles On Mind & Body In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1103 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर