कमर में इन 2 एक्यूपंचर पॉइंट को दबाएं साइटिका से राहत पाएं

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 01, 2016
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • साइटिका की समस्‍या से परेशान हैं तो एक्‍यूपंचर विधि से करें इलाज
  • एक्‍यूपंचर चिकित्‍सा 3000 साल पुरानी चीनी चिकित्‍सा पद्धति है।
  • इससे पीठ, कमर और अन्‍य साइटिका वाले दर्द से छुटकारा पा सकते हैं।

साइटिका (कटिस्नायुशूल) की समस्‍या होने पर मरीज को पीठ दर्द, पैरों में और पैरों की पिंडलियों में दर्द होने के साथ पैरों में संवेदनशीलता में कमी आने लगती है। दरअसल हमारे शरीर में सबसे लंबी नस, जो कि पीठ के नीचले हिस्से से शुरू होकर पैर के अंगूठे तक होती है, जिसे मेडिकल साइंस साइटिका नर्व कहा जाता है। जो कि शरीर की सबसे महत्‍वपूण नर्व मानी जाती है। जब हमारे शरीर में साइटिका नर्व किसी कारणवश दब जाती है तो हमें पीठ में दर्द प्रारम्‍भ हो जाता है। इस नर्व के दबने से आसपास की नसों को भी यह दबाने का कार्य करती हैं जिसके कारण अलग-अलग जगहों पर दर्द शुरू हो जाता है। डॉक्‍टर इसे साइटिका नाम से बुलाते हैं।

इसे भी पढ़ें : करें नौकासन, तुरंत दूर भगाएं टेंशन

body
image source : healthylifestyleadvice

एक्‍यूपंचर विधि से साइटिका का इलाज

अगर आप भी साइटिका की समस्‍या से परेशान हैं तो आपके लिए एक्‍यूपंचर विधि बहुत ही फायदेमंद हो सकती है। यह 3000 साल पुरानी चीनी चिकित्‍सा पद्धति है। 2015 में हुए एक शोध के मुताबिक यह चिकित्‍सा पद्धति साइटिका से पीड़ित मरीजों में दर्द की तीव्रता को कम करने में प्रभावी पाई गई है। स्टडी के मुताबिक एक्‍यूपंचर विधि से साइटिका का इलाज करने में कोई साइडइफेक्‍ट भी नही है। इस रिसर्च की रिपोर्ट जर्नल ऑफ कॉम्प्लिमेंट्री एंड ऑल्टर्नटिव मेडिसिन में छपी है। तो चलिए हम आपको बताते हैं एक्‍यूपंचर विधि से साइटिका का इलाज कैसे किया जाए।

 

एक्‍यूपंचर प्‍वाइंट को समझें

वैसे शरीर में कई एक्‍यूपंचर प्‍वाइंट होते हैं, जहां पर सुई चुभोकर बीमारियों का इलाज किया जाता है। मगर साइटिका के दर्द के लिए सुई चुभोने के बजाए सिर्फ उस प्‍वाइंट को दबाना है। ये प्‍वाइंट कमर के दोनों किनारों पर होती है, जिसे B48 और GB30 के नाम से जाना जाता है। इस प्‍वाइंट पर मसाज कर के साइटिका यानी बैक पेन, हिप पेन कमर के आस-पास के एरिया के दर्द को ठीक किया जा सकता है। हालांकि कुछ लोगों को इस प्‍वाइंट पर पहले से ही दर्द होता है ऐसे में उन जगहों पर बहुत ही सावधानी पूर्वक मसाज करनी चाहिए।

नोट: साइटिका के दर्द से परेशान हैं तो आप इस एक्‍यूपंचर चिकित्‍सा पद्धति को अपना सकते हैं। मगर बिना एक्‍सपर्ट की राय के बगैर इस उपचार को न अपनाएं।

Image Source : Getty
Read More Articales on Alternative Therapy in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES9 Votes 2478 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर