प्रारंभिक गर्भपात के कारण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 27, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • किसी लापरवाही या स्वास्थ्य समस्या के कारण गर्भपात हो सकता है।
  • गर्भावस्था के पहले तीन महीने काफी महत्वपूर्ण माने जाते हैं।
  • स्वस्थ जीवनशैली गर्भपात के खतरे को दूर करता है।
  • कम से कम तनाव लें और खुश रहने की कोशिश करें।

गर्भावस्था  की शुरुआती अवस्था में किसी भी कारण से भ्रूण के नष्ट होने को गर्भपात कहते हैं। प्रारंभिक गर्भपात के कारणों का कई बार पता भी नहीं चलता और  गर्भावस्था के पहले 13 सप्ताह के दौरान गर्भपात सबसे आम हैं।

causes of miscarriageगर्भावस्था की शुरुआती अवस्था में गर्भपात की सबसे ज्यादा संभावना होती है। जरा सी असावधानी आपसे मां बनने का सुख छीन सकती है। कई बार मां का शरीर भ्रूण को विकसित करने में असमर्थ होता है जिसकी वजह से भी गर्भपात हो सकता है। कभी-कभी महिलाओं की बच्चेदानी में कोई कमी होने के कारण या उसके अन्दर किसी तरह का रोग पैदा हो जाने के कारण गर्भपात हो जाता है।

 

गर्भपात के कारण 

गर्भपात के कारण हर महिला में अलग-अलग हो सकते हैं और अक्सर इन कारणों की पहचान नहीं हो पाती । आईए गर्भपात के सामान्य कारणों को जानें।

  • कई बार ऐसा देखा गया है कि महिलाओं की बच्चेदानी में दोष होने के कारण भ्रूण पूरी तरह से विकास नहीं कर पाता है जिसके कारण गर्भपात होता है।
  • हार्मोनल समस्या, संक्रमण या मां को स्वास्थ्य समस्या होने के कारण भ्रूण के विकास पर गंभीर प्रभाव उत्पन्न कर सकते हैं।
  • दोषपूर्ण जीवनशैली जैसे धूम्रपान, दवा का प्रयोग, अत्यधिक कैफीन के प्रयोग से गर्भपात होने की संभावाना बढ़ जाती है।
  • यदि पहले एक से अधिक बार गर्भपात हो चुका है तो गर्भपात की संभावना दुगनी हो जाती है।
  • मधुमेह, किडनी रोग या थायराइड रोग भी गर्भपात के कारण बन सकते हैं
  • शुरूआती गर्भावस्था में संक्रमण जैसे रूबेला, लिस्टेरिया या क्लेमाइडिया है।
  • आरएच फैक्टर जो पति के साथ संगत नहीं है। अगर पुरुष का आरएच फैक्टर पॉजिटिव हो व महिला का आरएच फैक्टर निगेटिव हो तो होने वाले बच्चे में अनेक विकृतियां होती हैं।
  • मां की आयु का गर्भपात से गहरा संबंध है। 30 के बाद गर्भपात की दर बढ़ जाती है तथा 35 के बाद और वृद्धि होती है।

 

 

गर्भपात का खतरा कम करने के उपाय

  • अगर आप व आपके पति धूम्रपान करते हैं तो इस आदत को गर्भवती होने से पहले छोड़ दें। इससे गर्भपात का जोखिम निश्चित तौर पर कम होगा।
  • यदि आपका पहले भी गर्भपात हुआ है तो आप डाक्टर की सलाह के अनुसार ही चलें।  गर्भवस्था के शुरुआती कुछ महीनों में ज्यादा से ज्यादा आराम करें व गर्भावस्था के दौरान सेक्स से बचें।
  • कभी-कभी कमजोर सर्विक्स गर्भपात का कारण बन सकती है। जैसे-जैसे शिशु बढ़ता है, कमजोर सर्विक्स खुल सकती है और गर्भपात का कारण बन सकती है। कमजोर सर्विक्स जन्मजात हो सकता है या पिछली गर्भावस्था के दौरान सर्विक्स के चीरे या चोट के कारण हो सकती है। शिशु के पैदा होने तक तैयार होने के लिए डॉक्टर ग्रीवा के चारों ओर विशेष टांके लगाकर इसको बंद रख सकती हैं।

 

 

Read More Article on Miscarriage in hindi.

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES44 Votes 56495 Views 2 Comments
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • neha04 Sep 2012

    karan aur upaye batane ke liye thanx

  • madhumita04 Sep 2012

    iske alawa bhi koi karan agar hote hai toh wo bhi bataye pls

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर