आर्थराइटिस के दर्द से कैसे पायें छुटकारा

By  ,  सखी
Apr 28, 2011
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • महिलाओं को अधिक परेशान करता है अर्थराइटिस।
  • नींबू पानी पीने से जोड़ों की सूजन होती है कम।
  • व्‍यायाम करने से भी अर्थराइटिस का दर्द होता है कम।
  • भ्रामक विज्ञापनों पर आंख मूंदकर न करें भरोसा।

स्‍त्रियों में पुरुषों की अपेक्षा आर्थराइटिस होने का खतरा ज्यादा होता है। इससे बचने के लिए विशेषज्ञ हमें अपने आहार में ऐसे फलों और सब्जियों को शामिल करने की सलाह देते हैं जिनमें विटामिन, एंटीऑक्सीडेन्ट्स और पौष्टिक तत्व उचित मात्रा में मौजूद हों। कुछ खाद्य-पदार्थो का सेवन और कुछ बातों का ध्यान रखकर इस रोग पर काबू पाया जाया सकता है। 

दर्द भगाये अदरक

सदियों से अदरक को दर्द निवारक के रूप में इस्‍तेमाल किया जाता है। यह जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने के लिए बहुत कारगर है। रोजाना दिन में दो बार अदरक का सेवन करने से आपको दर्द को दूर करने में मदद मिलती है।


इसे भी पढ़ें, जानें कच्‍चे पपीते का ये ड्रिंक कैसे दूर होगा गठिया का दर्द

joint pain

 

ताजा फल करेंगे हल

ताजे फलों और सब्जियों के रस जोड़ों के दर्द में अद्भुत उपचार हैं। ऐसा माना जाता है कि लहसुन, मौसमी, संतरा, गाजर और चुकंदर के रस का पर्याप्त सेवन इस रोग से निजात दिलाने में सहायक है।

 

फूल गोभी का रस

फूल गोभी में मौजूद तत्‍व जोड़ों के दर्द को कम करने में बहुत मदद करते हैं। माना जाता है कि रोजाना इसका रस पीने से जोड़ों के दर्द को कम करने में मदद मिलती है। यदि आपको थायराइड की समस्‍या हो, तो एक बार डॉक्‍टर से सलाह करके ही फूल गोभी का सेवन करें।


नींबू के रस से मालिश

नींबू का रस बहुत अच्‍छा दर्द निवारक माना जाता है। जोड़ों पर नींबू के रस की मालिश करने से दर्द में राहत मिलती है। आप चाहें तो रोजाना नींबू पानी का सेवन भी कर सकते हैं। इससे जोड़ों की सूजन कम होती है और दर्द कम होता है।


शॉवर दिलाये राहत

जोड़ों में दर्द के समय या बाद में गर्म पानी के टब में लेटने से काफी राहत मिलती है। इसके साथ ही यदि आप चाहें तो गर्म पानी के शॉवर के नीचे बैठें। आपको निश्चित ही राहत मिलेगी। और दर्द कम हो जाएगा।


इसे भी पढ़ें, तनाव से होने वाले गठिया के लक्षण और उपचार

joint pain

बाम से हो सकता है नुकसान

दर्द घटाने के बाम, क्रीम आदि बार-बार इस्तेमाल न करें। इनके द्वारा पैदा हुई गर्मी से राहत तो मिलती है, पर धीरे-धीरे ये नुकसान पहुंचाते हैं। इसलिए लंबे समय तक बाम का इस्‍तेमाल आपको नुकसान पहुंचा सकता है। कभी भी दर्द निवारक बाम लगाकर उस पर सेंक न करें। इससे जलन बहुत बढ़ सकती है।

 

जोड़ों के दर्द के लिए चमत्कारिक दवा, तेल या मालिश वगैरह के दावे बहुत किए जाते हैं। इन्‍हें आंख मूंदकर इस्‍तेमाल करने से बचें। अकसर ऐसे दावे सच नहीं निकलते और बाद में आपको पछताना पड़ सकता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Image Courtesy- getty images

Read More Article on Arthritis in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES49 Votes 64722 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • sumit14 Apr 2015

    Arthritis ka dard bahut hi asahneeya aur peedadayak hota hai, lekin apke is article me is dard se chhutkara pane ke bahut hi asan tips hain.

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर