ओव्‍यूलेशन चक्र महिलाओं का बनाता है प्रतिस्‍पर्धी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 25, 2014
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • ओव्‍यूलेशन के वक्‍त महिला में आता है बदलाव।
  • यह महिला में होने वाली बॉयोलॉजिकल प्रक्रिया है।
  • टेक्‍सास यूनिवर्सिटी ने इसपर किया है अध्‍ययन।
  • इस दौरान बढ़ जाती है महिला की महात्‍वाकांक्षा।

ओव्‍यूलेशन के समय महिला के व्‍यवहार में बदलाव आता है। एक शोध में यह बात सामने आयी है कि महिला के शरीर में होने वाले इस तरह के बॉयोलॉजिकल प्रक्रिया में महिला का रुख कुछ ज्‍यादा ही आक्रामक हो जाता है जो उन्‍हें प्रतिस्‍पर्धी बना देता है।

ओव्‍यूलेशन के समय होने वाले हार्मोनल बदलाव का असर महिला के मस्तिष्‍क पर भी पड़ता है, इसके कारण उसके बात करने के तरीके के साथ-साथ उसके पहनावे में भी बदलाव आता है। इस लेख में विस्‍तार से जानिए इस नये शोध के बारे में।

Ovulation Cycle in Hindi

क्‍या है ओव्‍यूलेशन

ओव्‍यूलेशन महिला के शरीर में होने वाली एक बॉयोलॉजिकल प्रक्रिया है जिसमें एक परिपक्‍व ओवेरियन फूट जाता है और मासिक धर्म के दौरान निकल जाता है। मासिक धर्म के आधार पर इस समय का निर्धारण किया जाता है जो कि हर महिला में अलग-अलग होता है। सामान्‍यतया, मासिक धर्म का समय 14 से 28 दिन होता है। लेकिन ओव्‍यूलेशन 10 से 19 दिन के बीच में कभी भी हो सकता है।

इस समय ओवम यानि डिम्‍ब ग्रंथि, स्‍पर्म के साथ फ्यूज हो सकता है और निषेचन में बदल जाता है। गर्भधारण करने में यह पीरियड महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाता है। यानी इस वक्त अगर यौन संबंध बनाये जायें तो महिला आसानी से गर्भवती हो सकती है। बांझपन का उपचार भी इस पीरियड के समय की गणना के द्वारा उसी दौरान सेक्‍स करके किया जा सकता है। ओव्‍यूलेशन के दौरान आपके शरीर को अतिरिक्‍त ध्‍यान देने की जरूरत होती है जिससे कि आप आसानी से गर्भवती हो सकें।

क्‍या कहता है शोध

हाल में हुए एक नये शोध में यह बात सामने आयी है कि ओव्‍यूलेशन पीरियड के दौरान महिला के व्‍यवहार में बदलाव आता है और सामान्‍य लोगों की तुलना में अधिक प्रतिस्‍पर्धी हो जाती है। सैन आंटोनियों के यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्‍सास और यूनिवर्सिटी ऑफ मिनेसोटा द्वारा कराये गये एक शोध में यह बात सामने आयी है।

इस शोध के लिए ओव्‍यूलेशन पीरियड और सामान्‍य मासिक धर्म में चल रही महिलाओं के बीच किया गया। जो महिलायें ओव्‍यूलेशन पीरियड में थी उनका व्‍यवहार दूसरी महिला के प्रति बिलकुल तानाशाह की तरह था, वे उन महिलाओं को तुच्‍छ समझ रही थीं। एक अन्‍य शोध में यह पाया गया कि इस दौरान महिलायें अपने खर्चे पर भी लगाम लगाती हैं और वे बचत पर ध्‍यान देती हैं।
Women More Competitive in Hindi

तुलनात्‍मक हो जाती है महिला

ओव्‍यूलेशन के वक्‍त महिला की तार्कि‍क क्षमता सामान्‍य महिलाओं की तुलना में बढ़ जाती है और वह अधिक तुलनात्‍मक हो जाती है। वे अधिक विलासिता की कल्‍पना करने लगती हैं, वो अच्‍छे गहने और शानदार घर भी चाहती हैं। अपने समकक्ष महिलाओं से वे खुद को श्रेष्‍ठ समझने लगती हैं। कुछ महिलाओं में यह भी ख्‍याल आता है कि ये समय यौन संबंध बनाने के लिए नहीं है, तो क्‍यों न इस समय यौन संबंध बनाने से बचा जाये।

इस दौरान महिला के मन में अच्‍छे विचार आते हैं जिसके कारण उसका दिमाग भी विलासितापूर्ण जीवन के बारे में सोचता है और उसकी पसंद में मंहगी वस्‍तुयें शुमार हो जाती हैं।

 

Read More Articles on Sex and Relationship in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES36 Votes 3666 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर