गॉल ब्लैडर की पथरी को कुछ ही दिनों में काटता है प्याज का रस, जानें कैसे?

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 10, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • कच्चा प्याज उच्च रक्तचाप को सामान्य करता है।
  • प्याज सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता, यह गुणकारी भी है।
  • प्याज में पाए जाने वाले मिनरल्स इम्यूनिटी को मजबूत बनाते हैं। 

प्याज एक ऐसी चीज है जिसमें कई रोगों का इलाज छिपा है। प्याज सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाता, यह गुणकारी भी है। प्याज में न जाने कितनी ही बीमारियों का इलाज छिपा है। यह हरा हो, लाल हो या फिर सफेद सेहत के लिए किसी वरदान से कम नहीं। गर्मियों में कच्चे प्याज का अधिक से अधिक सेवन करने से लू से बचा जा सकता है। इसमें प्रोटीन, फाइबर, कार्बोहाइड्रेट तथा मिनरल्स होते हैं। इसमें पाए जाने वाले मिनरल्स व विटमिंस में कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन, कैरोटिन, थियामीन, राइबोफ्लेविन व नियासिन शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता बढाते हैं। एक शोध से पता चला है कि प्याज खाने वाले लोगों में पेट के कैंसर का खतरा कम हो जाता है। प्याज में मौजूद मैग्नीशियम आंतों, दिल, दिमाग, आंखों व बालों के लिए गुणकारी बताया गया है। आज हम आपको प्याज के फायदो के बारे में बता रहे हैं।

इसे भी पढ़ें : जानें, क्या होती है स्लिप डिस्क और क्या है इसका घरेलू उपचार

  • जो लोग गुर्दे या गॉल ब्लैडर की पथरी से परेशान होते हैं उनके लिए प्याज किसी वरदान से कम नहीं है। यह न सिर्फ गॉल ब्लैडर की पथरी को दूर करता है बल्कि पेट को भी साफ रखता है। पथरी को निकालने में प्याज का रस काफी प्रभावी होता है। प्याज के रस में चीनी मिलाकर शरबत की तरह पीने से पथरी बाहर निकल जाती है।
  • प्याज में पाए जाने वाले मिनरल्स इम्यूनिटी को मजबूत बनाते हैं। इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स और विटमिन सी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाते हैं।
  • कच्चा प्याज उच्च रक्तचाप को सामान्य करता है। साथ ही बंद आर्टरीज को खोलता है। प्याज में मौजूद गंधक यौगिक रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर तथा ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद करते हैं। इसमें मिथाइल स्लफाइड और अमीनो एसिड होता है, तो खराब कोलेस्ट्रॉल को घटा कर अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढाता है।
  • प्याज हमारे मस्तिष्क को कई तरह से लाभ पहुंचाता है। इसमें पाए जाते वाले कई प्रकार के मिनरल्स दिमाग में पहुंचने वाले वायरस को खत्म करने में सहायक होते हैं। ऐसा इसकी गंध में पाए जाने वाले यौगिक के कारण होता है। साथ ही यह दिमाग की कोशिकाओं को लचीला भी बनाता है।
  • प्याज खाने से नींद बेहतर आती है। प्याज में मौजूद क्वाजिटिन यौगिक दर्द, अवसाद व चिंता को कम करता है। कच्चे प्याज का सैलेड रोजाना खाने से पर्याप्त नीद आती है।
  • कच्चा प्याज नियमित रूप से खाने से लू नहीं लगती। साथ ही धूप में बाहर जाते समय अपने साथ अगर प्याज रखा जाए तो लू नहीं लगती। ये बॉडी में नमी का संतुलन भी बनाए रखता है।
  • प्याज काटते समय आंखों से आंसू टपकते हैं, ऐसा प्याज में मौजूद सल्फर की वजह से होता है। इस सल्फर में एक तेल मौजूद होता है, जो कि एनीमिया को ठीक करने में सहायक होता है। खाना पकाते समय यही सल्फर जल जाता है, इसलिए ऐसे में कच्चा प्याज खाना चाहिए।
  • खानपान की गलत आदतें और आधुनिक लाइफस्टाइल हमारे शरीर पर विपरीत प्रभाव डालती हैं। यह धीरे-धीरे हमारी कोशिकाओं को बेअसर कर देती हैं। कोशिकाओं को होने वाले नुकसान के कारण कैंसर होता है। प्याज में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट्स कोशिकाओं के नुकसान को रोकते हैं। साथ ही कैंसर कारकों को पनपने नहीं देते। इसलिए कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों को दूर रखने के लिए प्याज का सेवन उत्तम है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Home Remedies In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1 Vote 2174 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर