नींद की बीमारियों से रहें सावधान

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 16, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

डॉक्‍टर नींद से संबंधित छोटी से छोटी समस्या के प्रति उदासीनता से बचने की सलाह देते हैं। डॉक्‍टरों का मानना है कि एक तिहाई मनुष्यों में स्पष्ट तौर पर नींद से संबंधित 80 बीमारियों में से कोई न कोई बीमारी होती है।

 

nind ki bimariyo se rahe sabdhanजिसमें से कुछ बहुत ही हानिकारक होते हैं। अगर हम थोड़ा सा भी ध्‍यान दें तो इन बीमारियों से बच सकते है और सबसे अच्छी बात यह है कि इसका इलाज भी हमारे ही हाथों में है।

 

[इसे भी पढ़े- नींद क्यों नहीं आती]

नींद हमारे जीवन का ऐसा हिस्सा है जिससे हम समझौता नहीं कर सकते। डॉक्टरों के मुताबिक हमारे सोने के तरीकों पर ही हमारा स्वास्थ्य निर्भर करता है। इसलिए नींद से संबंधित बीमारियों को लापरवाही से नहीं बरतनी चाहिए। नींद में कमी के कारण कई तरह की समस्याएं जन्म ले सकती हैं जिनमें स्मरण शक्ति का कमजोर होना, घबराहट, सुस्ती, तनाव, ठीक से तकिया न लगाने पर होने वाली दिक्कतें, मधुमेह, हृदयरोग तथा दिल का दौरा पड़ना आदि शामिल हैं। भारत में फिलिप्स तथा नील्सन कंपनी द्वारा हाल ही में किए गए एक अध्ययन में नींद से संबंधित कुछ रोचक तथ्य सामने आए हैं। इस अध्ययन के अनुसार ज्‍यादातर लोगों को नींद की कमी की शिकायत रहती है। इन लोगों में केवल दो फीसदी ही डॉक्‍टर के पास जाते हैं।

[इसे भी पढ़े- भरपूर नींद के फायदे]

 

93 फीसदी लोग पूरी नींद नहीं ले पाते हैं।
72 फीसदी लोग नींद के बीच में एक से तीन बार जगते हैं।
57 फीसदी लोगों का मानना है कि नींद की कमी के कारण उनका काम प्रभावित होता है।
रात में आठ घंटे से भी कम सो पाते है।
87 फीसदी लोगों का स्‍वास्‍थ्‍य नींद की कमी के कारण प्रभावित होता है।
62 फीसदी लोग प्रतिरोधात्मक श्वासरोधी बीमारी से ग्रसित हैं।
19 फीसदी लोगों का मानना है कि नींद की कमी के कारण परिवार के साथ संबंध प्रभावित होता है।
38 फीसदी लोगों ने काम के दौरान अपने सहयोगियों को सोते हुए देखा है।
33 फीसदी लोग नींद में खर्राटे लेते है।
11 फीसदी लोग नींद की कमी के कारण दफ्तर से छुट्टी ले लेते हैं।

 

 

Read More Articles On- Health news in hindi

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES12 Votes 2880 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर