नयी तकनीक से मिलेगा गंजेपन से छुटकारा

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 23, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

गंजेपन से छुटकारा पाने की नयी तकनीकगंजापन दुनिया भर के लाखों-करोड़ों लोगों की समस्‍या है। और अभी तक इससे निपटने के लिए सीमित विकल्‍प मौजूद हैं। लेकिन, ब्रिटिश वैज्ञानिकों की नयी खोज की बदौलत अब गंजेपने से छुटकारा मिल जाने की उम्‍मीद है। ऐसा छोटे-छोटे सेल की क्‍लोनिंग की मदद से होगा।

शोध के मुताबिक बाल झड़ने के उपचार में इस प्रक्रिया का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। शोधकर्ताओं ने इस सेल को प्रयोगशाला में विकसित किया। इन्‍हें दोबारा त्‍वचा में प्रवेश कराया गया और देखा कि उस जगह पर बाल उग आए हैं।

डरहम यूनिवर्सिटी और कोलंबिया यूनि‍वर्सिटी के शोधकर्ताओं के मुताबिक यह अध्‍ययन गंजेपन से पीडि़त लाखों लोगों को सुकून दिलाएगा। अभी तक इसके इलाज के कुछ ही विकल्‍प मौजूद हैं।

यह ड्रग या बालों के प्रतिरोपण तक ही सीमित हैं। लेकिन उपचार के ये दोनों तरीके बहुत असरदार नहीं हैं। ड्रग के दुष्‍प्रभाव हैं और बालों के प्रतिरोपण में पहले से ही मौजूद बालों को बांटा जाता है। इसके विपरीत नयी तकनीक से सिर पर उगने वाले बालों की संख्‍या बढ़ाई जा सकती है।
शोधकर्ताओं की टीम ने इनसानी सिर से लिए गए बालों से डरमल पैपिले नाम छोटे सेल बाहर निकाले। बालों की जड़ में मौजूद इन सेल में नये बालों को उगाने का राज छिपा है।

प्रोसीडिंग्‍स ऑफ द नेशनल अकेडमी ऑफ सांइसेस पत्रिका की रिपोर्ट में कहा गया है कि इस तरीके से होने वाले उपचार की कीमत अन्‍य के मुकाबले कम होगी।

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES7 Votes 1371 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर