होली के रंगों से बचाएंगे ये नेचुरल क्लींसर

By  , विशेषज्ञ लेख
Mar 03, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • नेचुरल क्लींसर से उतर सकते हैं होली के रंग।
  • त्वचा के लिए बनाए जा सकते हैं कुछ घरेलू क्लींजर।
  • सिर की त्वचा को रंगों से बचाते हैं कुछ ऑयल।
  • बादाम के तेल और सिरके से उतरता है नाखून का रंग।

बच्चे, बूढ़े और जवान। होली के रंगों से कोई दूर नहीं रहना चाहता। साल में एक बार आने वाला रंगों का ये मस्तीभरा त्यौहार ढेर सारी खुशियां अपने साथ लाता है। रंग हमें जितने पसंद होते हैं, हमारी त्वचा, बालों और नाखूनों के लिए वो उतने नुकसानदायक भी साबित हो सकते हैं। होली के रंगों से कैसे बचा जाए और शरीर पर चढ़े हुए रंगों को कैसे उतारा जाए, इस लेख में शहनाज़ हुसैन दे रही हैं इसके लिए कुछ ख़ास टिप्स।

Natural Cleansers in Hindi

स्किन के लिए क्लींसर

अपना क्लींसर बनाने के लिए आधा कप ठंडे दूध में एक चम्मच कोई भी वेजीटेबल ऑयल (जैसे ऑलिव ऑयल, सनफ्लावर ऑयल) को ठीक से मिला लें। अब इसे ठीक से मिलाएं। इस मिक्सचर में एक रूई की फाह डुबोएं और फिर इसका इस्तेमाल चेहरा साफ करने के लिए करें।

 

ऑयली और कॉम्बीनेशन स्किन के लिए, आधा चम्मच नींबू का रस लें, उसमें एक-एक चम्मच खीरे का रस और ठंडा दूध मिलाएं। इसले अपने चेहरे पर आराम से मसाज करें। इसे चेहरे पर 10 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर रूई से साफ कर लें। फिर ढेर सारे पानी से इसे धो लें।

 

आधा कप दही में दो चम्मच ऑलिव ऑयल या सीसेम सीड ऑयल मिलाएं। इसमें एक चम्मम नींबू का रस, एक चम्मच शहद और थोड़ी सी हल्दी भी मिला लें। इसे चेहरे, गले और बाजुओं में लगाएं। 15 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर पानी से धो दें। इससे रंग उतर जाता है और साथ ही टैनिंग भी कम होने लगती है।

एक कप तिल लें और उसे दरदरा पीस लें। सूखे पुदीने के पत्तों को पीसें। इसमें दो चम्मच ऑलिव ऑयल, शहद और नींबू का रस मिला लें। तिल के तेल में सूरज की किरणों से बचाने के तत्व होते हैं और साथ ही ये सन-डैमेज को भी ठीक करता है। इससे टैनिंग दूर होती है और कलर टोन बेहतर होता है। पुदीना त्वचा में चमक लाता है जबकि शहद त्वचा में नमी लाकर उसे मुलायम करता है। तेल और नींबू के रस से रंग निकल जाता है। इस मिश्रण को चेहरे, गले और हाथों में हल्के से मलें। कुछ मिनटों के लिए सूखने दें और फिर धो दें।

 

पका पपीता बहुत अच्छा क्लींसर माना जाता है। बेसन, दही, नींबू और एक चम्मच नारियल तेल को मिलाकर एक पेस्ट बना लें। इसे चेहरे और शरीर पर लगाएं। हल्के हाथों से रगड़ें और फिर पानी से धो लें।

 

नाखूनों के लिए क्लींसर

सबसे पहले नाखुनों को ठंडे पानी से धोएं। फिर एक चम्मच बादाम का तेल, दो चम्मच सिरका या नींबू का रस लें और उसे अच्छी तरह मिला लें। इसमें उंगलियां डुबोएं और दस मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें। नाखुनों को धो लें और शैमोइस लेदर (chamois leather) के टुकड़ा लेकर नाखुनों पर रगड़ लें।

 

बालों के लिए क्लींसर

सबसे पहले बालों को साफ ठंडे पानी से धो लें, इससे रंग धुल जाएंगे और सिर की त्वचा पर नहीं बैठेंगे।

 

बालों में शुद्ध नारियल तेल लगाकर मसाज करें। इसके एक घंटे बाद, सिर की त्वचा पर नींबू का रस लगाएं। 15 मिनट बाद धो लें।

 

तिल का तेल गर्म करें और उसमें अंडे का सफेद भाग मिला लें। इसे सिर की त्वचा और बालों पर लगाएं। आधे घंटे बाद बाल धो लें। शैंपू करने के बाद नींबू के रस और आधा कप गुलाब जल को एक मग पानी में मिलाएं और फिर इसे बालों पर डालें। इसके बाद सादा पानी न डालें।

 

एक अंडे, एख चम्मच कैस्टर ऑयल, नींबू का रस और एक चम्मच एलोवेरा जेल को मिला लें। इस मिक्सचर को बालों में लगाएं और प्लास्कि शावर कैप पहन लें। एक घंटे बाद बाल धो लें। एक चम्मच नारियल का तेल लें। उसमें मेथी दाने का पाउडर और दही मिलाएं। बालों को धोने के बाद ये पैक लगा लें और फिर एक घंटे बाद शैंपू से धो लें। इससे सिर की त्वचा की खुलजी से राहत मिलती है और रंग निकल जाते हैं।

Holi Colours in Hindi

रंगों से बचाव

धूप में बाहर निकलने के 20 मिनट पहले सनस्क्रीन लगा लें। समस्क्रीन लगाने के 10 मिनट बाद एक कवर क्रीम लगाएं जिसमें चंदन हो। इससे त्वचा और रंग के बीच एक प्रॉटेक्शन तैयार हो जाएगा। अगर आपके पास कवर क्रीम नहीं है तो हल्का फाउंडेशन लगा लें।

 

होली खेलने से पहले लीव-ऑन कंडीशनर या सीरम बालों में लगा लें। ये बालों को धूप और रंगों से होने वाली ड्राईनेस से बचाते हैं।

 

नाखूनों पर ट्रांसपेरेंट नेल पेंट लगा लें। इससे नाखूनों पर रंग नहीं चढ़ेगा।

 

Image Source - Getty

Read More Articles on Home Remedies in Hindi

 

Write a Review
Is it Helpful Article?YES24 Votes 2223 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर