मिसकैरेज के लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Aug 29, 2011
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • गर्भपात के कुछ लक्षणों को सावधानी पूर्वक टाला जा सकता है।
  • गर्भावस्था के दौरान वजन में गिरवाट खतरनाक हो सकता है।
  • ब्लीडिंग की समस्या को हल्के में ना लें।
  • पेट में दर्द व ऐंठन गर्भपात के लक्षण हो सकते हैं।

मिस्कैरेज, गर्भ गिरने की एक प्रकृतिक प्रक्रिया है। गर्भावस्था के पहले 20 हफ्ते के दौरान गर्भपात का खतरा सबसे ज्यादा होता है। गर्भपात के कई कारण हो सकते हैं जिनमें से कुछ ऐसे होते हैं जिन्हें टाला जा सकता है और कुछ ऐसे होते हैं जिन्हें रोकना नामुमकिन हो जाता है। कई बार जिन महिलाओं की कम उम्र में शादी हो जाती है और वे गर्भवती हो जाती हैं, उनमें गर्भपात का खतरा ज्यादा होता है। कम उम्र में महिलाओं का शरीर बच्चे के जन्म के लिए तैयार नहीं होता है जिसकी वजह से मां व बच्चे दोनों की जान को खतरा हो सकता है।


miscarriage symptomsमिस्कैरेज की समस्या से बचने के लिए जरूरी है कि आप इसके लक्षणों से परिचित हों। कई बार तो ऐसा होता है कि महिलाओं को पता भी नहीं होता कि वे गर्भवती है और उनका गर्भपात हो जाता है। जानें क्या है मिस्कैरेज के लक्षण-

वजाइनल डिस्चार्ज

मिस्कैरेज के कई लक्षण होते हैं। यह जरूरी नहीं है कि एक ही लक्षण हर महिला में दिखाई दे। मिसकैरेज के लक्षणों में से एक है वजाइनल डिस्चार्ज। यह भूरे रंग का स्पॉटिंग या गहरे लाल रंग की ब्लीडिंग भी हो सकती है जो कई दिनों तक होती रहती है। लेकिन कई बार गर्भावस्था की पहली तिमाही में हल्की वजाइनल ब्लीडिंग आम बात है। आप चाहें तो सुरक्षित गर्भावस्था के लिए इन लक्षणों को दिखने पर अपने डॉक्टर से सपंर्क कर सकती हैं।

पेट में दर्द

ज्यादातर महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान पीरियड्स में होने वाले बैक पेन से भी तेज दर्द की शिकायत होती है। इस लक्षण को गर्भपात का लक्षण माना जाता है। गर्भावस्था के दौरान पेट के निचले हिस्से में दर्द में यह दिखाता है कि महिला के शरीर से भ्रूण निस्काषित होने वाला है। कुछ मामलों में ऐंठन व दर्द के कारण सांस लेना भी मुश्किल हो जाता है। यह भी मिस्कैरेज का एक कारण है। इसलिए गर्भावस्था के दौरान पेट या पीठ में होने वाले तेज दर्द को हल्के में ना लें और तुंरत डॉक्टर से संपर्क करें।    

संकुचन महसूस होना

अगर आप गर्भावस्था के शुरुआती चरण मे हैं तो यह जानना बहुत जरूरी है आपके लिए। इस दौरान एक संकुचन सा महसूस होता है। अगर यह संकुचन तेज या बर्दाशत के बाहर हो तो यह मिस्कैरेज का लक्षण हो सकता है। यह संकुचन लगभग पांच से बीस मिनट के दौरान होती है। अकसर ऐसा संकुचन प्रसव के दौरान होता है लेकिन अगर पहली तिमाही में आपको ऐसा महसूस हो रहा है तो इसे नजरअंदाज ना करें।

वजन घटना

अगर गर्भावस्था के दौरान आपका वजन अचानक से घटने लगे तो आपको सचेत हो जाना चाहिए। यह गर्भपात के लक्षणों में से एक है। अकसर महिलाएं इस लक्षण को हल्के में लेकर टाल जाती है जो आगे चलकर गंभीर समस्या बन जाती है।

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES99 Votes 57044 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर