महिलाओं ही नहीं, पुरूषों में भी हो सकती है उम्र बढ़ने पर मेनोपॉज की स्थिति

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 16, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पुरूषों में भी हो सकती है मेनोपॉज की स्थिति।
  • मेसाचुसेट्स जनरल अस्पताल में हुआ शोध।
  • कामेच्छा कम होती है एस्ट्रोजेन हार्मोन की कमी से।  
  • पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन व एस्ट्रोजेन हार्मोन की कमी।

menopause may occur to menउम्र बढ़ने के साथ महिलाओं में मेनोपॉज का होना बहुत आम बात है और शायद सभी इस बात को जानते है। लेकिन क्‍या आपको पता है कि मेनोपॉज की स्थिति पुरुषों में भी हो सकती है। यह बात मेसाचुसेट्स जनरल अस्पताल में हुए एक शोध से स्‍पष्‍ट हुई है‍। शोध के अनुसार उम्र बढ़ने के साथ-साथ पुरुषों में भी मेनोपॉज की स्थिति आ सकती है।

 

शोधकर्ताओं का मानना है कि जिस तरह बढ़ती उम्र में महिलाओं में एस्ट्रोजेन नामक हार्मोन की कमी से कामेच्छा कम होती है व हार्मोनल बदलाव होते हैं। उसी तरह पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन व एस्ट्रोजेन हार्मोन भी उम्र बढ़ने के साथ-साथ कम हो सकता है जिसका प्रभाव उनके लिए कामेच्छा में कमीं या एरेक्टाइल डिफ्यूजन हो सकता है।

 

शोधकर्ताओं ने पाया कि किस तरह उम्र बढ़ने के साथ पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम होता है। इस दौरान शोधकर्ताओं ने करीब 100 पुरुषों का उपचार किया जिनमें उम्र बढ़ने के साथ-साथ टेस्टोस्टेरोन व एस्ट्रोजेन का स्तर कम होता है।

 

शोधकर्ता डॉ. जोएल एस. फिंकेलस्टेन के अनुसार, ''कई बार पुरुषों में कम टेस्टोस्टेरोन के कारण होने वाली समस्याएं जैसे कामेच्छा में कमी, वजन बढ़ना हड्डियां कमजोर होना आदि और भी बदतर हो जाती हैं जब उनके शरीर में एस्ट्रोजेन की मात्रा भी कम होती है।''

 

हर पुरुष के लिए यह स्थिति होना अनिवार्य नहीं है। पुरुषों में यह समस्या उस स्थिति में अधिक होती है जब उनमें प्रोस्टेट कैंसर या इससे जुड़ी समस्या की आशंका हो। शोधकर्ताओं का मानना है कि सेहतमंद जीवनशैली और सही उपचार से इस समस्या से निपटा जा सकता है।



 

Read More Health News In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES3 Votes 2232 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर