खुशखबरी, अब महिलाओं को 12 नहीं, 26 हफ्तों की मिलेगी मैटरनिटी लीव

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 30, 2017
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने महिलाओं के पक्ष में एक नया कानून पास कर बड़ी राहत दी है। राष्ट्रपति द्धारा मुहर लगे नए कानून के तहत अब महिलाओं को 12 हफ्तों की बजाय26 हफ्तों की मैटरनिटी लीव मिलेगी। राष्ट्रपति ने मातृत्व लाभ संशोधन कानून, 2017 को अपनी मंजूरी दे दी है।

इसे भी पढ़ें, चौबीसवें हफ्ते में शिशु से मिलने के लिए बढ़ती है उत्‍सुकता


कानून के तहत 50 या ज्यादा कर्मचारियों वाले सभी संस्थानों के लिए निर्धारित दूरी के भीतर क्रेच की सुविधा होना भी आवश्यक है। कानून में यह भी साफ-साफ लिखा गया है कि कानून में हुए इस संशोधन की जानकारी सभी संस्थानों को नियुक्ति के वक्त मौखिक और लिखित रूप से बताना अनिवार्य है। इसके साथ ही संस्थान महिलाओं को मातृत्व अवकाश पाने के बाद घर से काम करने की इजाजत भी दे सकता है। हालांकि यह अनिवार्य नहीं है। ऐसी स्थिति में नियोक्ता और महिला आपसी तालमेल से राजी हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें, प्रेग्‍नेंसी कैलेंडर की मदद से जानें बच्‍चे की ग्रोथ का हाल

संशोधित हुए कानून में यह भी कहा गया है कि 26 हफ्तों की मैटरनिटी लीव सिर्फ 2 बच्चों के लिए है। दस या ज्यादा लोगों को नौकरी देने वाले सभी प्रतिष्ठानों पर लागू होने वाला कानून कहता है कि दो या ज्यादा बच्चों वाली महिला केवल 12 हफ्ते के मातृत्व अवकाश की हकदार होगी।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Health News In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES349 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर