महिलाओं के लिए पहली रात के टिप्स

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 03, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

चाहे महिला हो या पुरुष, शादी इन दोनों के लिए एक नये जीवन की शुरुआत होती है। इस रात में थोड़ी उलझन होती है, तो थोड़ी शर्म। महिलाएं भी इसे खास बनाने के लिए कई तरीके अपनाती हैं। लेकिन इस रात दोनों एक-दूसरे का भरोसा हासिल कीजिए। इस रात खुश रहिए, खुद पहल करने में कोई संकोच मत कीजिए और अपने पति का दिल जीत लीजिए।

mahilao ke liye pehali raat ke tipsइस रात को खास तरह से सेलिब्रेट करें। तमाम उम्र इस रात की मीठी एहसास के साथ एक-दूसरे का साथ निभाने का वादा कीजिए। याद रखिए सुहागरात में कोई ऐसी नादानी न करें जिसकी टीस जीवनभर आपके दांपत्य जीवन में बनी रहे। लेकिन अब भी आपके मन में किसी सवाल को लेकर उलझन है, तो इन टिप्‍स को आजमाइए-

 

[इसे भी पढ़ें : दुल्‍हन का मेकअप कैसा हो]

 

महिलाओं के लिए सुहागरात के टिप्‍स -

सजना है मुझे सजना के लिए-
शादी और सुहागरात महिला के लिए सबसे खास मौका होता है। इस दिन महिलाएं खूबसूरत दिखने के लिए मेकअप करती हैं। दुल्हन को खुश दिखना चाहिए और श्रृंगार ऐसा होना चाहिए कि दुल्हे मियां देखें तो बस देखते रह जाएं। ऐसा माना जाता है कि जो दुल्हन सुहागरात में पिया का दिल जीत लेती है, जीवनभर खाविंद उनके खादिम बनकर रहते हैं इसलिए इस मौके को गंवाये नहीं।



भरोसा और समर्पण जताएं -
अपने दांपत्य जीवन को खुशहाल बनाने के लिए इस मौके पर पति के प्रति अपना भरोसा दिखाएं। समर्पण पूर्ण प्रेम के साथ उन्हें यह जताएं कि वह जैसे भी हैं उन्हें वह मन से स्वीकार करती हैं और सदा उनके प्रति विश्वसनीय बनी रहेगी। ज्‍यादा दिखावे की कोशिश मत कीजिए।


पुरानी बातें न बताएं -
अतीत जैसा भी रहा हो भविष्‍य से उसकी तुलना मत कीजिए। अगर शादी से पहले आपके अफेयर रह चुके हों तो इसका जिक्र सुहागरात में बिलकुल न करें। आप एक नये जीवन की शुरूआत कर रही हैं, इसलिए इसे अपने मन में ही रखें और अफेयर को भूल जाएं क्योंकि आदमी कितना भी खुले विचारों वाला क्यों न हो इस बात को स्वीकार करना उसके लिए सहज नहीं होगा।

 

[इसे भी पढ़ें : शादी और संयम]

 

कोई शर्त न रखें -
यह आपकी पहली रात है, इस दिन जिद बिलकुल न करें और न ही अपनी शर्तें लादने की कोशिश न करें। प्यार शर्तों पर नहीं होना चाहिए इससे प्यार की उम्र कम हो जाती है इसलिए सुहागरात के मौके पर अपने पति के सामने कोई भी शर्त नहीं रखें। उनके प्यार को अपने प्यार से समेट लें।


मायके का गुणगान न करें -
इस मौके पर मर्यादा का पालन करें। यह भी ध्यान रखें कि उनके समाने अपने मायके का गुणगान न करें। आपकी शादी जिस माहौल में हुई है उसमें ही खुश रहने की कोशिश कीजिए। ज्‍यादा पाने की इच्‍छा मत कीजिए।


आत्‍मविश्‍वास में रहें -

हालांकि शादी की पहली रात नर्वस होना आम बात है, लेकिन अगर आप कांफीडेंस में रहेंगी तो ज्‍यादा अच्‍छा रहेगा। आत्‍मविश्‍वास से भरपूर होकर पति से सारी बातें करें। फ्यूचर प्‍लांनिंग की बात करते वक्‍त आत्‍मविश्‍वास दिखाने से ऐसा लगेगा कि आप उस मामले को लेकर गंभीर हैं।

 

 

Read More Articles on Marriage and Sex in Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES478 Votes 28051 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर