प्रेग्नेंसी में नींद की कमी को दूर करती हैं ये 7 आसान ​टिप्स

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Mar 23, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सोने से पहले हल्के गुनगुने पानी से स्नान कर सकते हैं।
  • ध्यान रखें कि सोते वक्त आपका पेट नहीं दबना चाहिए।
  • अनुलोम-विलोम करने से अच्‍छी नींद आती है।

प्रेग्नेंसी के वक्त एक महिला में कई तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं। हॉर्मोन्स में बदलाव के कारण इस वक्त महिलाओं में नींद की कमी भी देखी जाती हैं। अगर कोई व्यक्ति नींद सही से नहीं लेता है तो इस से उसके शरीर पर बहुत हानिकारक प्रभाव पड़ने का डर रहता है। प्रेग्नेंसी में इस चीज का खतरा और भी ज्यादा बढ़ जाता है। अगर कोई महिला दिन में सोती है और उसे रात को देर से नींद आती है या फिर नहीं आती है तो ये स्थिति इतनी खराब नहीं मानी जाती। लेकिन अगर गर्भवती को दिन या रात कभी भी नींद नहीं आती तो ये कई बीमारियों का संकेत हो सकता है। नींद न आने की वजह से बच्चें के स्वास्थ्य को कोई फर्क नहीं पड़ता। डॉक्टर्स कहते हैं कि जब गर्भ में बच्चे का वजन ज्यादा हो जाता है तो भी मां को सोने में दिक्कत आती है। ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बता रहे हैं जिससे आपकी ये दिक्कत आसानी से दूर हो जाएगी। आइए जानते हैं क्या हैं वो टिप्स—

  • प्रेग्नेंसी में कोशिश करें कि गर्भवती संकुचित जगह पर सोने के बजाय चौड़े बिस्तर पर कुशन 
  • की मदद से सोएं। ध्यान रखें कि सोते वक्त आपका पेट नहीं दबना चाहिए।
  • अगर गर्भती रात को सोने से पहले हल्के गुनगुने पानी से स्नान करती है तो अच्छी नींद आने के संभावना रहती है। इससे शरीर हल्का रहता है और दिमांग शांत होता है। ये अच्छी लाने का एक मूलमंत्र है।
  • जब भी आप बिस्तर पर जाएं तो सभी नकारात्मक चीजों को खुद से दूर कर लें। सोते वक्त अपने पति का चेहरा देखें और उनसे कुछ अच्छी बातें करें। इसके अलावा आप अपने मनपसंद गाने भी सुन सकती हैं। 
  • अच्छी नींद लाने के लिए आप अपने आहार से कार्बोहाइड्रेट वाली चीजों को दूर कर लें। क्योंकि ये चीजें तुरंत एनर्जी देते हैं। जिससे नींद दूर भागती हैं।

योग भी है फायदेमंद

  • इस मुद्रा को करने के लिए चटाई पर सीधा लेट जाए और अपने दोनों हाथों को साइड में रख लें। अपने शरीर को आराम दें और गहरी सांस लें। धीरे-धीरे अपनी कलाई और एडि़यों को चारों और घुमाएं। यह आपकी बॉडी को आराम देगा। अब अपने पैरों के अंगूठे और उंगलियों को स्ट्रेच करें और कुछ देर आराम की स्थिति में रहें।
  • इस योग को करने के लिए एक चटाई पर बैठ जाएं और श्वास लें। अब अपने मुंह से सांस को छोड़ें और साथ ही सांस को छोड़ते समय 'ओम' का उच्‍चारण करें। इस क्रिया को 5-8 मिनट तक करें। यह योग स्लीवप एपनिय के‍ लिए आपके गले की मांसपेशियों को टोन करने में मदद करती है।
  • फर्श पर बैठकर अपने पैरों के दोनों तलवों को अपने सामने लाकर मिला लें और अपने हाथों से दोनों पैरों को पकड़ें। उसके बाद एक लंबा सा श्वास अन्‍दर की तरफ लें। अपनी सांस को छोड़ें और अपने कूल्‍हों को आगे की ओर झुकाएं।
  • भस्त्रिका प्राणायाम को प्रतिदिन करने से आप तनावमुक्‍त रहेंगे और आपको नींद भी अच्‍छी आएगी। इसको करने के लिए रीढ़ और कमर को सीधा रखें और लंबी सांस लें और मुंह बंद करके नाक से सांस निकालें। फिर गति बढ़ाते हुए जल्दी-जल्दी आवाज के साथ सांस भरें और निकालें।
  • अनुलोम-विलोम प्राणायाम को प्रतिदिन करने 10 मिनट करने से अच्‍छी नींद आती है। इस आसन को करने के लिए सीधे बैठ जाएं और फिर दाएं हाथ के अंगूठे से नाक का दाया छेद को बंद करें और सांस को अन्‍दर की ओर खींचे। फिर उसी हाथ की दो उंगलियों से बाईं ओर का छेद बंद कर दें और अंगूठा हटाकर दाईं ओर से सांस छोड़ें। इसी क्रिया को नाक की बाएं तरफ से भी दोहराएं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Pregnancy In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES2799 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर