गर्भवती महिलाओं पर आलू का पड़ता है क्‍या असर

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 09, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • स्टार्चयुक्त कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और विटामिन से भरपूर सब्‍जी है आलू।
  • आलू में फोलेट नामक तत्‍व बच्‍चे के विकासशील मस्तिष्क के लिए जरूरी। 
  • प्रत्येक 2 किलोग्राम में सोलानीन की लगभग 5200 मिलीग्राम शामिल होती है।

 

गर्भावस्‍था में खाने को लेकर तमाम सावधानियां बरतीं जाती हैं। लेकिन, कई महिलाओं के दिल में आलू को लेकर संशय रहता है। क्‍या इस दौरान आलू खाए जा सकते हैं अथवा नहीं। जानिए इस लेख में कि गर्भावस्‍था के दौरान आलू का सेवन किया जाए अथवा नहीं।

 

गर्भावस्था में खाने-पीने को लेकर लोगों में कई तरह की धारणाएं होती हैं। इस दौरान गर्भवती महिला को कई सलाह दी जाती हैं। कोई कहता है कि ये खा लो तो कोई कहता है कि ये मत खाओ। ऐसा ही हाल आलू खाने के साथ है। इस दौरान आलू खाना चाहिए या नहीं यह विवाद का विषय है। आइए जानते है कि क्‍या गर्भवती महिलाएं आलू खा सकती हैं?

pregnancy and potato
·         आलू को पोषक तत्वों से समृद्ध माना जाता है। आलू में विटामिन बी की काफी उच्च मात्रा पाई जाती है। अपनी गर्भावस्था की पहली छमाही में आपको अपने खाने के बारे में सावधान रहना चाहिए। आपका खाना पोषक तत्वों से भरा होना चाहिए।

·         आलू एक स्टार्चयुक्त कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और विटामिन से भरपूर सब्‍जी माना जाता है। इसके अलावा, आलू में फोलेट नामक पोषक तत्‍व होते है जो आपके होने वाले बच्‍चे के विकासशील मस्तिष्क लिए जरूरी होते है, और ये रीढ़ की समस्याओं के जोखिम को भी कम करता है।

·         आप यह भी जानती है कि आपके बच्चे को गर्भ में सही से विकास करने के लिए ऊर्जा के मुख्य स्रोत ग्लूकोज की आवश्‍यकता होती है, जो आलू में पाया जाता है। इतना ही नहीं, गर्भावस्था के दौरान आलू कार्बोहाइड्रेट के किसी भी और स्रोत से अच्छा है।

·         साथ ही महत्वपूर्ण बात यह भी है कि इसे किस तरह से खाया जाए। फ्रेंच फ्राइज़ खाना आपके लिए इतना अच्‍छा नहीं होगा। इसलिए कोशिश करें कि सिर्फ सादा पके हुए आलू ही खाए।

इसे भी पढ़ें- गर्भावस्था के बाद महिलाएं रखें अपने खान-पान का विशेष खयाल 

आलू के नुकसान


खराब या सड़े हुए आलू ना खाएं क्‍योंकि ये शरीर में जहरीला प्रभाव डाल सकते है। आलू में जहरीले प्रकार सोलानीन होता है। एक शोध के अनुसार आलू के प्रत्येक 2 किलोग्राम में सोलानीन की लगभग 5200 मिलीग्राम शामिल मात्रा होती हैं। ये आपके होने वाले बच्‍चे को नुकसान पहुंचा सकता है। क्‍योंकि ये आमाशय की बीमारियों को बढ़ावा देता है और कई बार मौत का कारण भी बनता है। इसलिए यह एक बहुत बड़ा बहस का एक सवाल है कि क्या एक गर्भवती महिला के लिए आलू खाना अच्छा होता है। यह ज्ञात हो कि तले हुए आलू में सोलानीन की मात्रा कम होती हैं, और इसलिए आप इसे खा सकती है।

याद रखें गर्भावस्था एक बहुत ही नाजुक समय है। इसलिए ऐसे समय में अपने डॉक्‍टर से खाने-पीने के लिए सलाह जरूर लें।

 

 

Read More Article On Pregnancy Diet In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES57 Votes 63920 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर