क्या दवाईयों से डायबिटीज़ होता है

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 02, 2012
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

kya dawaiyo se diabetes hota hai

 

क्या दवाईयों से डायबिटीज़ होता है 

हाल ही में इंग्‍लैण्ड में डाइबिटीज़ पर एक रिसर्च किया गया जिसमें दवाईयों से होने वाले हानि का पता लगाया गया, कैमिस्टल और बॉयोमेडिकल कैमिक्‍ट्री की विशेषज्ञ डॉ लीसा-लैन्डिमोर-लिम ने इनके बीच के कारणों को जोड़ कर देखा। डॉ लीसा ने दवाईयों के रासायनिक कारको का परिक्षण किया, जो डायबिटीज़ का कारण बनते है। इसमें दवाईयों में मौजूद रसायनिक कारकों से कार्य नहीं होता इसके कारण शरीर में जिंक बनता है और इन्सुलिन ठीक तरह से कार्य नहीं कर पाता, इन्सुलिन की कमी के कारण शरीर में डायबिटीज़ की मात्रा में बढ़ोत्तरी होती है। डॉ लीसा ने बताया कि कई प्रकार के डायबिटीज़ होने का कारण दवाईयां भी है।

डॉ लीसा ने बताया कि बच्चों को दी जाने वाली दवाईयां डाइबिटीज़ की सम्भावना को बढ़ाती है। छोटे शहरों या गांवों में डॉक्टंरों द्वारा जो दवाईयां दी जाती है उनमें रासायन ज्यादा मात्रा होती है। छोटे शहरों या गांवों में इस तरह की दवाईयों के सप्लाई का मुख्य कारण है अधिक से अधिक कमाई करना, लेकिन इस तरह का लाभ कई बार लोगों के लिए हानिकारक होता है, यह डायबिटीज़ की समस्या बढ़ाता है।

डायबिटीज़ बढ़ाने वाले दवाईयों की लिस्ट

यहां कुछ आम दवाईयों के नाम दिए गए है जो आमतौर पर मरिजो को दिए जाते है और इससे डायबिटीज़ में बढ़ोत्तरी होती है।
एन्टीबायोटीक जैसे पेनिसीलिन, केपालोस्परीन, एरथोरोमाशिन 

टांलुलाइजर जैसे बारबीटूरेस्टस और बेन्जोडीयाजेपिंस  

कुछ और दवाईया साइटोसीनन, इरगोमेटरीन और एसेटामिनोफेन
 
डॉ लीसा ने बताया कि वह इस बारे में नहीं जानती कि वाकई में डायबिटीज़ में दवाईयों के रासायनिक प्रभाव की कोई स्टडी हुई है या नहीं, उन्होंने कहा कि उनका रिसर्च यह बताता है कि दवाईयों से कैसे डायबिटीज़ होने का खतरा बढ़ जाता है और कैसे दवाईयों में शामिल हानिकारक रसायन डायबिटीज़ को बढ़ाते है।

डायबिटीज़ के अन्य हानिकारक कारण 

मोटापा

टाइप 2 डायबिटीज़ वालो के लिए यह एक बहुत बढ़ा खतरा है, मोटापा आपके शरीर में  इन्सुलिन  की मात्रा को बढ़ाता है।

ज्यादा बैठे रहने वाला लाइफस्टाइल 

डायबिटीज़ का खतरा तब ज्यादा बढ़ जाता है जब आपकी लाइफस्टाइल बैठने वाली हो या आप ऐसे प्रोफेशन से जुड़े हो जिसमें बैठने का काम हो, 

अच्छा भोजन की आदत का ना होना

अच्छे भोजन की आदत के ना होने से आप मोटे हो जाते है और आप में कार्बोहाइडेट और फाइबर की मात्रा ज्यादा हो जाती है जो डायबिटीज़ की समस्या पैदा करती है। इसलिए संतुलित भोजन जरूर करें और स्वस्‍थ्‍य रहे। 
  

  

 

हाल ही में इंग्‍लैण्ड में डाइबिटीज़ पर एक रिसर्च किया गया जिसमें दवाईयों से होने वाले हानि का पता लगाया गया, कैमिस्टल और बॉयोमेडिकल कैमिक्‍ट्री की विशेषज्ञ डॉ लीसा-लैन्डिमोर-लिम ने इनके बीच के कारणों को जोड़ कर देखा। डॉ लीसा ने दवाईयों के रासायनिक कारको का परिक्षण किया, जो डायबिटीज़ का कारण बनते है। इसमें दवाईयों में मौजूद रसायनिक कारकों से कार्य नहीं होता इसके कारण शरीर में जिंक बनता है और इन्सुलिन ठीक तरह से कार्य नहीं कर पाता, इन्सुलिन की कमी के कारण शरीर में डायबिटीज़ की मात्रा में बढ़ोत्तरी होती है। डॉ लीसा ने बताया कि कई प्रकार के डायबिटीज़ होने का कारण दवाईयां भी है।

 

डॉ लीसा ने बताया कि बच्चों को दी जाने वाली दवाईयां डाइबिटीज़ की सम्भावना को बढ़ाती है। छोटे शहरों या गांवों में डॉक्टंरों द्वारा जो दवाईयां दी जाती है उनमें रासायन ज्यादा मात्रा होती है। छोटे शहरों या गांवों में इस तरह की दवाईयों के सप्लाई का मुख्य कारण है अधिक से अधिक कमाई करना, लेकिन इस तरह का लाभ कई बार लोगों के लिए हानिकारक होता है, यह डायबिटीज़ की समस्या बढ़ाता है।

 

डायबिटीज़ बढ़ाने वाले दवाईयों की लिस्ट

 

यहां कुछ आम दवाईयों के नाम दिए गए है जो आमतौर पर मरिजो को दिए जाते है और इससे डायबिटीज़ में बढ़ोत्तरी होती है।

एन्टीबायोटीक जैसे पेनिसीलिन, केपालोस्परीन, एरथोरोमाशिन 

 

टांलुलाइजर जैसे बारबीटूरेस्टस और बेन्जोडीयाजेपिंस  

 

कुछ और दवाईया साइटोसीनन, इरगोमेटरीन और एसेटामिनोफेन

 

डॉ लीसा ने बताया कि वह इस बारे में नहीं जानती कि वाकई में डायबिटीज़ में दवाईयों के रासायनिक प्रभाव की कोई स्टडी हुई है या नहीं, उन्होंने कहा कि उनका रिसर्च यह बताता है कि दवाईयों से कैसे डायबिटीज़ होने का खतरा बढ़ जाता है और कैसे दवाईयों में शामिल हानिकारक रसायन डायबिटीज़ को बढ़ाते है।

 

डायबिटीज़ के अन्य हानिकारक कारण 

 

मोटापा

 

टाइप 2 डायबिटीज़ वालो के लिए यह एक बहुत बढ़ा खतरा है, मोटापा आपके शरीर में  इन्सुलिन  की मात्रा को बढ़ाता है।

 

ज्यादा बैठे रहने वाला लाइफस्टाइल 

 

डायबिटीज़ का खतरा तब ज्यादा बढ़ जाता है जब आपकी लाइफस्टाइल बैठने वाली हो या आप ऐसे प्रोफेशन से जुड़े हो जिसमें बैठने का काम हो, 

 

अच्छा भोजन की आदत का ना होना

 

अच्छे भोजन की आदत के ना होने से आप मोटे हो जाते है और आप में कार्बोहाइडेट और फाइबर की मात्रा ज्यादा हो जाती है जो डायबिटीज़ की समस्या पैदा करती है। इसलिए संतुलित भोजन जरूर करें और स्वस्‍थ्‍य रहे। 

 

 

 

 

 

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES3 Votes 13229 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर