गर्भावस्‍था में पोषणयुक्‍त आहार और नियमित व्‍यायाम करके पा सकते हैं स्वस्थ शिशु

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Nov 27, 2012
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • गर्भावस्था के दौरान अपनी दिनचर्या पर विशेष ध्यान दीजिए।
  • सेहतमंद शिशु के लिए पोषणयुक्त आहार का सेवन कीजिए। 
  • खानपान के साथ-साथ नियमित व्‍यायाम भी करना चाहिए।
  • फोलिक एसिड और आयरन सामान्य से अधिक मात्रा में लें।

kaise paye sawasth shishu

हर महिला की इच्छा होती है कि उसका होने वाला शिशु सेहतमंद हो। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अपनी दिनचर्या पर विशेष ध्यान देना चाहिए क्योंकि इसका सीधा असर शिशु के विकास पर होता है। सेहतमंद शिशु पाने के लिए महिलाओं को पोषणयुक्त खानपान के साथ नियमित व्यायाम भी करना चाहिए।

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को अपने भोजन में कुछ विटामिनों और मिनरलों जैसे फोलिक एसिड और आयरन सामान्य से अधिक मात्रा में लेना चाहिए। गर्भावस्था में जंक फूड आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है। इसमें मौजूद ट्रांस फैट शिशु को नुकसान पहुंचाता है। साथ ही इससे आपको पोषण भी नहीं मिलता। जब आप गर्भधारण करती हैं भोजन से मिलने वाली ऊर्जा का बेहतर इस्तेमाल होता है।

 

हेल्‍दी बेबी के लिए टिप्‍स

  • अक्सर गर्भावस्था के दौरान महिलाएं सोचती हैं कि उन्हें ज्यादा से ज्यादा आराम करना चाहिए लेकिन यह धारणा बिल्कुल गलत है। इस दौरान महिलाओं को आम दिनों की तरह शारीरिक गतिविधियों में हिस्सा लेना चाहिए।
  • जो महिलाएं धूम्रपान, शराब व अन्य किसी तरह के नशे का  सेवन करती हैं उन्हें गर्भावस्था के दौरान इन चीजों से दूर रहना चाहिए।
  • गर्भवती महिलाओं को अपने खानपान के प्रति सचेत रहने की जरूरत होती है। उन्हें जरूरी विटामिन व मिनरल लेना चाहिए जिससे शरीर में खून की कमी न होने पाए।
  • गर्भावस्था के दौरान लौंग, सौंफ व दालचीनी जैसे हर्ब से दूर रहना चाहिए। इससे कई तरह की समस्याएं पैदा होने की संभावना रहती है।
  • गर्भावस्था में दिनभर में दो कप से ज्यादा कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। इसमें मौजूद कैफीन आपके लिए नुकसानदेह हो सकता है।
  • स्वस्थ शिशु पाने की चाह में यह जरूरी नहीं है कि आप दिनभर कुछ ना कुछ खाते रहें। गर्भावस्था में अधिक खाना खाना आपके लिए समस्या बन सकता है।
  • गर्भावस्था के दौरान अपनी दवाइयों और डॉक्टर के दिशा-निर्देशों का ठीक से पालन करें। और ध्यान रहें बिना डॉक्टर से पूछे अनावश्यक दवाओं का सेवन नहीं करें।
  • गर्भावस्था में महिलाओं के मूड का असर उनके बच्चे की सेहत पर भी होता है। अगर आप तनाव में रहेंगी तो शिशु का विकास भी ठीक से नहीं होगा।
  • गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ना सामान्य है। इससे परेशान होने की जरूरत नहीं है। जो महिलायें ठीक से भोजन करती हैं और जिनका वज़न उपयुक्त ढंग से बढ़ता है उनके स्वस्थ शिशुओं को जन्म देने की अधिक संभावना होती है।

 

 

Read More Articles On Pregnancy In Hindi

Write a Review
Is it Helpful Article?YES102 Votes 57369 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • Manju Gour02 Feb 2013

    bahut hi badhiya knowledge dene ke liyw dhanyawad.....

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर