पौष्टिक आहार और नियमित व्‍यायाम से पा सकते हैं हेल्थी प्रेगनेंसी

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Jul 05, 2012
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • पेग्‍नेंसी में पोषण के लिए गेहूं, अनाज, दालें, दलिया आदि खायें।
  • डीहाइड्रेशन से बचने के लिए रोज 10-12 गिलास पानी पियें।
  • विटामिन, कैल्शियम, फोलिक एसिड, आयरनयुक्‍त आहार लें।
  • गर्भावस्था के दौरान तैलीय पदार्थों का सेवन कम मात्रा में करें।

kaise paye ek healthy pregnancy

मां बनने जा रही महिला के मन में होने वाले बच्चे की सेहत और कुशलता को लेकर कई तरह की चिंता होती है। गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाओं को अतिरिक्त देखभाल की जरूरत पड़ती है।

ऐसे में स्वस्थ गर्भावस्था के नुस्खों को अपनाकर गर्भवती महिलाएं खुद हेल्थी रहते हुए अपने बच्चे को स्वस्थ रख सकती हैं। गर्भावस्था किसी भी महिला के लिए एक रोमांचक सफर हैं। इस रोमांच को एन्जॉय करने के लिए बस थोड़ी सी सावधानी की जरूरत हैं।

 

स्‍वस्‍थ गर्भावस्‍था के टिप्‍स

•    गर्भावस्था में गेहूं, अनाज, दाल का पानी, दालें इत्यादि खाये, इससे बच्चे को भी पोषण मिलता हैं। इसके साथ ही ज्यादा से ज्यादा पानी पीयें।

•    गर्भावस्था के दौरान अपनी दवाइयों और डॉक्टर के दिशा-निर्देशों का ठीक से पालन करें। इस बात का भी खयाल रखें कि डॉक्टर की सलाह के बिना कोई भी एक्सरसाइज न करें। डॉक्टर की सलाह पर गर्भावस्था के दौरान हल्का-फुल्का व्यायाम करना भी न भूलें जिससे प्रसव के दौरान दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

•    स्वस्थ गर्भावस्था के लिए गर्भवती महिला को यह जानना जरूरी है कि आपातकालीन स्थिति में उसे क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जिससे उसके होने वाले बच्चे को कोई नुकसान ना पहुंचे, जैसे कि गर्भपात से बचना, प्रीमैच्योर डिलीवरी इत्यादि।

•    गर्भधारण के दौरान लगातार डॉक्टर के संपर्क में रहे और हर महीने अपना चेकअप करवाती रहें।

•    खानपान और रहन-सहन का खास खयाल रखें। खाने में संतुलित भोजन को प्राथमिकता दें। ऐसे में पोषक तत्वों के साथ ही विटामिन, कैल्शियम, फोलिक एसिड, आयरन, कार्बोहइड्रेट्स, प्रोटीन, मिनरल्स इत्यादि भरपूर मात्रा में लेना चाहिए।

•    गर्भावस्था के दौरान तैलीय पदार्थों का कम से कम मात्रा में सेवन करें, जूस, सलाद, सूप इत्यादि तरल पदार्थो को लें।

•    एक दिन में आधा लीटर दूध या उतनी मात्रा में दूध से बने पदार्थों का सेवन जरूर करें। अधिक से अधिक हरी सब्जियों और फलों का सेवन करना चाहिए।

•    स्वस्थ गर्भावस्था के लिए बहुत अधिक कठिन व्यायाम न करें।

•    गर्भावस्था के दौरान दुपाहिया, तिपाहिया वाहनों में सफर करने से बचें। ड्राइविंग न करें, बहुत ज्यादा सीढि़या चढ़ने से बचें।

•    गर्भस्थ शिशु को स्वस्थ‍ रखने के लिए जंकफूड और बाहर का खाना कम ही खाएं।

•    ऑफिस में बहुत अधिक तनाव न लें, बहुत भारी-भरकम सामान नहीं उठायें। साथ ही हाई हील के जूते-चप्पल न पहनें।

•    ऑफिस में काम करते हुए भी बीच-बीच में कुछ देर का आराम जरूर करें और लगातार कंप्यूटर पर काम न करें।

•    लंबी दूरी का सफर न करें और हल्के-फुल्के ढीले-ढाले कपड़े ही पहनें।

•    थकान होने पर आराम करें अधिक मेहनत न करें।

•    गर्भावस्था के दौरान अपने वजन का खास ख्याल रखें, बहुत कम वजन होना और बहुत अधिक वजन दोनों ही खतरनाक हैं।

•    गर्भावस्था के दौरान शराब और सिगरेट से दुर रहें।

•    पैरों में अकड़न होने पर भोजन में कैल्शियम और फॉस्फोरस की मात्रा का संतुलन बनाए रखें।

क्या न करें

•    सीधी टागों के सहारे नीचे न झुकें।

•    एकदम झटके से न उठें।

•    अधिक मीठा खाने से भी बचें।

•    अगर मन खराब-सा लगे और उबकाई आने जैसा महसूस हो, तो दिनभर में भोजन को थोड़ा-थोड़ा करके लें। खाली पेट न बैठें।

गर्भधारण करने के बाद सबसे ज्यादा जरूरी है कि डॉक्टर से परामर्श करें।

 

 

Read More Articles On Pregnancy Care In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES44 Votes 48609 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर