कैसे बढ़ाएं गुड कोलेस्‍ट्रोल

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Apr 08, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • गुड कोलेस्ट्रॉल शरीर से एलडीएल को बाहर निकलता है।
  • वजन कम करना अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने का तरीका ।
  • विटामिन बी का सेवन अच्छे कोलेस्ट्रॉल के लिए लाभदायक ।
  • शुगर का कम सेवन करता है गुड कोलेस्ट्रॉल में इजाफा।


बहुत ज्यादा एलडीएल (खराब) कोलेस्ट्रॉल आपके रक्त को जंक कर धमनियों में रक्‍त प्रवाह को बाधित कर सकता है। जबकि एचडीएल (अच्छे) कोलेस्ट्रोल रक्त के लिए एक दरबान की तरह काम करता है। यह रक्त से अतिरिक्त एलडीएल को साफ कर बाहर निकाल फेंकने के लिए लिवर को भेज देते हैं। एचडीएल सूजन को कम करता है और अल्जाइमर से रक्षा भी कर सकते हैं।  कोलेस्ट्रॉल रक्त में घुल नहीं पाता। निम्न-घनत्व लिपोप्रोटीन या एलडीएल को बुरा कोलेस्ट्रॉल कहा जाता है। जबकी उच्च-घनत्व लिपोप्रोटीन या एचडीएल, अच्छे कोलेस्ट्रॉल के नाम से जाना जाता है। ट्राइग्लीसिराइड्स एवं एल पी कोलेस्ट्रॉल के साथ ये दो प्रकार के लिपिड, सारे कोलेस्ट्रॉल का निर्माण करते हैं, जिसे रक्त परीक्षण से ज्ञात किया जा सकता है।

क्या होता है अच्छा कोलेस्ट्रॉल

उच्च घनत्व लिपोप्रोटीन (हाई डेनसिटी लिपोप्रोटीन्स) को अच्छा कोलेस्ट्रॉल माना जाता है। ये यकृत द्वारा बनाए ही जाते हैं। यकृत कोलेस्ट्रॉल और पित्त को ऊतकों और इंद्रियों से पुनष्चक्रित करने के वापस लिवर में पहुंचाता है। एचडीएल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा का अधिक होना एक अच्छी बात है, क्योंकि इससे हृदय के स्वस्थ होने के संकेत मिलते हैं। राष्ट्रीय कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण कार्यक्रम के अनुसार शरीर में एचडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर साठ मिली ग्राम/डीएल से अधिक नहीं होनी चाहिए। अच्छे कोलेस्ट्रॉल के लिए मछली का तेल, सोयाबीन उत्पाद, एवं हरी पत्तेदार सब्जियां अच्छा विकल्प हैं। हफ्ते में कम से कम पांच दिन, लगभग तीस मिनट के लिए व्यायाम जैसे पैदल चलना, दौड़ना, सीढ़ी चढ़ना आदि करने से मात्र दो महीनों में एचडीएल पांच प्रतिशत तक बढ़ाया जा सकता है। धूम्रपान कम या बंद करने मात्र से एचडीएल दस प्रतिशत तक बढ़ सकता है। वजन कम करना भी अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने का एक तरीका है। शरीर का वजन प्रत्येक छ: पाउण्ड (करीब 2.72 किलोग्राम) कम करने पर शरीर में अच्छा कोलेस्ट्रॉल एक मिली ग्राम/डेसि.लि. तक बढ़ा सकते हैं।

Cholestrol

विटामिन बी का सेवन करें

मोटापा और एलडीएल दोनों साथ-साथ होते हैं। लेकिन इसका यह मतलब कतई नहीं कि आपको कमर तोड़ व्यायाम करना होगा। आप रोज थोड़ी कसरत और अपने खान-पान में सुधार कर बढ़े वजन को धीरे-धीरे काबू कर सकते हैं। विटामिन-बी उच्च घनत्व वाले लिपोप्रोटीन को बढ़ाने में सहायक होता है। विटामिन-बी 5 की 300 मिलीग्राम पूरक से भी आप अपने एचडीएल कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकता है। लेकिन ध्यान रहे कि इसके कुछ दुष्प्रभाव जैसे कि जिगर की क्षति आदि भी हो सकते हैं, इसलिए कोई भी सप्लीमेंट या विटामिन लेने से पूर्व एक बार डॉक्टर से अवश्य सलाह लें। रोज लगभग तीस मिनट टहलने भर से आप अपना एचडीएल काफी बढ़ा सकते हैं।
 


धूम्रपान व शराब का सेवन  ना करें

धूम्रपान बंद करने से आप अपना एचडीएल का स्तर दस प्रतिशत तक बढ़ा सकते हैं। यही नहीं इस लत को छोड कर आप लंग कैंसर तथा अन्य गंभीर बीमारियों से भी बच सकते हैं। धूम्रपान छोड़ने के लिए अपने डॉक्टर से भी राय व उपाय जान सकते हैं।शराब का कम से कम सेवम करें। रेड वाइन का एक गिलास अपके हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। लेकिन इसे सिर्फ दवा की तरह ही लें। अति कर देने पर ये आपके लिए अभिशाप बन जाती है।

Cholestrol

शुगर का कम उपयोग

शुगर का कम से कम उपयोग करें। यह मोटापा घटाने में भी आपकी मदद करेगा।यदि आपको खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करना है तो अखरोट और बादाम जैसी सूखी मेवा खूब खाएं। इससे रक्त में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है। ह्रदय संबंधी बीमारियों के खतरे को कम करने और रक्त में लिपिड (वसा व कोलेस्ट्रॉल) का स्तर कम करने की अखरोट, बादाम व मूंगफली जैसी सूखी मेवा की पोषण संबंधी अद्वितीय विशेषताओं के चलते इन पर ज्यादा अध्ययन किया जा रहा है। इस तरह की सूखी मेवा में पौधों के प्रोटीन, वसा (खासकर असंतृप्त वसा अम्ल), खाने योग्य रेशे, खनिज, विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट्स और फाइटोस्टीरॉइड्स जैसे अन्य यौगिकों की मात्रा अधिक होती है।

ImageCourtesy@gettyimages

Read More Articles On Heart Health In Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES21 Votes 8260 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर